थानेदार ने थाना में ही फाँसी लगाई, परिजनों ने की CBI जाँच की माँग, जाने पूरा मामला

 
थानेदार ने थाना में ही फाँसी लगाई, परिजनों ने की CBI जाँच की माँग, जाने पूरा मामला

पलामू (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। झारखंड पुलिस के सब-इंस्पेक्टर सह पलामू जिले के नावा बाजार थाना के निलंबित थाना प्रभारी लालजी यादव ने आत्महत्या कर ली। नावा बाजार थाना भवन स्थित अपने कमरे में वह मफलर का फंदा बनाकर पंखे से झूल गया।

सुबह जब चाय के लिए उनका दरवाजा खटखटाया गया तो अंदर से कोई आवाज नहीं आई। इसके बाद दरवाजा तोड़ा गया तो सामने पंखे से वे लटके मिले। वरीय पुलिस अधिकारियों को तत्काल इसकी जानकारी दी गई। दिवंगत एसआई साहेबगंज के रहनेवाले था।

एएसपी सह एसडीपीओ के विजय शंकर के अनुसार प्रारंभिक जांच में मामला बुडमू मालखाने के चार्ज से उत्पन्न तनाव का सामने आया है। गहन जांच अभी जारी है। बुड़मू थाना मालखाने के चार्ज हस्तांतरण की प्रक्रिया के क्रम में लालजी यादव नावाबाजार थाना लौटे थे। नावा बाजार में तैनाती के पहले वह बुड़मू थाना के प्रभारी थे।

खबरों के मुताबिक बीते 6 जनवरी को सब-इंस्पेक्टर लालजी यादव को जिला परिवहन पदाधिकारी अनवर हुसैन की शिकायत के बाद पुलिस अधीक्षक चंदन कुमार सिन्हा ने निलंबित कर दिया था। स्टोन छरी लदा जब्त वाहन कब्जे में लेने से इनकार कर देने की शिकायत डीटीओ ने की थी।

विश्रामपुर के एसडीपीओ सुरजीत कुमार ने इस मामले की जांच की थी। जांच के बाद दारोगा लालजी यादव को निलंबित कर दिया गया था। नावाबाजार थाने में नए थाना प्रभारी को पदस्थापित भी कर दिया गया है। निलंबन के बाद लालजी यादव रांची स्थित बुढ़मू थाने के मालखाना का प्रभार देने रांची गए थे।

घटना की सूचना पर डीआईजी राजकुमार लकड़ा, एसपी चंदन कुमार सिन्हा, मेदिनीनगर के एएसपी सह एसडीपीओ के विजय शंकर, विश्रामपुर के एसडीपीओ सुरजीत कुमार सिन्हा आदि नावा बाजार थाना पहुंचे।

दूसरी तरफ घटना के विरोध में नावाबाजार के ग्रामीणों ने एनएच-139 (मेदिनीनगर-औरंगाबाद मार्ग) को जाम कर दिया। आक्रोशित ग्रामीण एसआई की मौत के लिए उच्चाधिकारियों को जिम्मेदार ठहराते हुए उन पर कार्रवाई और घटना की सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे।

पलामू प्रक्षेत्र के डीआईजी राजकुमार लकड़ा के अनुसार बुड़मू थाने के मालखाने से संबंधित कुछ सामान नहीं मिलने के कारण एसआई लालजी यादव परेशान थे। उन्होंने इसे लेकर अपने बैचमेट से भी चर्चा की है।

पलामू के नावा बाजार थाना प्रभारी लालजी यादव के आत्महत्या कर लेने की खबर से उनके परिजन स्तब्ध हैं। घटना की जानकारी मिलते ही उनकी पत्नी पूजा देवी, पिता राम अयोध्या यादव, भाई संजीव यादव, मां महेश्वरी देवी सड़क मार्ग से पलामू पहुंचे।

इधर, उनके छोटे भाई रामजी यादव, भतीजे विवेक कुमार, बड़े चाचा राम गणेश यादव, राम सिंहासन यादव, रघुवंश प्रसाद यादव, शिव कुमार भगत आदि ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मामले की सीबीआई जांच कराने की माँग की है।