अन्य
    Friday, June 21, 2024
    अन्य

      उदयपुर के कन्हैयालाल की हत्या में शामिल आतंकी का जानें भीलवाड़ा कनेक्शन

      **  दस भाई-बहनों में सबसे छोटा आतंकी रियाज, उसकी करतूत पर शर्मिंदा हैं परिवार वाले…**

      भीलवाड़ा (इंडिया न्यूज रिपोर्टर)। राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल साहू टेलर की हत्या के मामले में गिरफ्तार एक आरोपित मोहम्मद रियाज भीलवाड़ा जिले के आसींद का रहने वाला है। वह दस भाई-बहनों में सबसे छोटा है। रियाज की इस करतूत के बाद उसके परिवार के लोग भी शर्मिंदा हैं।

      उसके भाई और भतीजों का कहना है कि रियाज ने हमारे परिवार का नाम खराब किया है। उसको कड़ी सजा मिलनी चाहिए। लंबे समय से वह उसके संपर्क में नहीं है। आज उसे फोटो से ही पहचाना है।

      मोहम्मद रियाज ने माता पिता का निधन होने के बाद 20 वर्ष पूर्व आसींद छोड़ दिया था। रियाज के भाई अब्दूल अय्यूब ने उसकी करतूत से शर्मिंदा हैं।

      उन्होंने कहा है कि उनके भाई ने गलत काम किया है। उसे सजा मिलनी चाहिए। रियाज जब आसिंद में रहता था, तब तक ऐसा नहीं था। वह उदयपुर में किसके सम्पर्क में आकर ऐसा गलत काम कर बैठा नहीं पता। वे तो अपने काम से काम रखता है। सुबह रोज मजदूरी के लिए शंभुगढ़ जाता हूं और शाम को लौटता हूं।

      मोहम्मद रियाज लगभग 20 साल पहले अपने पिता जब्बार लुहार के निधन के बाद उदयपुर में ही जा बसा था। उसका ससुराल भी उदयपुर में ही है। रियाज के कुल 9 भाई में से अब्दुल, अय्यूब, इकराम, सरफूद्दीन और सिकन्दर का परिवार आसींद कस्बे में रहता है।

      आसींद में रहने वाले इसके दो भाई इकबाल और युसुफ की मौत हो चुकी है। रियाज के दो भाई सिराज और इस्लाम अजमेर जिले के बिजयनगर में रहते हैं। बिजयनगर में रहने वाले एक भाई कय्यूम की भी मौत हो चुकी है।

      रियाज के रिश्तेदारों ने बताया कि वह अपने भाई की मौत पर भी आसींद नहीं आया था। रियाज के पिता अब्दुल जब्बार लुहार मूलरूप से जैसलमेर जिले के भाटी लुहार थे।

      वे वेल्डिंग और लुहार का काम करते थे और जैसलमेर से आकर आसींद और बिजयनगर में बस गये। अभी भी इसके परिवार के लोग वेल्डिंग का ही कार्य करते हैं।

      उदयपुर के जघन्य हत्याकाण्ड के आरोपित रियाज का कनेक्शन भीलवाड़ा जिले के आसींद से होने के बाद भीलवाड़ा पुलिस ने सतर्कता बढ़ाते हुए आसींद कस्बे में पुलिस बल तैनात किया है। रियाज के पैतृक घर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

      रियाज के दो भतीजों मोहम्मद शरीफ और नासिर मोहम्मद ने कहा कि वह चाचा के इस अपराध पर शर्मिंदा हैं। चाचा ने हमारे परिवार और गांव का नाम खराब किया है। उनको कानून के अनुसार सजा मिलने चाहिए। इस हत्याकाण्ड से हमारे यहां का भाईचारा बिगड़ा है।

      आसींद के पुलिस उप अधीक्षक लक्ष्मण राम और थानाधिकारी सतीश मीणा ने कहा है कि आसींद कस्बे में पुलिस बल तैनात किया है। रियाज के भाई और भतीजे के परिवार को सुरक्षा मुहैया करवाई है।

      आसिंद के समाज सेवी निर्मल मेहता और अंजुमन कमेटी आसींद के सदर मस्कुर अहमद शेख ने हत्याकांड की निंदा करते हुए सभी से भाईचारा बनाए रखने की अपील की है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!