जमशेदपुरः एसीबी ने 10 हजार रुपये घूस लेते पंचायत समिति सदस्य को रंगे हाथ दबोचा

 
जमशेदपुरः एसीबी  ने 10 हजार रुपये घूस लेते पंचायत समिति सदस्य रंगे हाथ दबोचा

जमशेदपुर (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। झारखण्ड के जमशेदपुर में एसीबी की टीम ने एक घूसखोर पंचायत समिति सदस्य स्वेता जैन को रंगे हाथ दबोचा है।

खबरों के मुताबिक परसूडीह गोलपहाड़ी के पास रहने वाली पंचायत समिति की सदस्य श्वेता जैन को एसीबी की टीम ने 10 हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथ पकड़ लिया।

टीम दोपहर तीन बजे उसके घर पहुंची और उसे घूस लेते गिरफ्तार कर सोनारी स्थित भ्रष्टाचार निरोधक दस्ता ( एसीबी ) के कार्यालय ले आई थी।

इस मामले में रविकांत शर्मा और उज्जवल साहनी ने एसीबी को लिखित शिकायत की थी।

रविकांत ने एसीबी की टीम को बताया था कि उत्तरी सुसुनीगढ़िया पंचायत भवन के पास नाला बनाने का काम उन्हे मिला था जिसके लिए 2.49 लाख रुपये की राशि आवंटित की गई थी।

पंचायत समिति की सदस्य श्वेता जैन ने काम से जुड़ा मेजरमेंट बुक अपने पास रख लिया था जिससे की रविकांत को राशि का भुगतान नहीं हो पा रहा था।

कई बार उन्होने श्वेता जैन को इस बारे में भी कहा पर श्वेता जैन राशि पास कराने के लिए 25 प्रतिशत मांग रही थी। अंत में मामला 52,290 रुपये में तय हुआ।

सोमवार को एसीबी से शिकायत करने के बाद टीम ने जांच में मामला सही पाया। शनिवार की दोपहर श्वेता जैन को 10 हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथ पकड़ लिया गया।

श्वेता जैन उत्तरी सुसुनीगढ़िया पंचायत से गिरफ्तार की गयी है,जहां घूस की रकम देने की बात कहीं गयी थी। फिलहाल उसे सोनारी एसीबी कार्यालय में रखा गया है। आज उसे जेल भेजा जाएगा।