भू माफिया-दलालों के खिलाफ सरिया SDPO ने लिये कड़े संज्ञान

Share Button

गिरिडीह (संवाददाता)। जिले के सरिया थाना क्षेत्र में इन दिनों भू माफियाओं-भूमि दलालों  द्वारा जाली दस्तावेज के द्वारा गरीबों की जमीन हड़पने का प्रयास जारी है। जिसकी शिकायत संबंधित थाना सहित एस डी पी ओ सरिया अनुमंडल को मिल रही है। इस पर एसडीपीओ दीपक कुमार शर्मा ने संज्ञान लेते हुए ऐसे लोगों से सख्ती से निपटने का निर्देश सरिया थाना को दिया है।

वहीं, उन्होंने कहा है कि जमीन संबंधित विवाद के निपटारे हेतु अंचलाधिकारी से भी मदद ली जाएगी। उन्होंने कहा कि ऐसे मनबढू भू माफिया पर पुलिस नकेल कसेगी। आए दिन जमीन विवाद के कारण इस क्षेत्र में काफी लड़ाई झगड़े हो रहे हैं। जिसका जीवंत उदाहरण राजधनवार रोड स्थित “मायापुरी कोठी” का है, जिसमें पूर्व में भू माफियाओं द्वारा नक़ली और जाली दस्तावेज बनाकर जमीन को लूटने का प्रयास किया गया था। विरोध करने पर उक्त कोठी के माली व उसके परिजनों पर झूठा मुकदमा भी किया गया था। जिसकी जांच करने पर उस झूठे मुकदमे को खारिज किया गया है।

श्री शर्मा ने चेतावनी भरे शब्दों में कहा कि गरीबों के साथ किसी तरह का अन्याय बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ऐसे दलाल किस्म के लोगों पर मुकदमा कर जेल भेजा जाएगा।

एसडीपीओ ने कहा कि भूमि संबंधित विवाद के जांच को लेकर वे आज बड़की सरिया गांव स्थित जमुनिया टांड गए थे। जहां खाता नंबर 69 प्लाट संख्या 1922 रकवा 1 एकड़ साढ़े तीस डिसमिल जमीन पर विवाद चल रहा है। उक्त जमीन को लेकर बड़की सरिया गांव के महादेव महतो पिता स्वर्गीय सुगन महतो ने सरिया थाना में एक आवेदन दिया है। जिसमें कहा गया है कि वह जमीन उसके पूर्वजों के नाम से सर्वे खतियान में दर्ज है। परंतु कुछ भू माफिया उक्त जमीन पर बाजबरण कब्जा कर चहारदीवारी दे रहे हैं।

आवेदन के आलोक में त्वरित कार्रवाई करते हुए एस डी पी ओ सहित उनकी  टीम विवादित स्थल पर पहुंची एवं निर्माण कार्य को रोका।

इस संबंध में थाना प्रभारी सोनू कुमार चौधरी ने बताया कि आवेदन के आधार पर आवश्यक कार्रवाई करते हुए भादवि की धारा 107 लगाई गई है। जिससे विधि व्यवस्था बनी रहे।बताते चलें कि इस प्रकार का मामला सरिया व आस-पास के गांव के लिए कोई नया नहीं है। ऐसे दर्जनों जमीन व मकान जो गरीब के हैं, उसपर भूमि दलालों की नज़र है।

जमीन संबंधित विवाद होने पर एक पक्ष से गिरोह के लोग संपर्क कर औने-पौने दाम में जमीन बेचने का अधिकार पत्र ले लेते हैं। पश्चात शुरू हो जाती है लूट का खेल । जहां लोग सत्तर-अस्सी हजार रुपये से लेकर पांच लाख रुपये फुट तक जमीन बेच डालते हैं। भू माफियाओं के गिरोह के कारण आज आम जनता पिसी जा रही है।साथ ही सरकार को भी राजश्व का चूना लग रहा है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...