उप महापौर बन यूं फर्श से अर्श तक पहुंची शर्मीली परवीण !

वर्ष 2017 के नगर निगम चुनाव में पूरे 46 वार्डों में सबसे ज्यादा वोट यानी 2681 वोट से यह जीत हासिल कर शर्मीली परवीण ने एक रेकार्ड कायम  किया था……..”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क (दीपक विश्वकर्मा)। वर्ष 2017 के नगर निगम के चुनाव में सबसे ज्यादा वोट से जीत हासिल करने वाली शर्मीली परवीन आज बिहार शरीफ नगर निगम की उपमहापौर बन गई। 

इनकी कहानी फर्श से अर्श तक की है। दरअसल वह छज्जू मोहल्ला निवासी स्वर्गीय रियाज अहमद की सबसे छोटी बेटी हैं। इनसे बड़ी तीन बहनें और चार भाई हैं।

जीत के बात अपने शौहर के साथ विजयी मुद्रा में उप महापौर शर्मीली परवीण…

गरीबी की जिंदगी गुजर बसर करने वाले रियाज़ अहमद बीड़ी बनाते थे और बीड़ी बनाकर न केवल अपने परिवार का भरण पोषण किया बल्कि अपने बच्चों को अच्छी तालीम भी दी।

शर्मीली परवीन की प्रारंभिक शिक्षा मोहल्ले के ही नेशनल हाई स्कूल में हुई। बचपन से ही तेजतर्रार शर्मीली पढ़ाई के अलावे अपनी मां का घरेलू काम में हाथ भी बंटाती थी।

वर्ष 2008 में इनकी शादी बिहार नगर पालिका के पूर्व उपाध्यक्ष स्वर्गीय कमरुल हसन के पुत्र नदीम जफर उर्फ गुलरेज के साथ हुई। इनकी दो बेटियां हैं। शर्मीली ने कभी यह नहीं सोचा था कि वह अपने ससुर और पति की गद्दी पर बैठ सकेंगी।

लेकिन किस्मत का लिखा कौन टालता है। इनकी किस्मत में लिखा था विरासत की कुर्सी संभालना, जो इन्हें मिल गयी।  

जीत हासिल करने के बाद शर्मीली परवीन ने कहा कि सबका साथ लेकर सबका विकास मैं बिना भेदभाव के करूंगी। साथ ही उन्होंने राज्य सरकार कि योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में हमेशा तत्पर रहूंगी। 

उन्होंने इस जीत के लिए न केबल अपने समर्थक पार्षदों को, बल्कि जिन्होंने उन्हें वोट नहीं दिया है, उन्हें भी उन्होंने अपनी ओर से बधाई दी है। 

उनका कहना है कि बिहार शरीफ शहर स्मार्ट सिटी हो गया है। ऐसे में बड़े पैमाने पर पूरे शहर का विकास होना है। जिसमें बिना भेदभाव के सभी पार्षदों का उन्हें साथ मिलना जरूरी है। 

Related News:

सीओ के आश्वासन के बाद आमरण अनशन समाप्त
राजगीर गर्म कुंड परिसर से सटे लगी भीषण आग के कारण जान चौंक जाएंगे आप
अंततः यूं हाथी पर बैठ नालंदा का बेलछी पहुंचना इंदिरा जी को सत्ता दिला दी
खुद फर्जीवाड़ा में फंस गए मीडिया पर आरोप लगाने वाले कोडरमा चाइल्ड लाइन का निदेशक
पावर ग्रिड चालू होने के बाद ही राजगीर-बख्तियारपुर रेलखंड में दौड़ेगी इलेक्ट्रिक इंजन
नक्सलियों ने भाजपा दफ्तर को उड़ाया, अर्जुन मुंडा हैं यहां पार्टी उम्मीदवार
श्रावणी मेला: पुलिस की निष्क्रियता से कांवरिया पथ पर चोर उचक्के की चांदी
JAC अध्यक्ष दुर्गा उरांव ने की राजनामा के संपादक पर फर्जी पुलिस केस की भ्रत्सना, राजगीर मामले को लेक...
पत्रकार पुत्र हत्या कांड की गुत्थी में उलझी पुलिस
चौंकिये मत, यह सीएम नीतिश कुमार के गृह जिले का सरकारी उप स्वास्थ्य केंद्र है !
बिहारशरीफ के सोगरा कॉलेज में तरावी की नमाज शुरु
तो चलिए डीजीपी साहब, सुशासन बाबू के नालंदा से ही शुरु हो जाइए
बिहार के 225 डिग्री कॉलेजों को 5 साल से नही मिला अनुदान
जिला जज ने बिहार शरीफ पर्यवेक्षण गृह का यूं किया निरीक्षण, लगाए फलदार पौधे
टोल प्लाजा पर डबल टोल टैक्स का जोरदार विरोध प्रदर्शन
संदिग्ध नईम की छानबीन को लेकर 3री बार गोपालगंज पहुंची एनआईए की टीम
वाहन से वसूली करते थानेदार धर्मेंद्र और दरोगा हरेन्द्र अरेस्ट
अच्छे रिजल्ट के लिए अच्छी पढ़ाई जरूरी: मंत्री, शिक्षा में गुणवत्ता बढ़ाएं शिक्षकः सांसद 
5 लाख लेकर यूं दुत्कारा सोगरा वक्फ स्टेट का मुतलवी, पुलिस-प्रशासन-मीडिया भी पंगु
मनमानी और लूट का अड्डा बने प्रज्ञा केन्द्र और बरगलाते अफसर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...