क्या ये भयानक आकड़ें बिहार में शराबबंदी पर सरकारी शिकंजा बताती है?

 
Do these horrific statistics show the government's crackdown on liquor prohibition in Bihar

पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। बिहार में पिछले डेढ़ दशक से पदस्थ  नीतीश सरकार लाख दावे कर ले, लेकिन कटु सत्य तो यह है कि यहाँ शराबबंदी के बीच एक बड़ा काला कारोबार अमरवेल की तरह पनप चुका है, जिसे नष्ट करना या उसपर काबू पाना शासनिक तंत्र के बूते के बात नहीं रह गई है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार बिहार राज्य में शराबबंदी के बाद दूसरे प्रदेशों से चोरी-छुपे शराब की खेप बिहार लाई जाती है। इसमें छोटी गाड़ियों से लेकर ट्रकों तक का इस्तेमाल होता है।

Do these horrific statistics show the government's crackdown on liquor prohibition in Bihar

बड़ी खेप लाने का जरिया ट्रक ही हैं। तस्करी के इस नेटवर्क पर पुलिस की मद्यनिषेध इकाई की पैनी नजर रख रही है।

पुलिस की मद्यनिषेध इकाई की कार्रवाई के दौरान पिछले 23 महीने में शराब की खेप के साथ 276 ट्रकें पकड़ी गईं। इनमें 74 ट्रक साल 2020 के दौरान जब्त हुए।

वहीं इस वर्ष नवम्बर तक 202 ट्रकों से शराब बरामद की गई। यानी पिछले साल के मुकाबले करीब तीन गुना अधिक शराब लदे ट्रके जब्त हुए हैं।

यह आंकड़ा नवम्बर तक का है। साल के आखिरी महीने में भी कई ट्रक जब्त हो रहे हैं। लिहाजा साल के अंत तक यह संख्या और भी बढ़ेगी। ट्रक, शराब तस्करी का सबसे बड़ा जरिया है।

Do these horrific statistics show the government's crackdown on liquor prohibition in Bihar

सरकारी आंकड़े बताते हैं कि पिछले वर्ष ट्रकों से 266734 लीटर देसी-विदेशी शराब के साथ स्प्रीट बरामद हुई। वहीं इस वर्ष नवम्बर तक पकड़े गए 202 ट्रकों से 756603 लीटर शराब व स्प्रीट मिली है।

दोनों वर्ष के आंकड़ों को मिला दें तो इसमें 774386 लीटर विदेशी, 11200 लीटर देसी और 237752 लीटर स्प्रीट की बरामदगी हुई।

ट्रक के जरिए शराब की तस्करी में लिप्त लोग भी बड़ी संख्या में गिरफ्तार किए गए हैं। पिछले वर्ष से बीते माह तक ट्रक से शराब की तस्करी के आरोप में 719 लोगों की गिरफ्तारी हुई है।

बहरहाल, उपरोक्त आकड़ें साफ स्पष्ट करती है कि बिहार में शराब का काला कालोबार किस हद तक फैल गई है। शराब की बिक्री या सेवन में यहाँ कोई कमी नहीं आई है। बल्कि शराब माफियाओं ने सरकारी तंत्र की मिलीभगत से शराबबंदी को ही हाईजैक कर लिया है।