Home पटना

पूर्व आईपीएस अमिताभ कुमार दास करेंगे बतख मियां पुरस्कार की स्थापना

पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज़ नेटवर्क ब्यूरो)। बिहार काडर के 1994 बैच के आईपीएस रहे अमिताभ कुमार दास एक सामाजिक पहल करने जा रहे हैं। वे साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए तथा शासन काल में नील फैक्ट्री के मैनेजर इरविन के यहां काम करने वाले आजादी की लड़ाई का एक गुमनाम हीरो बतख मियां के नाम पर बतख मियां पुरस्कार स्थापित करने जा रहे हैं। यह पुरस्कार अगले साल से महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्तूबर से शुरू होगी। जिसमें चयनित सम्मानित व्यक्ति को एक लाख रूपए नकद तथा एक प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा। हालांकि सीएम नीतीश कुमार चंपारण सत्याग्रह की शताब्दी में करोड़ों रुपए खर्च किए, लेकिन चंपारण के नायक बतख मियां के परिवार की सुधि नहीं ली नहीं। कौन थे बतख मियां:  महात्मा गांधी को रास्ते से हटाने के लिए नाथूराम गोडसे से पहले भी छह बार कोशिश की गई थी। 1917 में चंपारण में अकेले दो बार उनकी हत्या का प्रयास किया गया। जहां बतख मियां ने महात्मा गांधी की जान बचाने का प्रयास किया। महात्मा गांधी जब चंपारण आएं थे, तब महात्मा गांधी मोतिहारी में थे। वहां नील फैक्ट्रियों के मैनेजरों के नेता इरविन ने उन्हें बातचीत के लिए बुलाया और सोचा कि अगर इस दौरान गांधी को खाने-पीने की चीज़ों में कोई ऐसा ज़हर दे दिया जाए, जिसका असर कुछ देर से होता हो, तो उनकी नाक में दम करने वाले इस आदमी की जान भी चली जाएगी और उनका नाम भी नहीं आएगा। इरविन ने इस काम के लिए अपने यहां काम करने वाले बतख़ मियां अंसारी को बताया। बतख़...

मेवालाल चौधरी का इस्तीफा मंजूर, डॉ. अशोक चौधरी को मिला शिक्षा मंत्री का प्रभार

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। बिहार में नई सरकार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बन गई है, लेकिन विवादों से दामन अब भी नहीं छूट रहा है। नीतीश सरकार में शिक्षा मंत्री बने डॉ. मेवालाल चौधरी भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण विरोधी दलों के निशाने पर हैं। इस बीच, मेवालाल चौधरी...

सिर मुड़ाते ओले पड़ेः पदभार ग्रहण के 3 घंटा बाद ही शिक्षा मंत्री मेवालाल को देना पड़ा इस्तीफा

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। बिहार के शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने आज गुरुवार को ही पद संभाला था। करीब तीन घंटे बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया। चौधरी ने नीतीश कुमार के साथ 10 नवंबर को कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली थी। मेवालाल चौधरी को कैबिनेट...

सबौर कृषि विश्वविद्यालय का सस्पेंड-भ्रष्टाचारी मेवालाल चौधरी को सीएम नीतीश ने बनाया शिक्षा मंत्री !

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। बिहार के सीएम नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के नेता मेवालाल चौधरी के सबौर कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति रहते सहायक प्रोफेसरों की नियुक्ति में भ्रष्टाचार का मामला साने आया था। इस मामले में इन पर एफआईआर भी दर्ज हुई थी। बिहार सरकार में मंत्री बनाए गए मेवालाल...

दरिंदगी की शिकार युवती ने दम तोड़ा, FIR के 18 दिन बाद भी बयान तक न ले सकी नकारा पुलिस

हाजीपुर {राजेन्द्र कुमार}। वैशाली जिले के देसरी थाना के चांदपुरा ओपी अतर्गत रसूलपुर हबीब गांव मे 30 अक्टूबर को एक गरीब युवती के घर के बगल के ही युवकों ने जबदस्ती इंज्जत लूटने की कोशिश की और विरोध करने पर उसे केरोसिन तेल छिड़ककर जिंदा जला दिया गया। उसके बाद उसे...

सातवीं बार सीएम बने नीतीश कुमार, लेकिन भाजपा ने खड़ा किया दो चौकीदार

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। बिहार विधानसभा चुनाव में 125 सीटों पर जीत दर्ज करने के बाद आज नीतीश कुमार ने सातवीं बार बिहार में मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली है। उनके अलावा 14 और विधायकों और एमएलसी ने मंत्री पद की शपथ ली है। नीतीश कुमार की कैबिनेट पूरी तरह...

नीतीश कुमार के साथ शुशील मोदी ही हाँकेगें बिहार की बैलगाड़ी !

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। बिहार विधानसभा चुनाव के बाद रविवार का दिन बहुत अहम है। नीतीश कुमार जदयू विधायक दल के साथ ही एनडीए विधायक दल नेता चुन लिए गए हैं।  पार्टी सूत्रों के अनुसार एनडीए विधायक दल के बाद उपमुख्यमंत्री के तौर पर शुशील मोदी पर हीं सहमती बनी...

एक नजर...

टॉप ट्रेंड

loading...

Editorial / संपादकीय

सातवीं बार-नीतीशे कुमार? विपक्ष को मछली दिखा, आँख नहीं!

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। बिहार में वही हुआ, जिसकी प्रबल आशंका थी। ‘मोदी पर घेरा नहीं, नीतीश पर वार’। इस चुनावों में हर पल विपक्ष गलती दर गलती करता रहा। उस आदमी से पूरी तरह विमुख है, जिसने येन केन प्रकारेण इंडिया की आधी और भारत की लगभग पूरी आबादी के दिमागों में अपनी छद्म छवि घुसा दी है। भारत के मतदाता की मजबूरी और लालच का मानचित्र उस व्यक्ति ने भलीभाँति समझा है। ऐसे व्यक्ति को छोड़ आप हमला उस पर कर रहे हैं जो स्वयं ही जा रहा है। इस बेवकूफी का नतीजा जो आया वह सबके सामने है। सबसे...

Popular News categories

फीचर्ड (5022)देश (4437)हमारी नजर (3707)सरकार (2841)समस्या (2789)प्रशासन (2768)नालंदा (2652)पटना (2137)अपराध (2027)बिहार (1553)राजनीति (1297)विशेष खबर (1185)पुलिस (1076)रांची (1067)झारखंड (1053)आस-पड़ोस (1047)भ्रष्टाचार (994)वारदात (831)बोलती तस्वीरें (679)शिक्षा (626)गांव-देहात (607)आधी आबादी (510)जरा हटके (463)जमशेदपुर (433)सरायकेला-खरसावां (348)स्वास्थ्य (331)कारोबार (273)हादसा (245)मीडिया (244)कला-संस्कृति (238)जरा देखिए (225)पर्यटन (188)धर्म-कर्म (187)पर्यावरण (134)सोशल साइट (102)खेती-बारी (93)दो टूक (92)बिग ब्रेकिंग (70)मुजफ्फरपुर (66)गिरीडीह (58)नवादा (57)मनोरंजन (51)गया (42)धर्म (41)धनबाद (39)खेल-कूद (39)आवागमन (38)हजारीबाग (36)कोडरमा (36)गोड्डा (34)अन्य राज्य (31)बांका (31)बिहार विधानसभा चुनाव डेस्क (28)मुंगेर (27)भागलपुर (26)पलामू (25)जमुई (24)धरोहर (20)दुमका (19)

दो टूक

चुनाव परिणामों-विश्लेषकों की अलटी-कलटी और चिड़ियाँ फुर्र…!

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। ओपिनियन पोल, एग्जिट पोल, काउंटिंग ट्रेंड और एक्जेक्ट रिज़ल्ट। हर चुनाव की वो स्टेप्स हैं, जिनको नापना चुनाव विश्लेषक की ज़िम्मेदारी और शगल होता है। हकीकत में उन्हें उड़ती चिड़िया को देखकर बताना होता है कि वो किस डाल पर बैठेगी। अब चिड़िया है कि कई बार...

Mukesh Bhartiy / मुकेश भारतीय

Ceo_Cheif Editor

@Expert Media News Network Pvt. Ltd. Contact: 08987495562