रूखाई पैक्स गोदाम में महीनों से जारी था शराब का यह बड़ा गोरखधंधा, संदेह के घेरे में पूर्व अध्यक्ष

Share Button

बिहारशरीफ (प्रमुख संवाददाता / जयप्रकाश नवीन)। शराब बंदी कानून लागू होने के बाद शराब माफियाओ पर नकेल कसने के लिए जिला प्रशासन के सख्त रूख के आगे शराब माफियाओं की एक नही चल रही है। बाबजूद जिला प्रशासन डाल -डाल तो शराब माफिया भी पात -पात वाली कहावत को चरितार्थ कर रही है। शराब माफिया शराब के तस्करी के लिए एक से एक हथकंडे अपना रही है। एक से एक जुगाड भिडा रही है। अभी  तक शराब लाने के लिए माफिया गैस सिलेंडर का उपयोग कर रहे थे तो वही फ्रीज की आड़ में शराब की तस्करी से जिला प्रशासन भी अंचभे में हैं ।

नालंदा के चंडी थाना क्षेत्र के रूखाई में पैक्स गोदाम में रखे गए 100 कार्टन से भी ज्यादा बरामद शराब के बाद पुलिस के जेहन में कई सवाल कौंध रहे होंगे। वही ग्रामीण भी जानना चाह रहे हैं कि आखिर कौन लोग शराब के धंधे में संलिप्त हैं ।

पैक्स चुनाव के ढाई साल बाद भी उक्त पैक्स कार्यालय तथा गोदाम पर पूर्व पैक्स अध्यक्ष का कब्जा सबसे बड़ा सवाल पैदा करता है।आखिर ढाई साल बाद भी वर्तमान पैक्स अध्यक्ष को प्रभार क्यों नही सौंपा गया ।

जबकि बताया जाता है कि पैक्स अध्यक्ष प्रभार के लिए जिला प्रशासन से गुहार लगा चुके हैं । चुनाव पूर्व पूर्व पैक्स अध्यक्ष इस पैक्स भवन में मतदान केंद्र बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक दिया था ।

दूसरा सवाल आखिर किस हैसियत से एक सरकारी भवन को बिना किसी लिखित कागजात के किसी को किराये पर लगा दिया गया?  यह सवाल भी लोगों के जेहन में कौंध रहा है । अगर पैक्स भवन को किराये पर दिया गया तो किस उद्देश्य के लिए यह बात सामने नही आ पाई है।

यहाँ बताते चले कि दो साल पूर्व पुरातत्व विभाग की टीम जब गाँव में ऐतिहासिक पुरास्थल की खुदाई के लिए पहुँची थी तो इसी पैक्स भवन में रूकी थी। खुदाई से निकली सभी पुरातत्व सामग्री को यही रखा गया था। पुरास्थल की खुदाई की सूचना पर तत्कालीन डीएम बी कार्तिकेय भी रूखाई पहुँचे थे ।

यह भी पढ़े  डीएम के आश्वासन की घूंटी के बाद चंडी पंसस के इस्तीफे का हुआ पटाक्षेप

उन्होंने पुरातत्व टीम से  पैक्स गोदाम में रखे सभी सामग्रियों की बारीकी से जानकारी हासिल की थी। लेकिन कौन जानता था कि दो साल बाद यह पैक्स गोदाम  शराब अड्डा बन जाएगा ।

सूत्रों का कहना है कि गाँव में शराब का गोरखधंधा महीनों से चल रहा था । लेकिन गाँव वालों को भी अंदाजा नही था कि उनके नाक तले शराब का इतना बड़ा कारोबार फल -फूल रहा था । गाँव के कुछ लोगों ने नाम नही प्रसारित करने के शर्त पर बताया कि गाँव के बाहर स्थित तालाब पर बराबर शराब की खेप उतरती थी और वहाँ से अन्यत्र भेजी जाती थी। लेकिन गाँव के अंदर शराब मिलने की भनक हम लोगों को कभी नही लगी।

इधर चंडी पुलिस ने दावा किया है कि इस मामले में सबसे बड़ा मास्टरमाइंड कुंदन सिंह है। जिसकी गिरफ्तारी के बाद ही और नामों का खुलासा होगा ।

शराब माफियाओ के जखीरे से शराब पैक करने वाली रैपर इस बात का खुलासा करता है कि शराब पैकिंग का धंधा भी गाँव में चल रहा होगा, इससे इंकार नही किया जा सकता है। पुलिस के लिए चुनौती भी है कि आखिर गाँव के किस घर में शराब पैक करने का उपकरण लगा हुआ है।

पुलिस ने इस मामले में दो वाहन को भी जब्त किया है। जो शराबमाफियाओ की बताई जा रही है। फिलहाल पुलिस दो नाम का खुलासा कर रही हैं । उसकी गिरफ्तारी के बाद ही इस बड़े रैकेट का पर्दाफाश हो सकता है ।

लेकिन सबसे बड़ा सवाल की गांव के बहुत अंदर घनी आबादी के बीच शराब का कारोबार चल रहा हो,भारी मात्रा में शराब का भंडारण किया जा रहा हो, लेकिन इसकी भनक ग्रामीणों को नही लगी हो विश्वास से परे है, लेकिन उनकी खामोशी सब कुछ बयां कर देती है।

Share Button

Related News:

एक ही परिवार के 4 सदस्यों की संदिग्ध मौत, 3 की हालत नाजुक
गौरीशंकर हत्याकांड मामले में पिता के साथ सरेंडर पुत्र ने कहा- निर्दोष हूं मैं
 गैंग रेप पीड़ित छात्रा की न्याय के लिए सड़क पर लोग, सड़क जाम, आगजनी, भारी आक्रोश
जमीनी हकीकत से इतर दिखती है हर तरफ ओडीएफ की तस्वीर
CS-DGP को नोटिश, बेगुसराय मॉव लीचिंग पर मांगी रिपोर्ट
‘वायरल’ मामलों पर यह रही जदयू के हरनौत MLA और नालंदा MP की सोच
डीएम की जेब कटने की खबर चलाने वाले पत्रकारों को ’नो इंट्री’
टीकाकरण से बच्चों की बिगड़ी हालत, 3 की मौत, 5 गंभीर, सीएम ने जताई चिंता
बाहरी गैस एजेंसी को खदेड़ भगाएं : डीएसओ
बिहार पुलिस एकेडमी का उद्घाटन कर बोले सीएमः लापरवाह-गड़बड़ करने वालों को हटाएं
न्यू पटना पुलिस लाइन में तोड़फोड़, कई वरीय अफसरों का पिटाई, महिला सिपाही की मौत पर बवाल
मिड-डे-मील बनाते समय ब्वॉयलर विस्फोट में 6 की मौत, 3 गंभीर
मंत्री ललन सिंह के कार्यक्रम में जदयू वर्करों ने किसानों को पीटा, कई घायल
रघुबर जी, इस बार आपको जबाव देना ही होगा....
बिहारशरीफ नगर निगम की महापौर बनी वीणा देवी, फूल कुमारी उपमहापौर
एसपी के आदेश-निर्देश भी बेअसर, 6 में 1 को भी नहीं पकड़ सके थानेदार
100 करोड़ से नालंदा, राजगीर और बोधगया बुद्धिष्ट सर्किट का विकास
कोल्हान को अशांत करने की यूं हो रही साजिश, बोले सरायकेला एसपी- 'बिग एंटी शोसल रैकेट'
श्री लक्ष्मी नारायण महायज्ञ के कलश यात्रा में उमड़े श्रद्धालु
2 माह भी नहीं चली 86.25 लाख की पक्की सड़क, पहली बारिश में ही बना आफत
देखिए वीडियोः राजगीर का नगर प्रबंधक है या गुंडा?
दनियावां पेट्रोल पंप पर नालंदा के युवक की गोली मारकर हत्या
जल्लाद राजः शराब कारोबारियों ने अखबार एजेंट को चाकू गोद-गोद कर मार डाला
निर्मल नालंदा अभियान को लेकर डीएम ने अपनाये कड़े तेवर
जहानाबाद के अमीन की नालंदा में हत्या, नामजद मुकदमा दर्ज
डीजीपी ने पढ़ाया यूं अनुशासन का पाठ, कहा- चापलूस दलाल से बचे पुलिस
खून के धब्बों से दहशत फैलाने के पीछे कौन!
पानी को लेकर सीएम के शहर की जनता सड़क पर उतरे
अंततः मिट्टी पलीद के बाद हटाई गई सीएम आवास की तीसरी आंख  
डीएम की छापेमारी के 10 वें दिन बिहारशरीफ पर्यवेक्षण गृह से भागे 4 किशोर
प्रदेश छात्र जदयू नेता हत्याकांड में कोलकाता से 2 आरोपी समेत 4 धराये
मुर्दों से कफन छीनते कुकुरमुत्ते छाप अवैध नर्सिंग होम और नकारा बनी प्रशासन
पुलिस-छात्र में भिंडत, रणभूमि बना ईलाका, कई चोटिल, महिला समेत 6 अरेस्ट, जिम्मेवार कौन?
जमुई पुलिस ने पकड़ी देवघर से पटना जा रही प्रतिबंधित शराब की एक बड़ी खेप
कल्याण मंत्री आवास के समक्ष धरना पर बैठे पारा शिक्षक की मौत
यहां दस टकिया और बारह टकिया 'रिटेनर' कहलाते हैं पत्रकार !
गोड्डाः  सरकारी पुल निर्माण में बाल श्रम कानून की उड़ रही धज्जियां
इस्लामपुर थाना से महज 40 गज दूर जेवर दुकान से यूं हुआ चोरी का प्रयास
पुत्र संग हेलीकॉप्टर से आये बिहार के महामहिम ने लिया राजगीर के सौन्दर्य का आनंद
आखिर रंग लायी राजगीर बंद, जागा प्रशासन, भूमाफिया शिवनंदन को दिया 10 लाख का नोटिश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...