अन्य
    Sunday, May 26, 2024
    अन्य

      इस कांग्रेसी नेता के प्रति देखिए युवाओं का प्यार, बीच सड़क यूं गुंडागर्दी कर किया इजहार !

      जमशेदपुर (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)।  कांग्रेस नेता अजय सिंह के जन्म दिन के मौके पर उनके ही समर्थक आपस में भिड़ गए और सड़क के बीचोंबीच जमकर मारपीट की। नेताजी के कार्यक्रम का ये वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

      jamshedpur congress ajay singh jharkhand birthday gundagardi 1वहीं बर्थ-डे ब्यॉय नेता जी ने  मार-पीट के बारे पूछे जाने पर कहा कि ये युवाओं का प्यार है। अब आप भी अनुमान लगा लीजिये कि खुलेआम सडको पर मार-पीट का मतलब कौन सा प्यार है।

      खुद को युवा ह्रदय सम्राट कहलाने वाले कांग्रेस नेता अजय सिंह ने अपना जन्मदिन बड़े हर्षोउल्लास से जमशेदपुर के बिष्टुपुर स्थित मिलानी हॉल में मनाया। जहां बड़ी संख्या में छात्र नेता अजय सिंह के समर्थन में  लोग एकत्रित हुए और जन्मदिन पर 60 पॉन्ड का केक भी काटा।

      कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय सिंह ने बिष्टुपुर स्थित मिलानी हॉल में अपना जन्मदिन मनाया जिसमे हजारो की संख्या में उनके समर्थन में लोग उपस्थित हुए। अजय सिंह ने अपने जन्मदिन के उपरांत बिष्टुपुर जी टाऊन मैदान से अपने समर्थकों के साथ रैली निकाली।

      रैली जी टाउन मैदान से बिष्टुपुर होते हुए मिलानी हॉल पहुँची, जहाँ जन्मदिन में निकली रैली के दौरान अजय सिंह के समर्थक खुद ही आपस मे किसी बात को लेकर भिड़ गए। जिसके बाद उनके समर्थन में आए युवाओ में जमकर मारपीट  शुरू हो गई।

      एक तरफ छात्रों के युवा नेता अपने जन्मदिन पर ह्रदय सम्राट बनकर युवाओ  दिल मे बसना चाहते है तो दूसरी तरफ युवाओं ने नेताजी के जन्मदिन के रंग में भंग डाल दिया।

      एक तरफ जहाँ वैश्विक महामारी में राज्य सरकार अनलॉक के साथ लोगो से दो गज की दूरी और मास्क जरूरी की बात कह रही है। और राज्य में गठबंधन की सरकार जो जेएमएम और कांग्रेस मिलाकर चला रही, लेकिन जन्मदिन पर वरिष्ठ कांग्रेस अजय सिंह शायद संक्रमण को न्यौता देना चाहते है।

      तभी तो सरकारी नियमो को ताक पर रख कर रैली निकाल चले जन्मदिन मनाने।  वही नेता जी से जब पूछा गया कि आज युवा बेरोजगार है, तो उन्होंने कहा कि सभी छात्र मेरे जन्मदिन को युवा शक्ति के रूप में  मानते है और सारे छात्राएं हमको अपना आदर्श मानती है और हमारा जन्मदिन मानती है।

      वही बेरोजगारी के मुद्दे पर कहा कि इस पर विस्तार से बात करने की जरूरत है, मगर जन्मदिन पर निकली रैली में हुई मारपीट के मामले में कहा कि यही तो प्यार है।

      अब सवाल उठता है यह कैसा प्यार कि आप कोरोना को कुछ समझते नहीं और खुलेआम मार-पीट को युवाओं का प्यार समझते है। वैसे इस रैली की हकीकत जान आप भी हैरान हो जाएंगे।

      सूत्र बताते हैं कि बाईक रैली में शामिल युवाओं को न पढ़ाई से मतलब है न नेतागिरी से ये सभी किराए पर सहज उपलब्ध हैं, आज इनकी रैली में कल उनकी।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!