अन्य
    Sunday, June 16, 2024
    अन्य

      नालंदा में फर्जी प्रमाण पत्र बनाने के बड़े रैकेट का भंडाफोड़, दो धंधेबाज गिरफ्तार

      “वे पिछले कई सालों से फर्जी प्रमाण पत्र बना रहे थे। वे विभिन्न प्रकार के फर्जी प्रमाण पत्र बनाते थे, जिनमें जन्म प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र और शैक्षणिक प्रमाण पत्र शामिल हैं…

      नालंदा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। नालंदा जिला मुख्यालय बिहारशरीफ अवस्थित बिहार थाना क्षेत्र के अम्बेर में पुलिस ने फर्जी प्रमाण पत्र बनाने के एक बड़े रैकेट का भंडाफोड़ किया है। इस रैकेट में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

      इस मामले को लेकर सदर डीएसपी डॉ शिब्ली नोमानी ने बताया कि बिहार थानाध्यक्ष को गुप्त सूचना मिली थी कि अम्बेर चौराहा के कचहरी के पास स्थित अरूण बुक स्टॉल एवं साईबर कैफे नामक दुकान में फर्जी प्रमाण पत्र बनाया जा रहा है। सूचना के आधार पर पुलिस ने गुरुवार को दुकान पर छापा मारा।

      छापेमारी के दौरान पुलिस ने बड़ी मात्रा में फर्जी प्रमाण पत्र, प्रमाण पत्र बनाने का लेखा-जोखा और अन्य दस्तावेज बरामद किए। मौके से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान रहुई थाना क्षेत्र के भदवा निवासी अरूण कुमार वर्मा और रहूई निवासी धर्मेन्द्र कुमार के रूप में हुई है।

      पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे पिछले कई सालों से फर्जी प्रमाण पत्र बना रहे थे। वे विभिन्न प्रकार के फर्जी प्रमाण पत्र बनाते थे, जिनमें जन्म प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र और शैक्षणिक प्रमाण पत्र शामिल हैं।

      पुलिस ने आरोपियों के पास से 15 फर्जी जन्म प्रमाण पत्र भी बरामद किए हैं। इन प्रमाण पत्रों को संबंधित कार्यालय से सत्यापन के क्रम में फर्जी पाया गया है। पुलिस का मानना है कि इस रैकेट में अन्य लोग भी शामिल हो सकते हैं। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!