बदमाशों ने स्कूल की सरस्वती पूजा से लौट रही शिक्षिका पर तेजाब फेंका

Share Button

“चोरी, छिनतई और हत्या की बढ़ रही आपराधिक घटनाओं के बीच मां सरस्वती की आराधना कर लौट रही एक शिक्षिका पर दिनदहाड़े एसिड अटैक की घटना ने यह जता दिया कि अपराधी कितने बेखौफ हो चुके हैं और अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस नाकाम साबित हो रही है…..”

रांची (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। ओरमांझी स्थित एक प्राइवेट स्कूल की शिक्षिका पर एक सनकी युवक ने एसिड फेंक दिया। इस हमले में शिक्षिका के हाथ-पांव और कमर के निचले हिस्से जल गए हैं। घटना के बाद शिक्षिका को आनन-फानन में रिम्स में भर्ती कराया गया। यहां इलाज के बाद उसे डिस्चार्ज कर दिया गया है।

शिक्षिका पर रविवार की दोपहर करीब दो बजे उस वक्त युवक द्वारा एसिड अटैक किया गया जब वह ओरमांझी स्थित स्कूल में सरस्वती पूजा में शामिल होकर ऑटो स्कूल से लौट रही थी। बूटी मोड़ पहुंची, वहां से कांटाटोली चौक जाने के लिए ऑटो में बैठी थी।

उसी दौरान सनकी युवक ने ऑटो रुकवाकर एसिड अटैक किया। एसिड फेंकने वाला युवक बाइक पर आया था और फेंकने के बाद तेजी से भाग निकला।

शिक्षिका ने पुलिस को बताया है कि श्रवण नाम के युवक से उनका पुराना विवाद चल रहा है। उसी ने उनके चेहरे पर तेजाब फेंका था। लेकिन, शिक्षिका का चेहरा दूसरी तरफ रहने की वजह से बच गया। हाथ-पांव जल गए।

अचानक हाथ और पांव में तेज जलन होने पर ऑटो चालक ने ही उन्हें पास के एक मेडिकल स्टोर ले गया। वहां वाश के लिए एक दवाई दी। फिर भी तेज जलन होने पर शिक्षिका को आनन-फानन में रिम्स पहुंचाया।

घटना की सूचना मिलने पर सिटी एसपी सुजाता वीणापाणि, सदर डीएसपी दीपक पांडे और सदर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और पूरी जानकारी ली।

शिक्षिका और आरोपित बताया जाने वाला युवक दोनों चर्च रोड के ही रहने वाले हैं। दोनों के बीच विवाद चल रहा है। इस विवाद को लेकर शिक्षिका ने सीएम जन संवाद, एसएसपी और महिला थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।

शिकायत के आधार पर महिला थाने में काउंसिलिंग हुई थी। काउंसिलिंग में आरोपित श्रवण ने लिखित रूप में बांड दिया था। इसके बाद दो फरवरी को शिक्षिका ने अपनी शिकायत वापस लेकर फाइल बंद करा दी थी।

शिक्षिका का आरोप है कि अब भी श्रवण व उसके परिजन धमकी दे रहे हैं। एक तस्वीर भी घर भेजी थी। इधर सीएम जनसंवाद सहित सभी मामलों में पुलिस ने काउंसिलिंग बंद करने की रिपोर्ट दे दी है।

पुलिस के अनुसार आरोपित के पिता ने भी कुछ दिन पहले डेली मार्केट थाने में अपनी बर्तन दुकान में तोड़फोड़ करने की शिकायत की थी।

शिक्षिका द्वारा आरोपित बताया जा रहा श्रवण कुमार फिलहाल कोलकाता में है। आरोपित ने बताया है कि वह अपनी मां के साथ कोलकाता गया है।

इधर पुलिस ने पिता को हिरासत में लिया है। आरोपित श्रवण का कहना है कि महिला थाना में काउंसिलिंग के बाद उससे दूर रह रहा था। उल्टे बर्बाद करने की धमकी दी गई थी। अब बेवजह एसिड अटैक का आरोप लगाया जा रहा है, जबकि वह कोलकाता में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...