नहीं रहे महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज। आंइस्टीन को चुनौती देने वाले  बिहार के भारतीय गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह नहीं रहे। पटना के पीएमसीएच में उन्होंने अंतिम सांसे ली। वे कई दिनों से वशिष्ठ नारायण सिंह बीमार चल रहे थे।

वशिष्ठ नाराय़ण सिंह अपने परिजनों के संग पटना के कुल्हरिया कंपलेक्स में रहते थे। बताया जा रहा है कि आज उनकी तबियत खराब होने लगी, जिसके बाद तत्काल परिजन पीएमसीएच लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

पिछले एक पखवारे पूर्व वे बीमार पड़े थे तब पीएमसीएच में नेताओं का तांता लगा था। बिहार के मुख्यमंत्री से लेकर केंद्रीय मंत्री तक उन्हें देखने गए थे। वहीं प्रकाश झा ने फिल्म बनाने की घोषणा कर रखी थी। आरा के बसंतपुर के रहने वाले वशिष्ठ नारायण सिंह बचपन से ही होनहार थे।

वशिष्ठ नारायण सिंह का जन्म 1946  भोजपुर जिले के वसंतपुर गांव में हुआ था। वे अपने गणित के ज्ञान की वजह से युवा अवस्था में ही खूब सुर्खियां पायीं।

नेतरहाट स्कूल से इंटर स्टेट टॉपर बने। 19 वर्ष की उम्र में पटना यूनिवर्सिटी से जब उन्होंने बीएससी और एमएससी किया, तो इसकी चर्चा सारे देश में हुई।

1969 में वे अमेरिका की कैलिर्फोनिया यूनिवर्सिटी से पीएचडी पूरी की। इसके बाद वे वाशिंगटन यूनिवर्सिटी और नासा से जुड़ कर काम किया।

Related News:

निज़ी स्कूलों के मनमानी से मिलेगी निजात, कमिटी करेगी फ़ैसला
बाहुबली विधायक अनंत सिंह के घर से AK-47 बरामद, छापामारी जारी
बिहारी नेताओं को क्यों नहीं पच रहा अखिलेश सिंह का यह सच
रिम्सः लालू यादव के पेईंग वार्ड में 3 दिनों से पानी नहीं, प्रबंधन पर उठे सवाल
टीकाकरण से बच्चों की बिगड़ी हालत, 3 की मौत, 5 गंभीर, सीएम ने जताई चिंता
राजस्थान के IPS अफसर से ठगी करने वाले 4 साइबर अपराधी राजगीर में धराये
हर तरफ ओडीएफ के नाम पर हो रहा सिर्फ लूट-खसोंट
हरनौत MLA फंड से भोभी में हाई स्कूल भवन के नाम पर बना लाखों का जर्जर भूत-बंगला
विकास के पापाओं को यूं मुंह चिढ़ा रहा है विश्वविख्यात नालंदा रेलवे स्टेशन
प्रशासनिक फेरबदल का नालंदा में व्यापक असर, 2-2 DSP-SDO हटे, राजगीर में हर्ष का माहौल
बागवानी मिशन की जांच के दौरान भंडारण गृह में मिले प्याज की जगह कहीं भूसा तो कहीं मवेशी !
महिषासुर शहादत दिवस पर बोले उनके अनुयायी- बंद हो हत्या का जश्न
पटना प्रमंडलीय आयुक्त का आदेश: 11 जुलाई तक राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि से हटायें अतिक्रमण
विधानसभा में विपक्ष को सीएम की सीधी गाली के बाद उबली राजनीति
सरकारी शब्द ‘अंश’ का दंश झेलने को विवश हैं इस गांव के रैयत
पूर्व सीओ का मीडिया प्रेम और दोबारा विदाई बना चर्चा का विषय
पूर्व में भी हुई थी पुलिस की रामजनम यादव गिरोह से मुठभेड़
अब रांची के अरसंडे में एक ही परिवार के 7 लोगों ने की आत्महत्या
सीएम नीतिश कुमार के लिये 'न उगलते न निगलते' बन रहे दुलारचंद यादव !
बिहार-तंत्र यूं डकार रहा स्वच्छ भारत का शौचालय, नालंदा अव्वल
तेजस्वी यादव होंगे बिहार विधान सभा में प्रतिपक्ष नेता
प्रायवेट स्कूल की छत से गिरी छात्रा, रीढ़ की हड्डी टूटी, स्कूल नहीं ले रहा सुध
रात अंधेरे बारात ले-जा रही बीडीओ का सरकारी वाहन हुआ चूर, चालक समेत 2 घायल
झारखंड में विपक्ष की भूमिका शून्य :कृतिवास मंडल
निजी खुन्नस में पत्रकार को फंसाया, कोल्हान DIG से मिलेंगे :अनंत राम टुडू
मलमास मेला देख बहनोई संग घर लौट रही युवती के साथ गैंगरेप, एक धराया
पश्चिम बंगाल तट से टकराया फानी, संकट टला, लेकिन आंधी-बारिश की आशंका
कैमरे को भा रही है राजगीर-पांडु पोखर, आज ‘जोगिया ओ जोगिया’ एल्बम की हुई शूटिंग
जिला परिषद-प्रशासन के लिये चुनौती बना थाना का अदद पुलिस कांस्टेबल
हंगामा, मारपीट, उपद्रव व आगजनी के बीच भारत बंद का बिहार में व्यापक असर
रांची में सेक्स रैकेट का खुलासाः मजबूरी में नहीं, शौक से करती है जिस्मफरोशी
राजगीर पुलिस फिर निकम्मी, शराबी बदमाशों ने महादलितों को दौड़ा-दौड़ा पीटा
झारखंड महामहिम को भावुक कर गई इस छात्रा के सबाल
भाकपा (माले) ने भुड़कुड़ में दबंगों के खिलाफ भरी हुंकार
नालन्दा भाजपा बनी जदयू की पिछलग्गू, जनाधार वाले 7 नेता हुए बाहर
जमुई डीएम ने पुलिस के बल अपनी पत्नी को यूं किया जिला बदर
खूंटी में 4 जवानों के अगवा कांड में वरिष्ठ भाजपा सांसद कड़िया मुंडा रिश्तेदार भी शामिल
अनादि काल से अध्यात्म का प्रमुख केन्द्र है राजगीर     
1.36 करोड़ के चावल घोटालाबाज नगरनौसा प्रखंड का पूर्व प्रमुख राजेश लाल पुनः धराया
पेड़ से यूं लटके मिले युवक-युवती का शव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...