जी हां, यह सुशासन बाबू के नालंदा के चंडी थाना का आलम है!

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। पिछले कई दिनों से नालंदा जिले के विभिन्न माइक्रो सोशल साइट-ग्रुपों में एक Gif वीडियो वायरल हो रही है। एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क की टीम ने जब इस वीडियो की पड़ताल की तो बड़े चौंकाने वाले तत्थ उभर कर सामने आए।

दरअसल यह वीडियो नालंदा के चंडी थाना कार्यालय की है। यहां एक सुपर बड़ा बाबू का बेटा उस शख्स के करीबी रिश्तेदार से पैसे ले रहा है, जिनकी नालंदा जिले की राजनीति में तूती बोलती थी और लगातार 10 वर्षों तक सम्मानित विधायक रहे। उनके स्व. पिता जी के नाम आज भी लोग श्रद्धा भाव से लेते हैं।

कभी स्व. जार्ज साहब और नीतीश जी के खास रहे पूर्व विधायक फिलहाल भाजपा में हैं। अब ‘सुशासन’ में उनकी सुनता कौन है? जो कभी थाना में कदम नहीं रखे, आज उनके करीबी रिश्तेदार को अदद चरित्र प्रमाण के लिए नजराना देना पड़ रहा है।  

इस वीडियो में जो शख्स पैसा दे रहा है, वह उन्हीं माननीय के अत्यंत करीबी रिश्तेदार हैं। वे पुत्री की चरित्र प्रमाण बनवाने चंडी थाना पहुंचे। पहले बहुत दौड़े। अंततः “एक्सेप्टेट क्रप्ट रुल” के अनुसार उन्हें 500 रुपए देने पड़े। उसके बाद ही चरित्र प्रमाण बन सका।

आइए अब आते हैं कि आखिर थाना कार्यालय में सरेआम जो शख्स पैसा ले रहा है, वह आखिर है कौन? वह एक सेवानिवृत दफादार का चौकीदार बेटा है। अभी की हालत यह है कि वहां थानेदार थाना नहीं चलाता है, यही दोनों बाप-बेटा चलाता है। एक तरह से यह दोनों थाना का प्रधान सलाहकार है। इसीलिए लोग इन्हें सुपर थानेदार यानि सुपर बड़ा बाबू कहते हैं।

आपको याद होगा कि मिली जन शिकायत के आलोक में पूर्व एसपी सुधीर कुमार पोरका ने डीएसपी मुस्तकीम अहमद की उपस्थिति में चंडी थाना में छापामारी की थी। उस दौरान उस सेवानिवृत दफादार के कमरे से, जो बगल में किराये पर ले रखा था, वहां से थाना के कई कांडो के संगीन फाइल बरामद किया था। लेकिन क्या कार्रवाई हुई, किसी को कुछ नहीं पता।

हां, अब इतना जरुर हुआ कि बाप के साथ बेटा भी अपरोक्ष थाना चलाने में जुट गया। यहां आम आदमी थानेदार तो दूर किसी दारोगा से भी नहीं मिल सकता। यदि ये दोनों बाप-बेटा चाहे तो। हर काम पहले इसे बताना होगा। कुछ मामलों को छोड़कर प्राथमिकी दर्ज होगी या नहीं, सेवानिवृत दफादार की मर्जी पर ही निर्भर करता है।

हालांकि यह आलम नालंदा जिले के कई थानों में देखी जाती है। नगरनौसा थाना हाजत हत्या कांड में भी एक चौकीदार की ही अहम भूमिका की खूब चर्चा रही।

खैर, यह बिहार के सीएम नीतीश कुमार का नालंदा है। यहां के कण-कण से वे स्वंय वाकिफ रहे हैं और आज भी अपडेट रहते हैं। पुलिस-प्रशासन की हर पोस्टिंग की जानकारी सीधे उन्हें होती है। वह पोस्टिंग चाहे जाति, वर्ग या रसुख के आधार पर हो। ऐसे में क्या करेगी चांद और क्या करेगी चांदनी…….यह सुशासन कायम रहेगा।

देखिए वायरल वीडियो  के अंश………

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.