तालिबानी पंचायतः पेड़ बेचने पर युवक को डंडों से पीटा, पत्थरों से मारा, फिर जिंदा जला दिया

 
तालिबानी पंचायतः पेड़ बेचने पर युवक को डंडों से पीटा, पत्थरों से मारा, फिर जिंदा जला दिया

सिमेडगा  (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। झारखंड के सिमडेगा जिले के कोलेबिरा में सार्वजनिक पेड़ काट कर बेचने के आरोप में 500 से अधिक ग्रामीणों की भीड़ ने 25 साल के युवक संजू प्रधान को उसकी माँ और पत्नी के सामने जिंदा जला दिया। दोनों मदद के लिए चीखती रहीं, पर कोई मदद के लिए नहीं आया।

खूंटकटी कमेटी के फरमान के बाद 9 टोलों के लोगों ने युवक को पहले बुरी तरह लाठी-डंडे से पीटा, पत्थरों से मारा, फिर जिंदा जलाया।

घटना कोलेबिरा के बेसराजरा गांव में मंगलवार दोपहर 2 बजे हुई। मौके पर बेसराजारा के अलावा ठेठईटांगर थाना क्षेत्र के बंबलकेरा के 9 टोलों के लोग शामिल हुए थे।

ग्राम प्रधान सुमन बूढ़ ने बताया कि संजू ने पिछले अगस्त माह में गांव के खूंटकटी नियम का उल्लंघन करते हुए सार्वजनिक जगह पर लगे 6 पेड़ काट कर बेच दिए थे।

गांव के लोगों ने इसकी वन विभाग को इसकी सूचना दी थी, पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद मंगलवार को गांव में खूंटकटी कमेटी की बैठक हुई।

बैठक में संजू ने जब अपने ऊपर लगे आरोपों को नहीं स्वीकारा तो ग्रामीण काफी गुस्सा गए। बताया गया कि संजू प्रधान पहले नक्सली था। वर्तमान में वह लकड़ी के धंधे से जुड़ा था और गांव में किराना दुकान भी चलाता था।

घटना की जानकारी मिलने के बाद कोलेबिरा पुलिस दलबल के साथ गांव के पास पहुंची थी। लेकिन, ग्रामीणों ने गांव में घुसने नहीं दिया। बाद में सिमडेगा के एसपी डॉ. शम्स तबरेज कई थानों के थानेदार के साथ पहुंचे और मामले की जानकारी ली।