अन्य
    Wednesday, June 19, 2024
    अन्य

      पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो को भारी पड़ा पीएलएफआई से आरएसएस की तुलना

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) मानवजीत सिंह ढिल्लो द्वारा फुलवारीशरीफ मामले को लेकर प्रेसवार्ता में आरएसएस की तुलना पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (पीएफआई) से करते हुए एक बयान जारी किया। यह बयान पटना एसएसपी को भारी पड़ गया है। 48 घंटे में पुलिस मुख्यालय ने उनसे जवाब मांगा है।

      भाजपा ने भी इस बयान को लेकर तल्ख तेवर दिखाये हैं। मधुबनी जिले के विस्फी विधानसभा सीट से भाजपा विधायक हरिभूषण ठाकुर बाचोल ने पटना एसएसपी के बयान पर कहा कि पटना के एसएसपी का राष्ट्रवादी संगठन की तुलना आतंकवादी संगठन से करना उनके मानसिक दिवालियापन का प्रतीक है।

      बचोल ने एसएसपी का विरोध जताते हुए कहा कि एसएसपी माफी मांगे। नहीं तो सरकार ऐसे लोगो को बर्खास्त करे। इनकी मानसिक जांच करायी जाय और इन्हें बर्खास्त किया जाय।

      विधायक हरिभूषण ठाकुर ने कहा कि आरएसएस एक राष्ट्रवादी संगठन है जिसकी तुलना पटना एसएसपी ने आतंकवादी संगठन से किया है। उनका मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।आरएसएस एक राष्ट्रवादी संगठन है जो देश प्रेम सिखाता है। देश पर मर मिटने की जज्बा लोगों में पैदा करती है। ऐसा बयान देने वाले अधिकारी को पद पर रहने का कोई अधिकार नहीं है।

      पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो द्वारा पीएफआई की तुलना आरएसएस से करने के बाद बिहार पुलिस बैकफुट पर दिख रही है। भाजपा के तल्ख तेवर के बाद पुलिस मुख्यालय ने सफाई दी।

      एडीजी हेडक्वार्टर जेएस गंगवार ने कहा है कि एसएसपी का बयान गैरजरूरी था। उस बयान की जांच की जाएगी। पटना एसएसपी से इस संबंध में 48 घंटे में जवाब मांगा गया है। पीएफआई और आरएसएस में तुलना करना सही नहीं।

      उन्होंने एसएसपी से शो-कॉज की बात भी कही। नोटिस के माध्यम से एडीजी ने एसएसपी से पूछा, आखिर ऐसा बयान क्यूं दिया?

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!