राजगीर में पार्टी प्रशिक्षण शिविर दहाड़े लालू, कहा- दलदल में फंसा है देश

Share Button

नालंदा (राम विलास)। राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने कहा कि देश आज दलदल में फंसा है। देश को दलदल से निकालने के लिए  हम सबों को एक साथ चलना होगा। लालू प्रसाद ने पार्टी कार्यकर्ताओं का आवाहन किया कि सांप्रदायिक ताकतों को उखाड़ने के लिए आगे आयें।  बिहार,  बंगाल , उत्तर प्रदेश और उड़ीसा एक साथ आए ताकि देश में पनप रहे फिरकापरस्त ताकतों को पराजित किया जा सके।

उन्होंने कहा कि समाजवादी महात्मा गांधी, राम मनोहर लोहिया,  जयप्रकाश नारायण, बाबा भीमराव आंबेडकर ने हमारे कंधो पर बड़ी जिम्मेदारी दी है। भारतीय जनता पार्टी और RSS देश में गाय, कब्रिस्तान और श्मशान के नाम पर राजनीति कर रही है। यह लोकतंत्र के लिए बहुत बड़ा खतरा है।

राजगीर की वादियों में आयोजित राष्ट्रीय जनता दल के दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का राजद सुप्रीमो ने दीप जलाकर उद्घाटन किया।इसके पूर्व उन्होंने पार्टी ध्वज फहराया।

उन्होंने कहा कि नेताओं और कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण जरूरी है । देश बहुत बड़े खतरे से गुजर रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा और RSS गाय ,श्मशान, कब्रगाह हो दुधारू गाय समझ रखा है।

उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं से साफ साफ कहा हमारे पार्टी में ढुलमुल कार्यकर्ता नहीं चाहिए। देश को बचाना है। उन्होंने कहा भाजपा और RSS देश के संविधान को बदलना चाहता है। उसको हर हालत में रोकना होगा।  मन , वचन और कर्म से एक होना होगा। अनाप-शनाप बयान नहीं देना होगा।

केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि नीति आयोग ने कहा है कि लोकसभा और विधानसभा का चुनाव साथ साथ होना चाहिए। इसमें भी साजिश है। यह बहुत बड़े खतरे का संकेत भी है। ऐसा कर संप्रदायिक  ताकतें जड़ जमाना चाहती है। इसका मुहतोड़ जवाब देना है । क्षेत्रीय दलों को एकजुट होना चाहिए। केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन की रूपरेखा तय करना चाहिए और उसे हर हाल में उखाड़ने के लिए एक मंच पर एकजुट होना है।

उन्होंने कहा, लगता है जम्मू कश्मीर हमारे हाथ से निकल गया है। वहां आए दिन घटनाएं हो रही है। जवान मारे जा रहे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लिए बिना कहा कि कहां गया 56 इंच का सीना। जवानों के शरीर टुकड़े टुकड़े किए जा रहे हैं। देश  सुरक्षित नहीं है। देश के जवानों को हर सुविधाएं देने की जरूरत है।

लालू प्रसाद ने कहा कि देश तानाशाही की ओर जा रहा है। लोकतंत्र को मिटाने की नापाक कोशिश हो रही है। उन्होंने कहा आप किसी के झांसे में नहीं आओ।  खुद लालू, तेजस्वी ,जगदानंद ,रामचंद्र पूर्वे बनो।

उन्होंने कहा, 2019 में लोकसभा का चुनाव होना है। उस चुनाव में फिरकापरस्त ताकतों को उखाड़ने के लिए अभी से लग जाना है। अभी से पंचायत स्तर पर बुथ कमिटियां बनानी है।

राजद सुप्रीमो ने कहा जम्मू कश्मीर में भाजपा गठबंधन की सरकार है । जवान पीटे और मारे जा रहे हैं, काटे जा रहे हैं। उन्होंने कहा हम और नीतीश अलग-अलग थे इसीलिए 2014 के चुनाव में भाजपा जीत गया। साथ रहते तो इतना बुरा हाल नहीं होता।

लालू ने कहा, उत्तर प्रदेश में एसपी की घर में पिटाई की जा रही है। यदि यही घटना बिहार में होता तो भाजपा और RSS वाला कहता जंगल राज है। बिहार Intex है। भाजपा को रोकने के लिए हमने नीतीश से महागठबंधन किया है। गठबंधन का एक ही मकसद है 2019 में भाजपा को परास्त करना। 

उन्होंने चुटकी लेते हुए कार्यकर्ताओं को कहा कि इस बार आप लोगों से रजिस्ट्रेशन के नाम पर 500 लिए गए हैं। आगे से नहीं लिए जाएंगे। रुपए की जगह है चावल,  दाल, गेहूं , आलू लेकर आएंगे।

उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा, अनुशासन में रहकर भाजपा को करारा जवाब देना है। दो दिवसीय  इस शिविर में 7 विषयों पर चर्चा होनी है।

शिविर का शुभारंभ नालंदा गीत से हुआ।  शिविर के पहले दिन जगतानंद सिंह ने शिक्षक की भूमिका में प्रशिक्षण दिया। इनके अलावा पूर्व सांसद मंगनी लाल मंडल और राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज कुमार ने भी प्रशिक्षण दिया।

इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव,  राष्ट्रीय महासचिव मुंद्रिका प्रसाद यादव , पूर्व मंत्री कांति सिंह , सांसद तस्लीमुद्दीन , मंत्री अब्दुल बारी सिद्धकी,  प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे , सांसद जयप्रकाश यादव,  युवा राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष शैलेश कुमार , प्रधान महासचिव कमर आलम , मंत्री शिवचरण राम,  चंद्रिका राय , रामविचार राय,  भोला यादव,झ डा. धर्मेन्द्र कुमार समेत दल के सांसद ,विधायक, विधान पार्षद, पूर्व सांसद, विधायक, विधान पार्षद , पार्टी के सात प्रकोष्ठों के अध्यक्ष – महासचिव, जिला  और प्रखंड स्तर के अध्यक्ष एवं महासचिव शिविर में ले रहे हैं भाग।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...