साक्ष्य के अभाव में CBI कोर्ट से कुख्यात नक्सली कुदंन पाहन रिहा!

“वर्ष 2009 में नामकुम थाना के लाली क्षेत्र में पुलिस और माओवादिओं के बीच हुई मुठभेड़ में कई पुलिसकर्मी और माओवादी घायल हुए थे….”

रांची (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। समूचे झारखंड में आतंक का पर्याय माने जाने वाले कुख्यात नक्सली कुंदन पाहन को सीबीआई कोर्ट से राहत मिली है।

साल 2009 में नामकुम थाना क्षेत्र के लाली गांव में पुलिस और माओवादियों के बीच हुए मुठभेड़ केस में साक्ष्य के अभाव में कोर्ट नक्सली कुंदन पाहन को बरी कर दिया है।

इस मामले की सुनवाई सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एसके सिंह की अदालत में हुई। अदालत ने दोनों पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद नक्सली कुंदन पाहन को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया।

 इस मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से 9 गवाहों की गवाही दर्ज कराई गई। वहीं बचाव पक्ष की ओर से 4 गवाहों की गवाही हुई थी।

2 मई को पुलिस और माओवादिओं के बीच मुठभेड़ मामले में कोर्ट में सुनवाई हुई थी। अदालत ने दोनों पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था। इस मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख 4 मई निर्धारित की गई थी।

आज शनिवार को कोर्ट में बहस के दौरान अभियोजन पक्ष ने अपनी दलील रखते हुए बताया कि मुठभेड़ रात में हुई थी। जिसके कारण वह किसी भी माओवादी को पहचान नहीं पाये।

वहीं बचाव पक्ष के अधिवक्ता प्रभु दयाल किशोर ने कोर्ट को बताया कि यह मुठभेड़ पूरी तरह से फर्जी है। उस रात किसी भी तरह की कोई मुठभेड़ नहीं हुई थी।

पिछली सुनवाई के दौरान नक्सली कुंदन पाहन की गवाही दर्ज कराई गई थी। जिस दौरान कुंदन पाहन ने न्यायालय को बताया था कि इस मुठभेड़ में वह शामिल नहीं था। इस मामले में उसकी कोई संलिप्तता नहीं है।

इसी मामले पर 2 मई को कोर्ट में सुनवाई हुई थी। जिसमें अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया है था।

2009 में नामकुम थाना क्षेत्र के लाली क्षेत्र में पुलिस और माओवादिओं के बीच मुठभेड़ का मामला सामने आया था। इस मुठभेड़ में कई पुलिसकर्मी और माओवादी घायल हुए थे।

मुठभेड़ के दौरान किसी भी माओवादी की पुलिस की ओर से गिरफ्तारी नहीं की गई थी। इस मुठभेड़ को लेकर पुलिस ने कुंदन पाहन समेत सात लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया है। जिनमें से कुंदन पाहन को छोड़ सभी अभियुक्त साक्ष्य के अभाव में पहले ही बरी हो चुके हैं।

Related News:

7 लीटर चुलाई शराब के आरोपी को 1 लाख के जुर्माना के साथ 10 साल की सज़ा
कहीं फिर खंडहर बन धाराशाही न हो जाए करोड़ों के आवास
विजातीय प्रेम विवाह पर बवालः हमला, पथराव और फायरिंग
समाज के प्रति मीडिया की भी जिम्मेवारीः रघुबर दास
झारखंड जदयू अध्यक्ष पूर्व मंत्री जलेश्वर महतो कांग्रेस में शामिल
कोर्ट में पेशी के दौरान पुलिस के कब्जे से भागा कैदी, बड़ी मशक्कत बाद धराया
सीएम समेत सभी मंत्री एक माह का वेतन करेंगे सेना के चरणों में अर्पित
लुप्त होती सबर जनजाति की एक युवती को नंगा घुमाया, रेप किया, पुलिस बता रही मामूली घटना
ईंट-चिमनी भठ्ठा से 40 कार्टून विदेशी शराब बरामद, कारोबारी फरार
बिहार के 40 सीटों पर सभी 7 चरणों में यूं होंगे चुनाव
जय श्री राम की गूंज पर यूं नाराज हुए मोहन भागवत, बोले-संघ का कोई नारा नहीं
ADG अनुराग गुप्ता पर 7 दिन में FIR दर्ज कर EC को सूचित करे झारखंड सरकार
अनंत सिंह-मंटू गोप गिरोह में झड़प के बाद सोनपुर मेला में हाई एलर्ट
नीतीश के 'पीके' बोले- प्रियंका गांधी राजनीति का बड़ा चेहरा
तल्ख माहौल के बीच नीतीशे कुमार, पक्ष में 131 और विरोध में 108 वोट
हाथ पैर बांध 7वीं की छात्रा से गैंगरेप, 4 युवकों ने भूसा घर में की दरींदगी
सुनिये ऑडियो- मुखिया ने कैसे दी शिक्षक को धमकी और फिर थाना में कराया रेप केस
खुद के विकास में रोड़ा बने दो गुटों में बंटे इस गांव के लोग
गौरीशंकर हत्याकांड के अभियुक्तों के खिलाफ होगी कुर्की की कार्रवाई
सीएम 7निश्चय कार्यक्रम पर बिचौलिया हावी- ‘25 हजार दो, 2 लाख लो’
जरा पुलिस सेवा से लैंड इस माननीय के प्रवासी गांव का हाल देखिए!
पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के घर से CBI को मिले 40 कारतूस समेत अहम सुराग
दो भ्रष्ट इंजीनियर को 88 हजार की घूस लेते  निगरानी ने दबोचा
राजगीर ब्रह्मकुंड सूखने की वजह, गर्म पानी उगलते मिले ये डीप बोरिंग
बिना माय-बाप के चल रहा है नगरनौसा प्रखंड शिक्षा कार्यालय
बुनियादि सुविधाओं से महरुम सरिया में बैंकों की लच्चर व्यवस्था से लोग त्रस्त
खुद की सरकार पर यूं प्रहार कर रहे हैं झारखंड के वरिष्ठ मंत्री सरयु राय
पुलिसिया डंडे का शिकार हुआ निर्दोष युवक कहा- सर कारण तो बताईये सर
सिलाव में 7 लाख रुपये व शराब समेत दबोचे गये थे हथियार कारोबारी !
टाटा मोटर्स के 'गुंडों' ने आंदोलनकारी भाजपाईयों को यूं धकियाया, कईयों को आई गंभीर चोंटे
MLA अशोक सिंह हत्याकांड में  Ex. RJD MP प्रभुनाथ सिंह दोषी करार, गये जेल
कागजी घोड़ा पर सवार राजगीर नगर पंचायत हुआ यूं ओडीएफ
‘कॉरपोरेट क्रिकेट लीग’ के नाम पर मनीषा-चिरंतन ने खेला ‘लंबा खेल’
सोगरा वक्फ स्टेट के मोतवली ने कहा- दीमक खा गए सारे कागजात
शोषित दलितों के मामले को लेकर जांच टीम गठित
अगर जाति और पेशे की स्टीरियोटाइपिंग ही करनी है तो सबकी कीजिए
हजारीबाग भाजपा जिलाध्यक्ष ने वरीय भाजपा नेता को घर से उठवा कर दी जान मारने की धमकी
ई नगरनौसा बीडीओ के सोझे कुछो न लौकअ हय का ?
रेलकर्मी को बंधक बना लाखों की गोदाम लूट का खुलासा, 4 धराए
आपूर्ति निरीक्षक के सप्रमाण अनुसंशा के बाबजूद नहीं नपा डीलर !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...