बेटी के तिलक से वापस लौट रहे बाप समेत अन्य दो की मौत, 7 जख़्मी

Share Button

नालंदा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। पटना जिला के शाहजहांपुर थाना अंतर्गत फरीदपुर बाजार से आगे शंकर स्थान राइस मिल के पास राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या 30A पर गुरुवार की रात्रि करीब 9 बजे छोटी पुत्री के तिलक से वापस आ रहे पिता के साथ एक अन्य व्यक्ति की सड़क दुघर्टना में मौत हो गयी। साथ ही ऑटो पर सवार 7 लोग गम्भीर रूप से जख़्मी हो गए।

जख्मी लोगों को तत्काल दनियावां के  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने एक को मृत घोषित किया। जबकि गम्भीर रूप से जख़्मी 8 लोगों को प्राथमिक  उपचार किया गया। जिसमें के दो लोग को बेहतर उपचार के लिए पटना रेफर कर दिया। जहाँ रास्ते मे ही मुन्ना साव ने अपना दम तोड़ दिया। जबकि दूसरे का हालात गम्भीर बतायी जा रही है।

मृतक की पहचान नगरनौसा बाजार गांव निवासी 45 वर्षीय मुन्ना साव एवं 70 वर्षीय रामचंद्र साव के रूप में किया गया।

वहीं जख़्मी लोगों की पहचान की नगरनौसा गांव निवासी रोहित कुमार, छोटू साव, नरेश प्रसाद उर्फ सेठ, धर्मेंद्र कुमार, हीरा साव, रामजी साव, शंभू कुमार के रूप में किया गया। रामजी साव का हालात गंभीर बताया जा रहा है।

घटना के संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार रामचंद्र साव के छोटी पुत्री गुड़िया कुमारी का तिलक पटना जिला के दीदारगंज थाना अंतर्गत मारची गांव गया था। मारची गांव निवासी रामी साव के पुत्र धीरज कुमार के साथ रामचंद्र साव के छोटी पुत्री गुड़िया कुमारी की शादी तय हुआ था।

शादी तय होने के बाद रामचंद्र साव अपने रिश्तेदारों के साथ मिलकर गुरुवार के तिलक देने गए। तिलक देने के बाद घर लौटने के दौरान फरीदपुर बाजार से आगे शंकरा स्थान राइस मिल के पास पूर्व से खड़े ट्रक के पास जैसे ही ऑटो पहुंचा की विपरीत दिशा से आ रही स्कॉर्पियो ऑटो में जबरदस्त टक्कर हो गया।

टक्कर इतना जबरदस्त था कि ऑटो हवा में उठ 35 फिट गहरी खाई में जा गिरा जिससे ऑटो पर सवार 9 लोग मे एक कि मौत घटनास्थल पर हो गया जबकि दूसरा का मौत पटना जाने के दौरान रास्ते में हो गया तीसरा पटना के एनएमसीएच में भर्ती है जहां वह मौत जिंदगी के बीच जूझ रहा है। छः लोग जख़्मी है जो खतरे से बाहर बताये जाते हैं।

मृतक मुन्ना साव के दो पुत्र बिटू कुमार व किटू कुमार  एवं तीन पुत्री प्रियंका कुमारी, अंजली कुमारी, काजल कुमारी है

मृतक रामचंद्र साव के मात्र दो पुत्री है। एक का नाम चंचला देवी एवं दूसरी का नाम गुड़िया कुमारी है। गुड़िया कुमारी के तिलक में ही सभी लोग गए हुए थे कि तिलक देखकर घर आने वक्त यह घटना घटी। मृतक रामचंद्र साव के पत्नी का पहले से ही देहांत हो चुका है।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...