राजभवन से शुरू होती है बिहार की उच्च शिक्षा की बदहाली की कहानी : ज्ञान रंजन

 
राजभवन से शुरू होती है बिहार की उच्च शिक्षा की बदहाली की कहानी

पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज़ नेटवर्क)। राजभवन ने छपरा के जयप्रकाश विश्वविद्यालय में उतर पुस्तिका घोटाले के मुख्य आरोपी डॉ. रवि प्रकाश बब्लू को मगध विश्वविद्यालय का प्रभारी कुलसचिव बनाया है। जबकि उनके खिलाफ निगरानी थाना कांड संख्या 10/15जीवी में चार्जशीट हैं और पिछले  महीने ही मगध विश्वविद्यालय के कुलसचिव सहित चार पदाधिकारी भ्रष्टाचार के मामले में जेल भेज दिए गए हैं।

राजभवन से शुरू होती है बिहार की उच्च शिक्षा की बदहाली की कहानी

उनके जगह पर फिर से भ्रष्टाचार के मामले में चार्जशीटएड व्यक्ति जो अभी वर्तमान में जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा के कुलसचिव है उनको ही मगध विश्वविद्यालय का प्रभारी कुलसचिव आज राजभवन ने नियुक्त कर दिया है। उनकी नियुक्ति अब विवादों में घिर गई गई है।

बिहार प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ज्ञान रंजन ने डॉ रवि प्रकाश बबलू को प्रभारी कुलसचिव मगध विश्वविद्यालय बनाने पर राजभवन पर सवाल खड़े करते हुए यह बताया कि बिहार में उच्च शिक्षा काई जो बदहाली है उसकी पटकथा राजभवन से लिखी जा रही है। लगभग पिछले 3 महीनों से राजभवन बिहार में उच्च शिक्षा की बदहाली की जो नई नई रोज गाथा लिखे जा रही है वह अब पूरे देश की पटल चित्र पर सामने हैं और लोगों को भी आश्चर्य नहीं की बिहार में उच्च शिक्षा का इतना बुरा हाल क्यों है! 

उन्होंने कहा कि राज्य में क्या सच्चे निष्ठावान योग्यतापूर्ण प्रोफेसर नहीं है जो कुलसचिव बिहार के विश्वविद्यालय का बनाया जाए या फिर कुलसचिव बनने की योग्यता सिर्फ उन प्रोफेसरों का है जो राजभवन का सात फेरे लेते हैं।

उन्होंने बताया कि राजभवन ने भ्रष्टाचार के मामले में चार्जशीटेड( जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा उत्तर पुस्तिका घोटाले के मुख्य आरोपी निगरानी थाना कांड संख्या 10/15 जीवी में चार्जशीटेड डॉ रवि प्रकाश बबलू को प्रभारी कुलसचिव मगध विश्वविद्यालय बनाया हैं।

राजभवन से शुरू होती है बिहार की उच्च शिक्षा की बदहाली की कहानी

पिछले महीने ही मगध विश्वविद्यालय के कुलसचिव सहित चार पदाधिकारी भ्रष्टाचार के मामले में जेल भेज दिए गए हैं। उनके जगह पर फिर से भ्रष्टाचार के मामले में चार्जशीटएड व्यक्ति, जो अभी वर्तमान में जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा के कुलसचिव है, उनको ही मगध विश्वविद्यालय का प्रभारी कुलसचिव आज राजभवन ने नियुक्त कर दिया है।

कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता ने बताया कि भ्रष्टाचार के मुख्य आरोपी और चार्जशीटेड डॉ रवि प्रकाश बबलू की उनके नियुक्ति को लेकर जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा में छात्र संगठनों के द्वारा लगातार आंदोलन किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जिस राजभवन से बिहार में उच्च शिक्षा की प्रणाली को सुधार होना चाहिए था ताकि बिहार में उच्च शिक्षा में गुणवत्ता, समय और सुचारू रूप से चल सके या राजभवन से ही बिहार में उच्च शिक्षा मेंं भ्रष्टाचार की पटकथा का सृजन हो रहा है।

उन्होंने यह सवाल उठाया कि कब तक राजभवन भ्रष्टाचार में लिप्त आरोपियों को राजभवन के परिक्रमा करने वाले को पुरस्कृत करते आएंगे ? जेपीयू के कुलसचिव के खिलाफ पहले से पटना हाई कोर्ट में सुनवाई चल रही है कुलसचिव नियुक्ति को लेकर। तब तक दूसरे विश्वविद्यालय में भी प्रभारी कुलसचिव बना दिया गया है। हद हो गया भ्रष्टाचार का खुल्लम खेल चल रहा है।

कांग्रेस प्रवक्ता ने डॉ रवि प्रकाश बबलू को मगध विश्वविद्यालय का प्रभारी कुलसचिव से तुरंत हटाए जाने की मांग की और कहा कि  पाटलिपुत्र की धरती ने विश्वख्याति प्राप्त नालंदा विद्यालय जैसे शिक्षा प्रणाली हुआ करता था। आज उसी की इस धरती पर उच्च शिक्षा का जो चीरहरण रोज हो रहा है। जिसका जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ मौजूदा सरकार,शिक्षा विभाग और राजभवन में भ्रष्टाचार की जड़े हैं।