अन्य
    Sunday, June 16, 2024
    अन्य

      देखिए नक्सलियों की बदमाशी, कोरोना आपदा के बीच रेलवे ट्रैक को उड़ाया, आवागमन ठप

      सिंहभूम (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। एक तरफ जहां पूरे देश के साथ झारखंड  कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ झारखंड में नक्सलियों का तांडव जारी है।

      See the bullying of the Naxalites the railway track was blown up in the Corona disaster the traffic came to a standstill 1खबर है कि रविवार-सोमवार की मध्य रात्रि नक्सलियों ने पश्चिमी सिंहभूम के चक्रधरपुर रेल मंडल के लोटा पहाड़-सोनुआ रेलखंड के बीच आप लाईन के किलोमीटर पोल संख्या 322/ 17 के पास करीब एक मीटर रेलवे ट्रैक को विस्फोट कर उड़ा दिया। जिससे इस मार्ग पर आवागमन पूरी तरह ठप हो गया है। सभी ट्रेनें जहां-तहां रुकी हुई है।

      वैसे ऊपर वाले का लाख-लाख शुक्र है कि इस दौरान उक्त मार्ग से कोई यात्री अथवा मालवाहक ट्रेन का परिचालन नहीं हो रहा था।

      बताया जाता है कि लंबे समय के बाद नक्सलियों ने रेलवे ट्रैक को निशाना बनाया है। इनका मकसद सीधे केंद्र सरकार को नुकसान पहुंचाने का माना जा रहा है।

      नक्सलियों ने उक्त रेलखंड पर जहां-तहां पोस्टर बाजी भी की है। जिसमें लिखा है “देशव्यापी किसान आंदोलनों एवं विभिन्न जन संघर्षों पर राजकीय दमन के खिलाफ आज भारत बंद है”। 

      See the bullying of the Naxalites the railway track was blown up in the Corona disaster the traffic came to a standstill 2वैसे पिछले तीन-चार दिनों से नक्सलियों ने इलाके में जगह-जगह पोस्टर बाजी कर अपनी मंशा जाहिर कर दी थी।

      इधर घटना की सूचना मिलते ही रेल सुरक्षा बल और स्थानीय पुलिस घटनास्थल पर पहुंच मामले की छानबीन में जुट गई है।

      उधर इस घटना के बाद इलाके में दहशत देखा जा रहा है। एक तरफ पूरा देश जहां कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ नक्सलियों के इस हरकत ने सरकार और प्रशासन की नींद हराम कर दी है।

      पश्चिमी सिंहभूम जिले में लगातार नक्सली किसी ने किसी घटनाओं को अंजाम देकर अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं।

      फिलहाल ट्रैक मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया है। साथ ही रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। फिलहाल उक्त मार्ग पर दोनों तरफ से आवागमन रुका हुआ है।See the bullying of the Naxalites the railway track was blown up in the Corona disaster the traffic came to a standstill 4

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!