हिलसा RJD MLA ने नालंदा के 2 रिपोर्टर पर किया यूं 5 करोड़ मानहानि का केस

Share Button

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज। राजद प्रवक्ता एवं हिलसा विधायक अत्रीमुनि उर्फ शक्ति सिंह यादव ने नालंदा जिले के दो पत्रकारों सहित 4 लोगों ने खिलाफ 5 करोड़ रुपये की मानहानि का मुकदमा किया है।

 विधायक ने हिलसा अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में दायर परिवाद में लिखा है कि उनके पिता ब्रजनंदन सिंह यादव की प्राकृतिक मौत वृद्धावस्था के कारण विगत 2 सितंबर को हो गई थी और जिनका श्राद्धकर्म ब्रह्म भोज 14 सितबंर को पैत्रिक गांव चंडी थाना के विरनामा में आयोजित किया गया था।

परिवाद के अनुसार इस मौके पर गांव के विद्यालय परिसर में ग्रामीण, जिला एवं राज्य स्तर के सामाजिक कार्यकर्ता के साथ विभिन्न पार्टियों के नेता भी आमंत्रित थे तथा समय सीमा के अंदर करीब 25 हजार लोगों ने इस श्राद्धकर्म में हिस्सा लिया।

परिवाद में यह दावा किया गया है कि स्थानीय परंपराओं के अनुसार मृतात्मा की शांति के लिये निर्गुन भजन का आयोजन किया गया था, जिसमें एक भी महिला कलाकार नहीं थी। उसके आगे 15 सितबंर को बरखी,पीपल में जल का कार्यक्रम आयोजित था, जो शांति पूर्वक संपन्न हुआ।

परिवाद के अनुसार विधायक ने अपने पिता के श्राद्धकार्य से निवृत होकर 16 सितबंर को निकटतम संबंधियों के विदाई में मशगुल थे कि इसी दौरान करीब दोपहर में जानकारी मिली कि ईटीवी भारत पर दिखाया जा रहा है कि परिवादी अपने पिता के श्राद्धकर्म में बार बालाओं के नृत्य का आयेजन किये हैं तथा कहीं अन्यत्र के बार बालाओं के नृत्य भरा चित्र टीवी पर भी प्रदर्शित किया गया है।

उसके बाद 17 सितबंर की सुबह आज अखबार पढ़ना चाहा तो मोटे अक्षरों के शीर्षक “पिता के ब्रह्म भोज कार्यक्रम में विधायक ने कराया बार बालाओं का अश्लील डांस” तस्वीर सहित छपे मिले, जिसे पढ़कर राजद प्रवक्ता शक्ति यादव आवाक रह गए।

आगे लिखा है कि परिवादी हिलसा विधानसभा के लोकप्रिय विधायक तथा राजद के प्रदेश प्रवक्ता हैं, फलतः उन्हें संपूर्ण भारत के लोग टीवी के माधयम से जनते हैं और उनकी ख्याति है। उक्त दोनों घटना देखने-पढ़ने एवं जानने वाले लोग परिवादी के विरुद्ध तरह-तरह के सवाल पूछने लगे तथा छिंटाकशी करने लगे।

परिवादी ने न्यायालय में दावा किया है कि यह सब उनके मान-सम्मान का मर्द करने के उद्येश्य से एक साजिश के तहत किया गया है, जिससे उनकी ख्याति को काफी नुकसान हुआ है, जिसकी भरपाई 5 करोड़ रुपये से भी नहीं किया जा सकता है। इसे वे न्यायालय में प्रमाणित करने को तैयार हैं।

परिवादी विधायक ने 1. इ नायडू, मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी, इटीवी भारत, हैदराबाद, 2. स्थानीय संवाददाता, नालंदा, इटीवी भारत, 3. कोशलेन्द्र सिंह, स्थानीय संवाददाता, नालंदा, दैनिक आज, 4. मुख्य संपादक मगध संस्करण, दैनिक आज समाचार पत्र को अभियुक्त बनाया है।

वहीं गवाह के तौर पर 1. सतीश व्यास, मेदनीचक, करायपरसुराय, नालंदा, 2. सोनु चौहान, मिल्की, हरनौत, नालंदा, 3. श्रवण कुमार, 4. चन्द्र भुषण कुमार, 5. सुनील गोप (अंतिम सभी तीनों साकिन विरनामा, वेना (चंडी), नालंदा) बनाये गये हैं।

हालांकि, हिलसा विधायक शक्ति सिंह यादव द्वारा जिन दो मीडिया कर्मी की खबरों को लेकर 5 करोड़ से अधिक के सम्मान की हानि की बात कही गई है, उसके सामने आते ही मीडिया और राजनीति में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।

समान्यतः कहा जा रहा है कि अन्य कई बड़े मीडिया माध्यमों द्वारा भी उन सूचनाओं को प्रसारित-प्रकाशित की गई है, जिसका उल्लेख परिवाद में किया गया है। लेकिन उन बड़े संस्थानों का कहीं कोई जिक्र नहीं किया गया है। सीधा टारगेट एक औसतन दैनिक अखबार और एक वेबसाइट से जुड़े रिपोर्टर को किया गया है। 

      

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...