अन्य
    Sunday, February 25, 2024
    अन्य

      हीरो नहीं, विलेन हैं ‘खाकी द बिहार चैप्टर’ बेव सीरिज फेम अमित लोढ़ा, केस दर्ज

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। ओटीटी नेटफ्लिक्स पर धूम मचा रहे वेब सीरिज ‘खाकी द बिहार चैप्टर’ के नायक और आईपीएस अधिकारी अमित लोढ़ा असल जिंदगी में हीरो नहीं विलेन हैं। ये हम नहीं बल्कि बिहार सरकार कह रही है। बिहार सरकार की स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने अमित लोढा पर गंभीर आरोप लगाये हैं। लोढ़ा के खिलाफ FIR दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी गयी है।

      खबरों के मुताबिक बिहार सरकार की स्पेशल विजिलेंस यूनिट यानि एसवीयू ने आज अमित लोढा के खिलाफ केस दर्ज होने की जानकारी दी है। एसवीयू  की ओऱ से दी जानकारी के मुताबिक आइपीएस अमित लोढा  मगध क्षेत्र गया के आईजी पद पर तैनात थे।

      इस दौरान उनके खिलाफ भ्रष्टाचार और निजी स्वार्थ और लाभ के लिए वित्तीय गड़बड़ी यानि घोटाले का आऱोप लगा था। अमित लोढ़ा के खिलाफ लगे आऱोपों की जांच करायी गयी थी, जिसमें उनके खिलाफ लगे आऱोपों को प्रथम दृष्टया सही पाया गया था।

      स्पेशल विजिलेंस यूनिट के मुताबिक निगरानी विभाग के दिशा निर्देशों के साथ साथ प्रारंभिक जांच में पाये गये सबूतों और तथ्यों के आधार पर अमित लोढ़ा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी है।

      स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने 7 दिसंबर को अमित लोढा के खिलाफ कांड संख्या-17/2022 दर्ज किया गया है। अमित लोढ़ा के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण कानून यानि पीसी एक्ट की धाराओं के साथ साथ आईपीसी की धारा 120 बी और 168 के तहत केस दर्ज किया गया है।

      यही नहीं, बिहार सरकार ने अमित लोढा के खिलाफ इस बात को लेकर भी मुकदमा किया है कि उन्होंने खाकी वेबसीरिज द बिहार चैप्टर क्यों बनवाया।

      स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने ये भी आरोप लगाया है कि सरकारी सेवक रहते अमित लोढ़ा ने नेटफ्लिक्स औऱ फ्राइडे स्टोरी टेलर के साथ करार कर पैसे कमाये। इसके कारण ही उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 168 के तहत भी मुकदमा दर्ज किया गया है।

      बता दें कि अमित लोढ़ा के गया के आईजी रहते वहां के एसएसपी आदित्य कुमार से विवाद हुआ था। शराब के एक मामले में थानेदार के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने पर आईजी अमित लोढ़ा ने एक्शन लिया था। इसके बाद तत्कालीन एसएसपी आदित्य कुमार से उनका विवाद हुआ।

      इसी साल 2 फरवरी को राज्य सरकार ने गया के आईजी और एसएसपी दोनों का ट्रांसफर कर दिया था। ये वही आदित्य कुमार हैं, जिन पर पटना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस ने नाम का फर्जी कॉल करा कर अपने खिलाफ केस खत्म कराने का आरोप लगा है। अब राज्य सरकार ने अमित लोढा के खिलाफ केस दर्ज किया है।

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      - Advertisment -
      - Advertisment -
      संबंधित खबरें
      - Advertisment -
      error: Content is protected !!