अन्य
    Saturday, May 25, 2024
    अन्य

      एसएसपी ने हवलदार समेत 3 घूसखोर पुलिसकर्मी को उसी के थाने के लॉकअप में किया बंद

      पटना एसएसपी ने हवलदार समेत तीनों पुलिसकर्मी को प्रथम दृष्टया दोषी पाए जाने पर तत्काल गिरफ्तार करने का आदेश दिया गया। जो सोमवार की रात उसी थाने की हाजत में बंद रहे, जहां पिछले कई महीनों से ड्यूटी बजा रहे थे

      एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार की राजधानी पटना में घूसखोरी के आरोप में फंसे पुलिसकर्मियों के खिलाफ पटना एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बड़ी कारवाई की है। पिछले 6 दिनों में दो थाना क्षेत्रों में थानाध्यक्ष से लेकर हवलदार और सिपाही तक की घूसखोरी के आरोप में गिरफ्तारी हुई है।

      पटना के रामकृष्ण नगर थाना के तीन पुलिसकर्मियों को एक होटल संचालक से घूस लेने के आरोप में उन्‍हीं की तैनाती वाले थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद इन तीनों को तत्काल प्रभाव से निलंबित भी किया गया है।सोमवार को तो एसएसपी ने तीन जवानों को उनके थाने की हाजत में ही कैद कर दिया।

      रामकृष्ण नगर थाना क्षेत्र में एक आवासीय होटल में मारपीट की घटना घटी थी। एसएसपी को किसी ने इसकी जानकारी दे दी थी। एसएसपी ने तत्काल रामकृष्ण नगर थाना प्रभारी को मामले की जांच कर कार्रवाई का निर्देश दिया।

      थानेदार ने क्विक मोबाइल के जवानों को तत्काल मौके पर पहुंचने का निर्देश दिया। क्विक मोबाइल के जवानों ने मामले में होटल संचालक को हड़काया और उससे तत्काल 4000 ले लिए और बाकी के 10 हज़ार अगले महीने देने पर सहमति बनी।

      पुलिसकर्मियों द्वारा पैसे लेने के बाद होटल संचालक ने इस सारे मामले की जानकारी एसएसपी को दी। इस पर पटना एसएसपी खुद रामकृष्ण नगर थाना और उस होटल में जांच करने पहुंच गए।

      जिसमें हवलदार समेत तीनों पुलिसकर्मी को प्रथम दृष्टया दोषी पाए जाने पर तत्काल गिरफ्तार करने का आदेश दिया गया। जो सोमवार की रात उसी थाने की हाजत में बंद रहे, जहां पिछले कई महीनों से ड्यूटी बजा रहे थे।

      इससे पहले विभाग की टीम ने दीदारगंज थानाध्यक्ष को उनके अंगरक्षक के साथ बालू माफिया से 60 हज़ार घूस लेते गिरफ्तार गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले के बाद पटना पुलिस की काफी फजीहत हुई थी।

      दीदारगंज की इस घटना के बाद एसएसपी ने तमाम थानों को अपनी आदत से बाज आने की कड़ी हिदायत दी थी, लेकिन इसके बावजूद रामकृष्ण नगर थाना के पुलिस कर्मियों पर घूसखोरी का भूत सवार था जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!