….और इंसाफ इंडिया के अकरम ने एक मां को यूं सौंपा रतन, बोले- सबको शुक्रिया

Share Button

” श्रीपुर एस आई मोलॉय दास, जमुरिया पुलिस अधिकारी, सीपीभीएफ, नालंदा जिला बाल किशोर न्याय परिषद के प्रधान दंडाधिकारी सह न्यायकर्ता मानवेन्द्र मिश्रा, बालसा के रजिस्ट्रार कृष्ण गोपाल सर, पत्रकार मुकेश भारतीय,  सामजिक कार्यकर्ता राकेश गुप्ता समेत इंसाफ इंडिया के सभी साथियों का दिल की गहराईयों से धन्यवाद। आपके मेहनत-सहयोग से आज यह नेक कार्य कर पाया…… आपका, वसीम अकरम खान, राष्ट्रीय महासचिव, इंसाफ इंडिया ……..”

एक्सपर्ट मीडीया न्यूज डेस्क। खुदी को कर बुलंद इतना के हर तकदीर से पहले खुदा बन्दे से खुद पूछे के बता तेरी रज़ा क्या है…वेशक हैसला बुलंद और ईरादे नेक हों तो रास्ता मिल ही जाती है। हां, यह दीगर बात है कि शुरुआती थोड़ी परेशानी आती है, लेकिन उन्हीं झंझावतों में मूल कामयाबी भी छुपी होती है।

पश्चिम बंगाल प्रांत के आसनसोल निवासी मो. अकरम वसीम खान ने आज प्रकृति महापर्व छठ के मौके पर उस मां के आंचल को फिर से खुशियों के दामन से भर दिया था, जो हताश और निराश हो चुकी थी। वह उम्मीद खो चुकी थी कि कभी 11 माह पूर्व उसका लाल मिलेगा भी।

आज अहले सुबह रतन कुमार को उनकी मां अंजलि देवी और बहनोई राम बाबू आसनसोल पहुंचे और श्रीपुर ईसी में आवश्यक कागजी करवाई होने के बाद इंसाफ इंडिया ने उनके हवाले सौंप दिया गया। वे दोनों रतन को लेकर अकाल तख्त एक्सप्रेस से पटना रवाना हो गए हैं।

दरअसल, महासचिव वसीम अकरम खान का पश्चिम बंगाल के पश्चिम बर्दवान जिला में इंसाफ़ इंडिया नामक एक निबंधित न्यास है। विगत 26 अक्टूबर, 2019 को दिन 3 बजे वे और न्यास के अध्यक्ष मुस्तकीम सिद्दीकी बाइक से अपने कार्यालय से आसनसोल एक बैठक में जा रहे थे।

इसी बीच उन्हें न्यास कार्यालय से लगभग आधा किलोमीटर दूर एक विक्षिप्त किशोर राष्ट्रीय राजमार्ग 2 पर दिल्ली रोड पर मिला।  इंसाफ इंडिया से जुड़े लोग भूखे, गरीब को संस्था की ओर से खाना कपड़ा देते रहते हैं। ख़ास कर जो  जरुरतमन्द लगते हैं, उसे पूछकर ज्यादा सहयोग करने की कोशिश करते हैं।  

यही सोचकर कि विक्षिप्त युवक शायद भुखा हो, इसलिए उन्होंने बाइक रोककर उसे खाना खाने के लिए पूछना चाहा तो वह भागने लगा। वह काफी डरा हुआ लग रहा था।

तब अकरम-सिद्दीकी साहब ने  विक्षिप्त को रोककर खाने का इशारा किया तो वह तैयार हो गया। फिर दोनों ने उसे नजदीक के ढ़ाबा में खाना खिलाया। खाने से पहले वह काफी डरा हुआ था। खाने के बाद उसके चेहरे में बदलाव आया। वह मुस्कुराते हुए जाने लगा।

इसके बाद जब उससे उसके परिवार के बारे जानना चाही तो मानसिक रूप से अस्वस्थ होने के कारण एक घंटे से ज्यादा समय तक वह एक शब्द भी नही बोला।  लगभग दो घंटे बाद इंसाफ इंडिया के सदस्यों द्वारा प्रेम-प्रयास के बाद उसे सिर्फ कुछ ही बातें याद आयी।

उसने अपने पिता का नाम भोला राम, माँ का नाम अंजनी देवी, भाई का नाम छोटू राम, पिता का टेलीफोन एक्सचेंज में नौकरी, थाना पटना कोतवाली, घर जीपीओ पटना के पास गोलम्बर और मोहल्ला हार्डिंग पार्क बताया था। यह पूरी बातें वसीम खान ने सोशल मीडिया पर शेयर कर आम लोगो से अपील किया कि उसके घर तक पहुंचाने में लोग मदद करें।

उसी दिन पटना कोतवाली थाना में भी एसएचओ से बात कर इसका फोटो और सभी प्राप्त जानकारियाँ उनके मोबाइल पर व्हाट्सअप किया। उसके बाद में फोन करने पर एसएचओ ने बताया कि यह पागल है। उसे उसी जगह छोड़ दो।

यहां पर बता दें कि रतन कुमार की मां ने जब गायब होने के बाद अपने बेटे को ढूंढ नहीं पाई तो उन्होंने उसकी लिखित शिकायत कोतवाली थाना से की थी। लेकिन तब भी वहां के थानेदार ने कोई कार्रवाई नहीं की। शिकायत-सनहा तक दर्ज नहीं की।

मां अंजली रुंआसा हो आगे कहती है,  खुद अपने रतन को खूब ढूंढी।सब कहने लगे कि अब तेरा बेटा कभी वापस नहीं आएगा।भूल जाओ। लेकिन मुझे विश्वास था कि वह एक दिन जरुर मिलेगा। अकरम जैसे बेटों ने उस विश्वास को सच कर दिखाया। ईश्वर उसे खूब तरक्की दे।

पश्चिम बर्दवान जिला अंतर्गत जामुड़िया थाना के श्रीपुर आईसी के अधिकारीयों को भी सूचित कर दिया था।  श्रीपुर आईसी में रात के समय रतन कुमार राम के ठहरने की व्यस्था कुशल रूप में किया गया।

रतन कुमार राम के बताये अनुसार इंसाफ इंडिया की टीम ने वोटर लिस्ट में वार्ड संख्या 28 से “रतन कुमार पिता भोला राम, भाई छोटू राम, माँ अंजनी देवी। वार्ड नम्बर 28, पॉलिंग बूथ : न्यू कैपिटल सर्किल, पीएमसी कार्यालय, हार्डिंग रोड (पूर्वी भाग)” जानकारी इकट्ठा किया।

इसके बाद भी वसीम अकरम खान और उनकी इंसाफ इंडिया की टीम के सामने रतन को सकुशल उसके घर तक पहुंचाने की चुनौती बरकरार थी।

उसके बाद सोशल साइट का सहारा लिया गया। नालंदा जिला बाल किशोर न्याय परिषद के प्रधान दंडाधिकारी मानवेन्द्र मिश्रा जी के फेसबुक वाल पर इंसाफ इंडिया की टीम की नजर गई। जिनके वाल पर सजी मानवता की तस्वीरें-सूचनाओं ने एक नई रौशनी दी।

बकौल वसीम अकरम, अब उनकी टीम को विश्वास हो गया कि यह नेक ‘बंदा’ जरुर मदद करेगा। और हुआ भी ठीक वैसा ही। मानवेद्र जी ने बिहार राज्य विधिक सेवा प्राधिकार के उच्च पदाधिकारियों को सूचित किया। बिहार राज्य विधिक सेवा प्राधिकार के रजिस्ट्रार कृष्ण गोपाल और वसीम अकरम खान के बीच वार्ता कराई।

इसके बाद रत्न कुमार राम को उसके परिवार से मिलाने की जिम्मेदारी बिहार राज्य विधिक सेवा प्राधिकार ने सुनिश्चित कर ली और हम तमाम झंझावतों के बीच अपने मकसद में कामयाब रहे।

Share Button

Related News:

दिगवंत जदयू नेता सुबोध प्रसाद की आत्मा की शांति के लिए शोकसभा
नालंदा के तीन प्रखंड कार्यालयों का 12.25 करोड़ से होगा जीर्णोद्धार
पकड़ा गया कंस मामा, खुला राज- इसलिए की मासूम भांजे की हत्या
बिहारशरीफ सदर अस्पताल के कैदी वार्ड के सभी 5 सिपाही संस्पेंड, एसपी कुमार आशीष ने किया सस्पेंड
रेलवे ट्रैक पर सो रहे वृद्ध किसान की ट्रेन से कट कर मौत
डीएम साहब, जरा देख लीजिये ओडीएफ घोषित नालंदा के इस पंचायत की हालत
सीएम नीतिश के पैत्रिक गांव स्थित स्कूल में खराब इंटर रिजल्ट को लेकर हंगामा
प्रसिद्ध काकड़ा मेला का एसपी ने किया उद्घाटन, मां गंगा से मांगी खुशहाली
विश्व विख्यात सर्व धर्मस्थली है पंच पहाड़ियों घिरा राजगीर
33 करोड़ देवी-देवता की मौजूदगी में 24 घंटे जाग रहा भगवान ब्रह्मा का राजगीर
पर्यावरण बचाव के लिए जरुरी है पेड़ पौधे का होनाः डॉ कल्याण कुमार
CS, DGP व ADG को लेकर झारखंड विधानसभा में हंगामा
'रामबाबू हाई स्कूल में होगा गणंतत्र दिवस का मुख्य समारोह'
DGP साहेब आंखे खोलिए, देखिए कैसे होते हैं फर्जी FIR
बांका पहुंची सृजन महाघोटाला,83.10 करोड़ की निकासी, मामला दर्ज, बैंक मैनेजर गिरफ्तार
विकास पर्व की भीड़ में दिखी स्कूल-कॉलेज की छात्र-छात्राएं
22वें राजद स्थापना दिवस पर बोले तेजस्वी- 'नीतीश चाचा को लगा है राजनीतिक बुखार'
 ‘ओडीएफ वार्डों के लाभुकों जल्द करें भुगतान, अभियान में लाएं तेजी’
थानेदार की कुर्सी पर बैठे 'धरना मंत्री' को लेकर हो रही यूं चर्चा
इस बदतर झारखंड से बेहतर तो अविभाजित बिहार ही था: बागुन सुम्ब्रुई
ओलंपिक मशाल रैली में शामिल हुए स्कूली छात्र-छात्राएं
20 फीट गहरी खाई में पलटी बस, 4 की मौत, 25 से अधिक घायल
नालंदा सृजन पर छात्राओं ने रंगोली बना दिये संदेश, लेकिन नहीं सजे चौक चौराहे
रघु'राजः 'भोर' के भय से 'गोधूलि' में ही बन गये यहां कई डीडीसी
जी हां, ये है कोल्हान का सबसे खूबसूत और तेज सड़क
बोले SP- किसी से नहीं डरें, आपके साथ है ACB
नीमच में 32 लाख के 2000 के नोट बरामद, 4 लोग धराये
बहुउपयोगी ‘मलमास मेला मोबाईल एप्प’ से हटाई गई ये ‘विवादित’ सूचनाएं
कठिन चीवर दान महोत्सव में कल्प वृक्ष के साथ निकली शोभायात्रा
कुंडलपुर महोत्सव की तैयारी में सरकारी राशि का खूब हुआ बारा-न्यारा!
MLA अशोक सिंह हत्याकांड में  Ex. RJD MP प्रभुनाथ सिंह दोषी करार, गये जेल
देखिये जुर्रत- "हमारा प्राइवेट स्कूल है, बंद करें या खोलें, नालंदा डीएम क्या उखाड़ लेगें"
उदेरास्थान बराज से लोकायन में आई लहर, किसानों के खिले चेहरे
राजगीर मलमास मेला को लेकर समीक्षा बैठक, नालंदा डीएम ने दिये कई अहम निर्देश
गुजरात हिंसा से जारी पलायन के बीच जानिए क्या बोले बिहार के सीएम नीतीश
‘अपराधियों के बाद अब पुलिस-प्रशासन के निशाने पर पत्रकार’
डिजीटल होगा नालंदा का रेड़ी-रसलपुर गांव, SBI ने लगायी मुहर
हिलसा में जर्जर मकान तोड़ने के दौरान मजदूरों पर छज्जा गिरा, 1 की मौत, 2 की हालत गंभीर
नालंदा पुलिस-पूर्व मुखिया द्वारा प्लांटेड था माहुरी गांव में वर्चस्व की जंग ?
बिना झामुमो झारखण्ड का विकास संभव नहीं : अंतु तिर्की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...