अन्य
    Saturday, May 25, 2024
    अन्य

      नालंदाः अधजला शव मामले में महिला गिरफ्तार, इस कारण हुई महिला की जलाकर हत्या

      “यही नहीं, शव को कंही अन्य जगह जलाया गया है और उसके बाद शव को पुलिस को चकमा देने को लेकर अन्य जगह रखा गया है। क्योंकि जिस जगह से शव बरामद हुआ है, वहीं सूखा जलावन पड़ा है। लेकिन सिर्फ़ शव जला हुआ है। अन्य कोई सामग्री नहीं जला हुआ है….

      नालंदा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। नालंदा जिले के नगरनौसा थाना क्षेत्र के महानंपुर शाहपुर गांव से शुक्रवार के सबुह नगरनौसा पुलिस ने महिला का एक अधजला शव बरामद किया। महिला की पहचान गांव निवासी सुरेंद्र सिंह के 45 बर्षीय पुत्री विभा देवी के रूप में किया गया है। महिला का ससुराल सरमेरा के चोरसुआ बताया जाता है।

      Nalanda Woman arrested in Adhajala dead body burnt to death in property dispute 1घटना के सम्बंध में प्राप्त जनकारी के अनुसार गांव निवासी सुरेंद्र सिंह का अपने भाई बृजमोहन सिंह के साथ जमीनी विवाद चल रहा था। सुरेंद्र प्रसाद की पत्नी की मौत हो चुकी है। सुरेंद्र प्रसाद को दो पुत्री है।

      बड़ी पुत्री विभा देवी पिछले चार पांच दिनों से वह अपने मायके शाहपुर गांव आई हुई थी। विभा देवी अपने पिता को सेवा करने को लेकर अक्सर गांव आया करती थी। विभा देवी अपने परिवार के साथ पटना में रहती थी और अक्सर पांच-दस दिन में गांव आया करती थी।

      सुरेंद्र सिंह को सिर्फ़ पुत्री होने के कारण उनके भाई बृजमोहन सिंह का नजर सुरेंद्र सिंह के जमीन पर था। इसकी को लेकर कई बर्षों से दोनों के बीच जमीन को लेकर विवाद चला आ रहा था।

      गुरुवार के रात्रि बृजमोहन सिंह व उसके पुत्र ने महिला को जलाकर हत्या कर दिया। बरामद लाश ताङ व रस्सी से बंधी हुई थी। जिससे प्रतीत होता है कि मृतका को जलाने के पुर्व हाथ पैर रस्सी से बांध दिया गया हो।

      इधर घटना की जनकारी मिलते ही नगरनौसा थानाध्यक्ष नारद मुनि सिंह अपने दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंच शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिये सदर अस्पताल बिहारशरीफ दिया। मृतक के कमर बिजली का तार व रस्सी के बंधा हुआ था।

      इस मामले में मृतक विभा देवी के पुत्र सरमेरा थाना क्षेत्र के इसुआ गांव निवासी विकास कुमार ने बृजमोहन सिंह, जितरंजन कुमार, रानी देवी, पूनम देवी, प्रियेश कुमार व पीयूष कुमार के खिलाफ अपनी माँ का जलाकर हत्या कर देने का आरोप लगा प्राथमिक दर्ज कराया है।

      अपने दर्ज प्राथमिकी में पीड़िता विकास कुमार ने कहा कि मेरे नाना जी का दो मात्र पुत्री है। जिनका नाम विभा देवी व शशिकला देवी हैं। मेरे नाना सुरेंद्र सिंह का कोई पुत्र नहीं है। मेरे नाना चार भाई हैं। उमेश सिंह उर्फ़ हरिगोविंद सिंह,सुरेंद्र सिंह,गजेंद्र सिंह, बृजमोहन सिंह हैं।

      मेरे नाना के संपति के बारिश मेरी माँ विभा देवी व मेरी मौसी शशिकला देवी हैं। मेरे नाना के भाई बृजमोहन सिंह उनका बेटा चितरंजन कुमार मेरे नाना के सम्पति के हिस्सा को दखल करना चाहते हैं।

      इस सम्पति विवाद को लेकर हिलसा कोर्ट में बर्ष 2003 -04 से टाइटलसूट चल रहा है। पूर्व में भी बृजमोहन सिंह व चितरंजन कुमार एवं उनकी पत्नी पूनम देवी के द्वारा सम्पति हड़पने के लिए 2013 – 14 में मेरे नाना व मेरी माँ को मारने का प्रयास किया था, जिसके संबंध में नगरनौसा थाना में केस दर्ज कराया गया था।

      ये लोग बराबर जान मारने की धमकी व जान मारने की कोशिश करते रहते थे। उनलोगों को डर से मेरे नाना पटना स्थित बेऊर में किरायाके मकान में रहते थे। साथ में नाना के सेवा के लिए मेरी माँ व मैं भी पटना में रहता था।

      24 मई को मेरी माँ अपने चचेरा चाचा गौतम सिंह उर्फ़ चुनचुन सिंह के छोटे पुत्र के गवना में शामिल होने के लिए शाहपुर गांव आई थी। उसी समय से गांव में अकेले रह रहती थी।

      27 मई को करीब 9 बजे संध्या में थोड़ी देर मोबाइल पर बात हुई थी। जिसमे माँ बोली कि बृजमोहन सिंह, जितरंजन कुमार,रानी देवी, पूनम देवी, प्रियेश कुमार व पीयूष कुमार गाली गलौज किया तथा जान मारने की धमकी दिया था।

      मौसम अधिक खराब होने के कारण हमलोग शाहपुर नहीं आ सके। कुछ देर बाद माँ का फोन बंद बताने लगा। रात्रि में माँ की हत्या होने के खबर मिली।

      थानाध्यक्ष नारद मुनि सिंह ने बताया कि जमीनी विवाद को लेकर महिला की हत्या किया गया है। मामले की जांच की जा रही है। पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए एक आरोपी रानी देवी को गिरफ्तार किया है। अन्य अभियुक्तों के गिरफ्तारी को लेकर पुलिस संभावित ठिकानों पर लगातार छापेमारी की जा रही है। जल्द ही सभी अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!