अब डीएम के नहीं, एसपी के अंडर होंगे चौकीदार

Share Button

“राज्य सरकार ने चौकीदारों को जिला प्रशासन के नियंत्रण से हटाकर पुलिस के अधीन करने का मन बना लिया है। इस पर निर्णय लिया जा चुका है। जल्द इसका आदेश भी जारी कर दिया जाएगा….”

पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। गांवों में पुलिस की आंख, नाक और कान समझे जानेवाले चौकीदार हकीकत में अब पुलिस के अधीन होंगे। ग्रामीण पुलिसिंग के सबसे बड़े आधार चौकीदारों को लेकर बड़ा फैसला होने वाला है।

चौकीदार काम तो पुलिस का करते हैं, पर पुलिस अधीक्षक (एसपी) का उनपर कोई नियंत्रण नहीं होता है। चौकीदार अभी डीएम के अधीन हैं। उनकी नियुक्ति से लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई तक के अधिकार डीएम के पास हैं।

पर नई व्यवस्था में यह सब बदल जाएगा। चौकीदार की नियुक्ति तो डीएम के माध्यम से ही होगी पर उस पर नियंत्रण एसपी का होगा।

पुलिस मुख्यालय के एक आला अधिकारी के मुताबिक चौकीदारों को एसपी के नियंत्रण में लाने पर सहमति बन चुकी है। जल्द इस पर सरकार के स्तर से आदेश जारी कर दिया जाएगा।

चौकीदारों के पुलिस के नियंत्रण में आने के बाद उनका वेतन एसपी ऑफिस से जारी होगा। इसके अलावा एसपी प्रशासनिक कार्रवाई से लेकर उन्हें निलंबित तक कर सकेंगे। अभी चौकीदारों के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस को डीएम को पत्र लिखना होता है।

इनको गांवों में होने वाली घटनाओं पर नजर रखनी है। घटना की बाबत थाना को इसकी सूचना देनी है। यही नहीं हत्या या अन्य गंभीर आपराधिक मामलों में पुलिस के आने तक घटनास्थल को सुरक्षित रखना चौकीदार की जिम्मेदारी है।

शव का अंतिम संस्कार कराना भी कई दफे इनके जिम्मे रहता है। छापेमारी के दौरान पुलिस को रास्ता दिखाना और तय स्थान तक पहुंचाना भी चौकीदारों का काम है।

Share Button

Related News:

रांची में राहुल, बोले- 'मैं प्‍यार बांटता हूं और नरेंद्र मोदी नफरत'
रांची के ओरमांझी में सीएम ने किया देश के सबसे बड़े मछली घर का उद्घाटन
वन विभाग द्वारा गांव खाली कराने को लेकर लोग एकजुट, कोर्ट ने दिया है खाली करने के आदेश
झारखण्ड में करोड़ों साल पहले भी थे घने जंगल
राजस्थान के IPS अफसर से ठगी करने वाले 4 साइबर अपराधी राजगीर में धराये
3साल में भी न बन सकी 95.54 करोड़ की बेन-नालंदा पक्की सड़क !
सीएम की रस्म अदायगी जारी, मंत्रियों से मांगा संपत्ति का ब्योरा  
झारखंड में भी लागू हो पत्रकार सुरक्षा कानून  : JJA
सिलाव नपं चुनाव परिणाम भी चौकाने वाले, JDU MLA से उलझे मुन्ना मल्लिक चुनाव हारा
नहीं होगा पार्टी कार्यकर्ताओं की उपेक्षाः प्रदेश भाजपा अध्यक्ष  
दिगवंत जदयू नेता सुबोध प्रसाद की आत्मा की शांति के लिए शोकसभा
जानिये राजगीर के इस प्लांटेड खबर का सच, आपके होश उड़ जायेगें 
15 दिन बाद भी इस ‘प्रेमी युगल’ की जांच नहीं कर सका है प्रशासन
सोमवार की दोपहर से ठप है एनएच-33 फोरलेन, प्रशासनिक लापरवाही बना नमुना
आरती कुजूर से बोली पीड़ित बच्ची की मां- हाथ पैर बांध टीचर पुत्र किया दुष्कर्म
नीतीश जी,  कब तक यूं ही बीमार रहेगी आपकी स्वास्थ्य व्यवस्था ?
चिकित्सक सेवा भावना से मरीजों का करें इलाज
संदेह के घेरे में नालंदा MCMC कोषांग सचिव सह DPRO की कार्यशैली
बिना प्रभार दिये फरार हुआ पंचायत सेवक, ठप्प हुआ सरकारी काम
बोलता है शेखपुरा नगर थाना प्रभारी- ‘भागो दलितों भागो, हिन्दू धर्म त्यागो’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

loading...
Loading...