अन्य
    Wednesday, June 19, 2024
    अन्य

      छुट्टी से लौटे केके पाठक के इस बड़े आदेश को नालंदा डीएम ने दी चुनौती

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। बिहार शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने लंबी छुट्टी से लौटते ही आज शनिवार बिहार में बढ़ते ठंड के बिहार के विभिन्न जिलों में स्कूलों को बंद करने के आदेश पर सवाल खड़ा किया है और स्कूलों को बंद करने के आदेश को तत्काल प्रभाव से वापस लेने का आदेश दिया है।

      खबरों के अनुसार बिहार की राजधानी पटना समेत कई जिलों में ठंड के कारण वर्ग 8 तक के स्कूलों को बंद किया गया है। लेकिन, प्रभार ग्रहण करते ही अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने विभिन्न जिलों के डीएम के आदेश पर सवाल उठाया है और सभी प्रमंडलीय आयुक्त से कहा है कि तत्काल प्रभाव से सभी जिलों में आदेश को वापस लिया जाए।

      उन्होंने प्रमंडलीय आयुक्त और जिलाधिकारी के आदेश पर सवाल उठाते हुए शीतलहर को लेकर स्कूल बंद करने के आदेश को गलत बताया। उन्होंने कहा है कि बात-बात पर स्कूल बंद करने की परंपरा पर रोक लगना चाहिए। डीएम बिना शिक्षा विभाग के अनुमति के कोई भी आदेश नहीं जारी करें।

      वहीं अब केके पाठक के आदेश को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिला नालंदा जिलाधिकारी ने चुनौती दी है। जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने अब 23 जनवरी तक स्कूल बंद रखने का आदेश दिया है।

      इसके पहले नालंदा डीएम ने 20 जनवरी तक के लिए स्कूल बंद रखने का आदेश दिया था। वहीं ठंड के कारण स्कूलों में छुट्टी 23 जनवरी तक के लिए बढ़ा दी गई है। जिलाधिकारी ने प्राईमरी स्कूल से लेकर वर्ग 8 तक स्कूल बंद रखने का आदेश दिया है। नालंदा जिले में ठंड को देखते हुए आठवीं तक के स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र 23 जनवरी तक बंद रहेंगे।

      वहीं केके पाठक ने आज ही सभी प्रमंडलीय आयुक्त पत्र भेजकर बिना शिक्षा विभाग की अनुमति के आदेश निकालना गलत बताया है और स्कूलों के बंद करने के आदेश को वापस लेने को कहा था। लेकिन, नालंदा जिलाधिकारी ने आदेश वापस लेने की वजाए स्कूलों में छुट्टी की अवधि बढ़ा दी है।

      क्या अब मिट्टी में मिलने को तैयार हैं नीतीश कुमार ?

      केके पाठक की बढ़ती छुट्टी बना नीतीश सरकार का नया सरदर्द

      खरसावां का भव्य मां आकर्षणी मंदिर दर्शन, जहाँ होती है पत्थर के टुकड़ों की पूजा

      जानें आखिर कौन हैं गुगल सर्च में अचानक टॉप ट्रेंड हुई कल्पना सोरेन

      झारखंड की राजनीति में भूचाल, अब यहाँ बनेगी ‘राबड़ी सरकार’ !

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!