वैदिक मंत्रोच्चार के साथ शूरू हुआ विश्व प्रसिद्ध पितृ पक्ष मेला

Share Button

गया से एक्सपर्ट मीडिया न्यूज के लिए  जयप्रकाश की रिपोर्ट…..

बिहार का राजकीय और  विश्व प्रसिद्ध पितृपक्ष मेला का उद्घाटन मंगलवार को राज्य के नए डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने की।इस उद्घाटन के साथ ही ‘मोक्ष की नगरी’गया में एक पखबारे तक चलने वाली राजकीय  पितृ पक्ष मेला का अगाज हो गया ।मेले में पहुँचे विद्वान पंडितों ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ मेले की शुरुआत की।

बुधवार  को गया के फल्गु नदी पर स्नान के साथ ही श्राद्ध एवं तर्पण की शुरुआत हो चुकी है ।गुरुवार को प्रेतशिला की सभी वेदियों पर पिंडदान का विधान है ।

मंगलवार देर शाम डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, पूर्व सीएम जीतन राम मांझी, गया विधायक सह कृषि मंत्री प्रेम कुमार, पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार,  शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन वर्मा, प्रमंडलीय आयुक्त जितेन्द्र श्रीवास्तव, डीएम रवि कुमार, महापौर गणेश पासवान, उपमहापौर अखौरी ओकारनाथ के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित थे ।

उद्घाटन के बाद डिप्टी सीएम ने कहा कि गया की धरती पर आना उन्हें अच्छा लगता हैं । गया का पितृ पक्ष मेला सिर्फ बिहार में ही नहीं देश विदेश में प्रसिद्ध है । ऐसे में प्रशासन का दायित्व बढ़ जाता है कि मेले में आने वाले श्रद्धालुओं की सेवा करें उन्हें कोई परेशानी न हो।

मेला के उद्घाटन के बाद सभी आगंतुक अतिथियों ने विष्णु पद मंदिर परिसर में स्थित इंदौर की महारानी अहिल्या बाई होल्कर की स्थापित प्रतिमा पर माल्यार्पण किया ।

गौरतलब रहे कि गया का विश्व प्रसिद्ध विष्णु मंदिर का जीर्णोद्धार उन्होंने ही कराया था । अपने पितरों को मोक्ष दिलाने के लिए श्रद्धालुओं का गया आना शुरू हो गया है । पहले दिन पिंडदानी  पटना के पुनपुन नदी से कर्म कांड शुरू करते हैं ।वहाँ नहीं जाने वाले लोग गोदावरी तालाब से पिंडदान की शुरुआत करते हैं ।

पितृ पक्ष मेले की तैयारी को लेकर पहले से ही जिला प्रशासन, विष्णु पद प्रबंध कारिणी समिति तथा नगर निगम दिन रात एक किए हुए था । प्रमंडलीय आयुक्त जितेन्द्र श्रीवास्तव तथा डीएम रवि कुमार लगातार मेले की तैयारी को लेकर बैठकें कर रहे थे । मेले में साफ सफाई तथा अतिक्रमण हटाने पर भी विशेष ध्यान दिया गया है।मेले में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है ।

गया जिला प्रशासन का दावा है कि इस बार पितृ पक्ष मेला में लगभग आठ लोग पिंडदानी श्राद्ध के लिए गया पहुँचने की संभावना है ।डीएम ने कहा कि पितृ पक्ष में श्रद्धालु प्रत्येक वर्ष अपने पितरों को मोक्ष दिलाने के लिए लाखों की संख्या में गया आते हैं ।

डीएम ने कहा कि इस बार सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जाएगी ।किसी भी प्रकार की अफवाह उड़ाने वाले शरारती तत्वों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी ।

गया की एएसपी गरिमा मल्लिक ने बताया कि मेला क्षेत्र को 38 जोन में बांटा गया है । 70 अस्थायी शिविर बनाए गए है । जहाँ 24 घंटे हमारे पुलिस बल की तैनाती रहेगी। साथ ही दंगा निरोधक और सीआरपीएफ के जवान के साथ घुडसवार और पैंथर मोबाइल टीम की भी गश्ती रहेंगी ।

एएसपी मलिक ने भी कहा कि समाज की शांति व्यवस्था और सद्भावना को बिगाड़ने में अफवाह बड़ी वजह होती है।सोशल मीडिया पर अफवाह उड़ाने वाले लोगों पर पुलिस की नजर रहेंगी । इसके लिए आईटी सेल का गठन किया गया है ।

फिलहाल गया पिंडदानियों से गुलजार हो चुका है । सभी मंदिरों, पिंडवेदियों को आकर्षक ढंग से सजाया गया है ।देश के कई राज्यों से श्रद्धालु पिंडदान के लिए पहुँचे हुए हैं । वैदिक मंत्रोच्चार से गया गुंजायमान हो रहा है ।

Related Post

35total visits,1visits today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...