अन्य
    Sunday, April 14, 2024
    अन्य

      नालंदाः डॉक्टर का कमसीन को ऑफऱ- अकेली आओ, खुश करो, एक करोड़ लो

      एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क डेस्क। वह डॉक्टर के रूप में प्रैक्टिस करता था। शानदार बोर्ड। ठीकठाक क्लिनिक। मगर, नीयत उतनी ही गंदी। अविवाहित लड़की इलाज के लिए आए तो उसे बताता- ‘एक एनजीओ है जो कुंआरी कन्याओं की शादी कराता है और हर शादी पर जीवन यापन के लिए 25 लाख देता है।’

      पहले कितनी झांसे में आईं, अभी यह पता नहीं। लेकिन, एक-एक कर दो बहनों को यह ऑफर मिला तो युवतियों ने डॉक्टर को सबक सिखाने की ठानी। इधर, डॉक्टर को लगा कि युवती झांसे में आ गई तो उसका मन इतना बढ़ गया कि उसने बंपर ऑफर खोल दिया- ‘मेरे और एनजीओ संचालक के पास अकेली आओ, हमें खुश करो तो 1 करोड़ तक देंगे।’ लेकिन, मामला ही उलट गया।

      नूरसराय निवासी नीरज कुमार बिहारशरीफ के जलालपुर मोहल्ला में होम्योपैथिक क्लीनिक चलाता है। उसका साथी रहुई थाना क्षेत्र के वरांदी गांव निवासी चंदन कुमार है। दोनों की गिरफ्तारी के बाद यह खेल खुला।

      युवती ने बताया कि कुछ माह पहले इलाज कराने के लिए नीरज कुमार के क्लिनिक पर गई थी। डॉक्टर ने बताया कि एनजीओ के माध्यम से युवतियों की शादी करवाई जाती है। परिवारिक जीवन व्यतीत करने के लिए सहायता के तौर पर युवती को 25 लाख रुपए भी दिए जाते हैं। उसने इस बात पर ध्यान नहीं दिया। फिर बार-बार उसके मोबाइल पर कॉल कर लालच दिया जाने लगा।

      कुछ दिन पूर्व जब उसकी बहन अपना इलाज कराने पहुंची तो उसे भी इस बात का लालच दिया गया। फिर उसे ऑफर फाइनल करने के लिए बुलाया गया। इस बार ऑफर अलग था- यदि हमारे और एनजीओ के बॉस के साथ हमबिस्तर होगी तो 25 लाख नहीं, बल्कि 1 करोड़ रुपए तक मिलेंगे। अकेले आना पड़ेगा, नहीं तो रुपए नहीं मिलेंगे।

      युवती ने इस बात की जानकारी अपने रिश्तेदारों को दी। डॉक्टर ने उसे रांची रोड स्थित एक अल्ट्रासाउंड सेंटर में मिलने को बुलाया था। वह सेंटर पर पहुंची तो डॉक्टर और उसका एक दोस्त वहां पहले से मौजूद था।

      युवती के साथ गए आए परिजनों ने दोनों को पकड़ कर पुलिस को सूचना दी। लहेरी थाना पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर मामले की पड़ताल में जुटी है। (पी न्यूज)

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!