अंततः ‘BABA’ ने KK को निपटा ही दिया, सिविल डिफेंस गए ‘KK’

Share Button

“बिहार के सबसे चर्चित पुलिस अधिकारियों में शामिल कुंदन कृष्णन पिछले डीजीपी कृपा शंकर द्विवेदी की पसंद से पुलिस मुख्यालय का ADG बनाया गया था….”

पटना (सोनू मिश्रा)। ‘बाबा’  के नाम से शुमार बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने आखिरकार KK को नाप ही दिया। पुलिस मुख्यालय से लेकर गृह विभाग में ऐसी ही चर्चाओं के बीच सरकार ने शुक्रवार को 17 IPS अधिकारियों का ट्रांसफर कर दिया।

पुलिस महकमे में DGP के बाद सबसे अहम पद माने जाने वाले ADG (हेडक्वार्टर) के पद पर तैनात कुंदन कृष्णन को बेहद शंटिंग पोस्ट सिविल डिफेंस का ADG बना दिया गया है। सरकार ने पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान कुछ ज्यादा ही निष्पक्षता दिखाने वाले कई एसपी का भी ट्रांसफर कर दिया है।

नप गये कुंदन कृष्णनः बिहार के सबसे चर्चित पुलिस अधिकारियों में शामिल कुंदन कृष्णन पिछले डीजीपी कृपा शंकर द्विवेदी की पसंद से पुलिस मुख्यालय का ADG बनाया गया था।

बाद में जब गुप्तेश्वर पांडेय डीजीपी बने तो सवाल ये उठ रहा था कि दोनों के बीच कितने दिन निभ पायेगी। सवाल का जबाव आज मिल गया जब कुंदन कृष्णन को पुलिस मुख्यालय से दूर सिविल डिफेंस में बिठा दिया गया।

तबादलों में बाबा की चलीः सरकार ने आज कुल 17 IPS अधिकारियों का तबादला किया, जिसमें ADG, IG के साथ 6 SP भी शामिल हैं। चर्चाओं की मानें तो DGP की पसंद से जितेंद्र कुमार ADG हेडक्वार्टर के पद पर तैनात किया गया है।

बाबा की कृपा से ही मुजफ्फरपुर के IG नैय्यर हसनैन खां को पुलिस मुख्यालय में IG (हेडक्वार्टर) जैसे अहम पद पर तैनात कर दिया गया। नैय्यर के जिम्मे बजट, प्रोविजन, कल्याण के IG का भी चार्ज रहेगा। यानि उनकी पांचों अंगुलियां घी में।

अब तक IG (हेडक्वार्टर) के पद पर तैनात गणेश कुमार को मुजफ्फरपुर का प्रक्षेत्रीय पुलिस महानिरीक्षक बनाया गया है।

लोकसभा चुनाव का तबादलों पर असरः सरकार ने शुक्रवार को जिन 6 SP का तबादला किया, उनमें से कुछ से सरकार चुनाव के दौरान नाराज हुई थी। हालांकि हैरानी समस्तीपुर की कड़क SP हरप्रीत कौर के तबादले को लेकर है।

चुनाव के दौरान हरप्रीत कौर से सरकार को परेशानी नहीं हुई थी, लेकिन कुछ दूसरे मामलों को लेकर सरकार उनसे खफा जरूर थी। लिहाजा हरप्रीत कौर को समस्तीपुर से हटाकर BMP-5 का कमाडेंट बना दिया गया।

बड़ी सजा तो पटना के पूर्वी सिटी SP राजेंद्र कुमार भील को मिली। उन्हें बगहा में बने महिलाओं के बिहार स्वाभिमान बटालियन का कमाडेंट बनाया गया है।

लोकसभा चुनाव के समय से ही लखीसराय के SP कार्तिकेय के शर्मा और अरवल के SP उमाशंकर प्रसाद से सरकार की नाराजगी की खबर आ रही थी। दोनों को कोल्ड स्टोरेज में डाल दिया गया।

कार्तिकेय शर्मा को स्पेशल ब्रांच में तो उमाशंकर प्रसाद को ATS में SP बना कर भेजा गया है। इसके अलावा बांका की SP स्वप्ना जी मेश्राम को भी जिले से हटाकर स्पेशल ब्रांच में बिठाया गया है।

सुपौल में SDPO जितेंद्र कुमार को पटना का नया सिटी एसपी (पूर्वी) बनाया गया है। इमामगंज के SDPO सुशील कुमार को लखीसराय का एसपी बनाया गया है।

बगहा के एसपी अरविन्द गुप्ता पर सरकार मेहरबान हुई और उन्हें बांका जैसे मलाइदार जिले के SP की कुर्सी मिल गयी।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...