अलोकतांत्रिक प्रक्रिया को लेकर पूर्व उप महापौर ने दी कोर्ट जाने की धमकी

“कल महापौर वीणा कुमारी के खिलाफ एक साजिश के तहत अविश्वास प्रस्ताव सौपें गया था, जबकि इसके पूर्व यही वार्ड पार्षदों ने उप महापौर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला कर उन्हें कुर्सी से उतार दिया था….”

बिहार शरीफ से दीपक विश्वकर्मा की रिपोर्ट

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार शरीफ नगर निगम की महापौर वीणा कुमारी के विरुद्ध लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर राजनीत गर्म हो गई है।

पूर्व उप महापौर फूल कुमारी ने इस प्रकरण को नियम कानून को ताख पर रखकर किये जाने का आरोप लगते हुए न्यायालय की शरण में जाने की धमकी दी है।

इस सम्बन्ध में फूल कुमारी ने नगर आयुक्त को पत्र सौपा है। पत्र में अधिसूचना का हवाला देते हुए कहा गया है कि नगर विकास विभाग की अधिसूचना संख्या 4, जो बिहार नगरपालिका अधिनियम 2007 की धारा 25 चार एवं धारा 419 द्वारा प्रदत शक्ति से प्रारूप के रूप में प्रकाशित है।

महापौर वीणा कुमारी……………

इस नियमावली के अंतर्गत महापौर एवं उप महापौर के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाने की प्रक्रिया तैयार की गई है। अविश्वास प्रस्ताव प्रक्रिया नियमावली की धारा 2 धारा में स्पष्ट उल्लेख किया गया है कि मुख्य पार्षद द्वारा REQUISITION की प्राप्ति के 7 दिनों के भीतर नगर स्थानीय निकाय की बैठक बुलाने के लिए सूचना निर्गत की जाएगी और सूचना निर्गत होने की तिथि के 15 दिनों के भीतर बैठक का आयोजन किया जाएगा।

अर्थात REQUISITION  से नोटिस के बीच का समय कम से कम 7 दिन तथा नोटिस से बैठक की तिथि 15 दिन के भीतर होनी चाहिए और यह बैठक मात्र 5 दिनों के भीतर ही बुला ली गई है जो नियमावली के विरुद्ध है।

उन्होंने महापौर को दी गई स्वयं उनके विरुद्ध तथा अविश्वास प्रस्ताव नियमावली संसोधन के अनुसार यदि महापौर के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव आता है तो उसे महापौर को संबोधित करना है।

पूर्व उपमहापौर फूल कुमारी……

इस आलोक में चुकी महापौर के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव आया है और बिहार शरीफ नगर निगम में उप महापौर का पद रिक्त है। तत्पश्चात नियम संवत तिथि का निर्धारण होना चाहिए। पर किसी भी स्थिति में 7 दिनों से पहले बैठक का आयोजन किया जाना नियम के विरुद्ध है।

नियमावली का हवाला देते हुए उन्होंने यह भी कहा है कि बिहार शरीफ नगर निगम में उप महापौर के निर्वाचन हेतु राज्य निर्वाचन चुनाव आयोग द्वारा 24 जुलाई को तिथि निर्धारित की गई है। तदनुसार हम सभी वार्ड पार्षदों को नोटिस भी प्राप्त हो चुका है।

ऐसी परिस्थिति में महापौर के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाकर उसकी तिथि 22 जुलाई करने से न केवल उप महापौर के चुनाव प्रभावित होंगे, बल्कि सरकार द्वारा पारित अध्यादेश का भी उल्लंघन होगा एवं प्रजातांत्रिक प्रक्रिया की अनदेखी होगी, जो भारतीय संविधान के अनुसार स्वच्छ चुनाव प्रक्रिया का हनन माना जाएगा। इसलिए महापौर के अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के बाद ही इसकी बैठक होनी चाहिए।

उन्होंने कहा है कि नगर आयुक्त को प्रस्तावित बैठक करने का दायित्व है। इसीलिए उन्हें नियम एवं विधि से अवगत करा दिया जाए, ताकि जानबूझकर नियम का उल्लंघन न हो और मामला न्यायालय के अधीन न जाए।

उन्होंने नगर आयुक्त से अनुरोध किया है कि अविश्वास प्रस्ताव के संचालन की पूरी प्रक्रिया नियम और विधि के आलोक में किया जाए, ताकि सभी लोगों को न्याय मिल सके।

Related News:

शरद की महापंचायत के निशाने पर होगी नीतिश की महादलित राजनीति
मलमास मेला भूमि अतिक्रमण मामले में नपे राजगीर सीओ, वेतन से वसूली गई दंड राशि
सुशील मोदी जी, इस ऑडियो को सुन कर बताईये-एक किसान की हैसियत क्या है?
पुलिस की नजर से नहीं बच सका फर्जी आइएएस, धराया
अब महिला जिला पार्षद की आपत्तिजनक फोटो वायरल
पूर्व सैनिक की हत्या या आत्महत्या! मामला संदिग्ध
टिकट दलालों का अड्डा बना हज़ारीबाग़ रोड रेलवे स्टेशन, लोग हलकान
झारखंड जदयू अध्यक्ष पूर्व मंत्री जलेश्वर महतो कांग्रेस में शामिल
जरा पुलिस सेवा से लैंड इस माननीय के प्रवासी गांव का हाल देखिए!
करोड़ों खर्च के बाबजूद पीने को एक बूंद पानी मयस्सर नहीं
विधानसभा चुनाव के पहले कुर्मी जाति को मिलेगा एसटी का दर्जा, अन्यथा नहीं मांगेंगे वोट :अर्जुन मुंडा
अंततः रौशन ने बिहार परीक्षा बोर्ड और हेडमास्टर को कोर्ट में घसीटा
जर्जर बिजली तार से निकाली चिंगारी, किसान की फसल हुई राख
गोड्डा के गांधी मैदान में अनोखा पर्दशन, किया पुरुष आयोग की मांग
नालंदा का अस्थावां है पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा का पैतृक गाँव
वृद्ध शिक्षक की पीट-पीट आंख फोड़ हुई है हत्या
पूर्व जिप अध्यक्ष तनुजा कुमारी का प्रदेश जदयू पंचायती राज महासचिव पद से इस्तीफा
नीमगंज टीओपी प्रभारी की हीटर पर खाना बनाते करंट लगने से मौत, लेकिन मामला काफी संदिग्ध
पार्टी ऑफिस की जमीन खरीदारी में काला धन लगा रही भाजपा !
अफसरों की भ्रष्ट धूर्तता पर यूं झुंझलाए विधायक अमित महतो
बालू माफियाओं पर गरम,पत्थर माफियाओं पर नरम, कैसा सुशासन?
एक युवती द्वारा इस सीओ की यूं सरेआम पिटाई, लगे गंभीर आरोप, देखें वीडियो
इस सड़क हादसे ने खोली पुलिस लाइन डीएसपी की मनमानी की फिर पोल
रात अंधेरे बारात ले-जा रही बीडीओ का सरकारी वाहन हुआ चूर, चालक समेत 2 घायल
अवैध तस्करी का उद्भेदन, हथियार, शराब व नगद समेत 4 धराये
भाजपा नेत्री की सनसनीखेज डर्टी गेम, भाजयुमो नेता को यूं सेक्स नेट में फंसाया
मानव श्रृखंला के मौके पर युगल जोड़ी ने की दहेजमुक्त शादी
निजी ठेकेदारी में खट रहे हैं बिहारशरीफ नगर निगम के ठेला-मजदूर
नए थानेदार को बड़ी सौगात, क्राइम ब्रांच के रिटायर्ड अफसर के घर भीषण चोरी
आखिर कब होगा आतंक के इस पर्याय का अंत !
किसानों की दूर होगी पटवन की समस्या, जगह-जगह होगी चेक डैम की व्यवस्था
इस बदतर झारखंड से बेहतर तो अविभाजित बिहार ही था: बागुन सुम्ब्रुई
पूर्व नक्सली की हत्या के बाद सरिया क्षेत्र में भय का माहौल, बीती रात हुई गोली मार हत्या
आपूर्ति विभाग-डीलरों की साठगांठ से यूं लुट रही है गरीबों का निवाला!
BJP MLA की गुंडई, मैनेजर को लात-घूसों से पीटा, CCTV में यूं हुए कैद
‘सर’ आनंद का आक्रोश टपका तो पुलिस समझ गई ‘चोर की दाढी में तिनका’
डीएम के आश्वासन की घूंटी के बाद चंडी पंसस के इस्तीफे का हुआ पटाक्षेप
भारत सरकार का ऐय्याश भगोड़ा विजय माल्या लंदन में गिरफ्तार
चोरी की बढ़ती घटनाओं से लोग भयभीत
यूं जान ले रही है हाई वोल्टेज करंट तार, उधर बेसुध है विभाग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...