पाटलिपुत्र थाना में ही शराबी मुंशी गिरफ्तार, सिटी एसपी ने की कार्रवाई

Share Button

जब पुलिस वाले ही अपने थाने में सख्त कानून की धज्जियां उड़ाने लगें तो आम लोगों जर में मामला काफी संगीन होना स्वभाविक है………”

पटना सिटी एसपी सेंट्रल विनय तिवारी……..

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क (दीपक कुमार)। ताजा मामला राजधानी के पाटलिपुत्र थाना के मुंशी अरविंद कुमार पांडे का है। इस मुंशी के खिलाफ कई बार कई लोगों के द्वारा शिकायत की गई कि वह ड्यूटी के वक्त हमेशा शराब के नशे में धुत होकर थाना चलाते हैं। नशे में धुत मुंशी की हरकतों पर थानेदार से लेकर थाने के दूसरे पुलिसकर्मी नजरअंदाज कर खामोश बैठे रहे।

लेकिन जब इसकी पटना सेंट्रल सिटी एसपी विनय तिवारी मिली तो देर रात अचानक पूरे लाव लश्कर के साथ वे पाटलिपुत्र थाना पहुंच गए और थाने के एक एक स्टाफ के मुंह में ब्रेथ एनालाइजर लगाने का आदेश दे दिया। जिसमें थाने के मुंशी अरविंद कुमार पांडे को नशे के हाल में दबोच लिए गए।

थाने में मुंशी के खिलाफ ऐसी कार्रवाई पटना सिटी एसपी सेंट्रल विनय तिवारी के लिए  यह कोई नई बात नहीं है। इससे पहले भी बीते दिनों देर रात अचानक वे कदमकुआं थाना पहुंचे थे, जहां थानाध्यक्ष से लेकर थाना के पूरे स्टाफ के मुंह में ब्रेथ एनालाइजर लगाया गया था। लेकिन उस वक्त वहां कोई भी शराब के नशे में नहीं पकड़ा गया।

पाटलिपुत्र थाना के मुंशी अरविंद कुमार पांडे………….

उस वक्त भी पटना सिटी एसपी सेंट्रल विनय तिवारी को गुप्त सूचना मिली थी कि कुछ लोग थाने में शराब के नशे में धुत थाने को चला रहे हैं।

बता दें कि पाटलिपुत्र थाना के मुंशी अरविंद कुमार पांडे पर पहले भी कई बार आरोप लग चुके हैं कि वह नशे की हालत में फरियादियों के साथ हमेशा बदसलूकी करते हैं। कोई ऐसा ही फरियादी इनकी शिकायत लेकर आला अधिकारी तक पहुंच गया और नतीजा यह हुआ कि पटना सिटी एसपी सेंट्रल विनय तिवारी के अंततः हत्थे चढ़ गए।

इस पूरे मामले पर बात करते हुए पटना सेंट्रल एसपी विनय तिवारी ने कहा कि उस मुंशी के खिलाफ काफी शिकायतें आला अफसरों तक पहुंच रही थी। जिसके बाद पटना एसएसपी के निर्देश के बाद वे खुद पाटलिपुत्र थाना पहुंचे।

उन्होंने कहा कि मुंशी के बारे में काफी समय से बहुत सारी शिकायतें आ रही थी। इसके मद्देनजर एक टीम बनाकर वहां पर छापेमारी की तथा मशीन से जब उनका टेस्ट किया गया तो मुंशी के शराब पीने की पुष्टि हो गई।

उसके बाद हमने उन्हें मेडिकल जांच के लिए भेजा गया। जांच के क्रम में उनके ब्लड से शराब के होने की पुष्टि की गई। तत्पश्चात उन्हें हिरासत में ले लिया गया। केस दर्ज कर लिया गया है। अभी फिलहाल वह पुलिस कस्टडी में है।

Share Button

Related News:

पुलिस-पब्लिक फ्रेंडलीः एक कड़वा अनुभव
जमींदोज मिला प्रदेश जदयू छात्र नेता का शव, पुलिस पर लग रहे गंभीर आरोप
बच्चों के मानसिक विकास के लिये जरुरी है सांस्कृतिक कार्यक्रम
सूचना के बाद भी नही चेता बिजली विभाग, करंट लगने से मवेशी की मौत 
प्रशिक्षु SI-DSP से बोले बिहार DGP- ‘आत्मसात करें अनुशासन’
मौत का पुल बना चंदकुरा छिलकाः 2 सगे भाई की मौत बाद फिर हुआ हादसा
झारखण्ड में करोड़ों साल पहले भी थे घने जंगल
फागू बने बिहार के गवर्नर, लालजी गए एमपी, अन्य कई हुए ईधर-उधर
हरनौत में दो आंदोलनकारी किसानों की पुलिसिया गिरफ्तारी से आक्रोश का माहौल
राजगीर के अवैध होटलों-मकानों से बिजली-पानी कनेक्शन तक हटाने में विफल है प्रशासन !
NEET की रिजल्ट पर मदुरै HC की रोक, CBSE से 28 मई तक जवाब मांगा
10.77 एकड़ सरकारी जमीन लील गये बालू माफिया,एसडीओ बोले- होगी कड़ी जांच कार्रवाई
खुले में शौच जा रही लड़की को नोंच-नोंच कर खा गये कुत्ते, ओडीएफ घोषित था गांव
भारी विस्फोटक के साथ जमुई पुलिस के हत्थे चढ़े 4 हार्डकोर नक्सली
…और अब 'सन ऑफ मल्लाह' भी महागठबंधन में शामिल
पंचाने नदी से मिला अंकित का शव, माता-पिता की हालत गंभीर
शर्मीली परवीन ने उपमहापौर बन संभाली खानदानी विरासत
'यहां के मंदिर में रावण की पूजा करने वाले आज कोई खुशी भी नहीं मनाते'
गुंडागर्दी कर रहे हैं नालंदा छात्र जदयू के पदाधिकारीः  नवीन
जागरुकता से संभव है एसिड एटैक जैसे अपराध पर लगाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

loading...
Loading...