भाजपा नेता-वकील की गला रेतकर हत्या, सरयू राय के करीबी जमीन माफिया का हाथ !

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। झारखंड के जमशेदपुर में बेखौफ अपराधियों ने जहां दिनदहाड़े जिले के उलीडीह थाना पुलिस के गश्ती वाहन पर तलवार से हमला कर वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया, वहीं देर रात बेखौफ अपराधियों ने बिरसानगर थाना क्षेत्र में भाजपा नेता प्रकाश यादव की गला रेतकर हत्या कर दी। प्रकाश यादव पेशे से अधिवक्ता थे।

खबर है कि जमीन माफिया के खिलाफ आवाज उठाने की कीमत उन्हें जान देकर चुकानी पड़ी है। उधर घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। प्रकाश यादव की हत्या उनके घर से 100 मीटर की दूरी पर कर दी गयी।

परिजनों के मुताबिक दोस्तों ने फोन कर उन्हें बुलाया था और बिरसानगर हरि मंदिर के पास सात से आठ लोगों ने कुल्हाड़ी और तलवार से हमला कर दिया। जहां उनकी मौके पर ही मौत हो गयी। घटना के बाद सभी अपराधी मौके से भागने में सफल रहे।

परिजनों ने बिरसानगर के जमीन माफिया अमूल्या कर्मकार और गौतम व उनके साथियों पर हत्या का आरोप लगाया है। अमूल्या कर्मकार विधायक सरयू राय के करीबी माने जाते हैं, जो बिरसानगर भारतीय जन मोर्चा के अध्यक्ष भी हैं।

वहीं घटना की सूचना मिलते ही सिटी एसपी बिरसा नगर थाना प्रभारी के साथ दल बल पर देर रात घटनास्थल पहुंचे। मौके पर  सिटी एसपी ने कहा कि अपराधी चाहे कोई भी हो जल्द ही सलाखों के पीछे भेजे जाएंगे।

कहा रहा है कि भाजपा नेता ने जमीन माफियाओं के खिलाफ एसडीओ से शिकायत की थी। पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुट गई है। घटना के बाद इलाके के लोगों में आक्रोश देखा जा रहा है।

1 COMMENT

  1. हत्या किसी की भी हो एक घृणित ओर कायरता पुर्ण काम है प्रकाश यादब की हत्या भी एक कायराना कार्य है। सरकार का काम है कानून ब्य्बस्था कायम करना जिसमे काफी लम्बे समय से नाकाम है।
    आरोप प्रत्यारोप एक अलग बिषय है रघुबर दास ओर उनके सिपह्स्लार कितने योग्य है ये सबको पता है इनके मुख्यमंत्री के कार्यकाल मै ही ये सब भू माफिया बनकर करोड़पति ही नही अरबपति बनने की कगार पर है इन्होने कितने रियल स्टेट के धन्धे खडे किये है ये भी जांच का बिषय है जो पांच साल पहले पेदल घंटे थे आज 50 लाख की गाडी मै घूम रहे है आखिर ऐसा कौन सा धन्धा है की इन पांच सालों मै इतनी संपति अर्जित की है रघुबर दास के मुख्यमंत्री कार्यकाल मै इनके लोगों ने चलान कत चुके अपराधी को जेल भेजने के क्रम मै गमहरीया से छूडबा लिया था, सिद्धगौडा थाना मै पुलिस के साथ मार पीट की गई थी, ये सारा काम किसके इशारे पर हुआ था ये किसी से छुपा नही है इसलिय ये हत्या एक निन्द्नीय कार्य है सरकार को चाहिये की कोई भी अपराध अपराध ही है इसकी जांच सही तरीके से हो ओर भू माफियाओ पर कठोर कार्यवाई कर अपराधी को सजा दिलबयाए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.