अन्य
    Sunday, June 16, 2024
    अन्य

      जहरीली शराब से हुई मौतों पर बोले सीएम नीतीश कुमार- ‘जो पियेगा वो मरेगा ही, उदाहरण सामने है’

      “शराबबंदी कानून मेरा फैसला नहीं था। बिहार की महिलाओं ने इसकी मांग मुझसे की थी तब मैंने इसे लागू किया। जो पियेगा वह मरेगा ही, यह सही बात है…

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने एक बार फिर बिहार में शराबबंदी जारी रहने की बात कही है। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि जहरीली शराब से तो शुरू से लोग मरते हैं, जहरीली शराब से अन्य राज्यों में भी लोग मरते हैं। लोगों को सचेत रहना चाहिए।

      सीएम नीतीश ने कहा, ”बिहार में जब शराबबंदी है तो खराब शराब मिलेगी ही, जो शराब पियेगा वो मरेगा ही। इस पर पूरी तरह से एक्शन होगा।”

      सीएम नीतीश कुमार ने आगे कहा, मैंने अधिकारियों को कहा है कि गरीबों को न पकड़ें, जो लोग इसका व्यवसाय कर रहे हैं उन्हें पकड़ें। शराबबंदी कानून से कई लोगों को फायदा हुआ है। कई लोगों ने शराब छोड़ दी है।

      बता दें कि जहरीली शराब से छपरा में 40लोगों की मृत्यु हो चुकी है और मौत का क्रम अब भी जारी है।

      सीएम नीतीश कुमार ने कहा, जो पार्टी हंगामा कर रही है उन्हें लोगों को जाकर शराबबंदी के पक्ष में समझाना चाहिए। बीजेपी बताए कि जिन-जिन राज्यों में उनकी सरकार है वहां जहरीली शराब से कितनी मौत होती है। हमलोगों ने बिहार में शराबबंदी कानून को लेकर कानून भी बनाया और प्रचार-प्रसार भी बड़े पैमाने पर किया। सभी पार्टियों ने इसका समर्थन किया इसलिए बिहार में शराबबंदी कानून लागू है।

      सीएम नीतीश कुमार ने आगे कहा, शराबबंदी कानून मेरा फैसला नहीं था। बिहार की महिलाओं ने इसकी मांग मुझसे की थी तब मैंने इसे लागू किया। जो पियेगा वह मरेगा ही, यह सही बात है।

      नीतीश ने कहा, शराब से अभी तक जितने लोगों की मौत हुई है वह बहुत ही गलत हुआ है। विधानसभा में मैंने विपक्ष को इसलिए बोला क्योंकि उन्होंने शराबबंदी के पक्ष में नारा लगाया था। लागू करने के समय वे भी साथ थे।

      सीएम ने कहा, जहरीली शराब से बीजेपी के शासित राज्यों में जहां मौत हो रही , उस पर वह कुछ नहीं बोलते हैं। बीजेपी वाले सच्चाई को लोगों तक जाने नहीं देते हैं। बीजेपी तीन चार महीने तक हमारे साथ थे, तब उन्हें इसमें कोई दिक्कत नहीं लगती थी। आज साथ नहीं हैं तो उन्हें दिक्कत लग रही है। विपक्ष भी अभियान चलाए कि शराब लोग ना पीये। सरकार का सहयोग करें।

       

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!