अन्य
    Thursday, May 30, 2024
    अन्य

      राजधानी पटना के होटल में गर्लफ्रेंड संग शराब पीते धराया बैंककर्मी, सप्लायर के फोन से यूं पहुंची पुलिस

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। बीती रात करीब 10 बजे राजधानी पटना के कुर्जी मखदुमपुर निवासी बैंककर्मी रोहित कुमार और उसकी प्रेमिका मोनिका एक होटल में शराब के जाम छलकाते रंगे हाथ पकड़े गए।

      स्थानीय थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि पटना के एजी कॉलोनी स्थित ओयो होटल के कमरा नंबर 103 में शराब पार्टी चल रही है।

      सूचना पाते ही मौके पर पहुंची पुलिस होटल के कमरे से कुर्जी मखदुमपुर के रहने वाले रोहित कुमार और उसकी प्रेमिका मोनालिजा को गिरफ्तार कर लिया।

      पुलिस के अनुसार बैंककर्मी रोहित ने शराब पी रखी थी। वहीं कमरे में अलग से दो पेग शराब बनाकर रखी गई थी। पुलिस ने वैलेंटाइंस नाम की कीमती शराब की बोतल भी होटल के कमरे से बरामद की है।

      पुलिस ने इस मामले में प्रेमी और उसकी प्रेमिका के अलावा होटल के कर्मचारी नीतीश और मैनेजर दीपक को भी गिरफ्तार कर लिया है। पकड़ा गया रोहित एक बैंक में क्लर्क है।

      वहीं, पीरबहोर थाने की पुलिस शराब की होम डिलीवरी करने वालों के जरिये ग्राहकों तक पहुंची और चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। सभी के पास से तीन शराब की बोतलें, चार मोबाइल 88 सौ रुपये और एक बाइक जब्त की गयी है।

      दरअसल, रविवार को पुलिस ने मखनियां कुआं रोड के पास से राकेश कुमार (आलमगंज पुरानी चौकी) को सूचना पर गिरफ्तार किया। इसी बीच राकेश के मोबाइल पर बार-बार किसी का फोन आने लगा।

      पुलिस ने उसे स्पीकर ऑन कर बात करने को कहा। पता चला कि कॉल करने वाला सप्लायर है जो राकेश को शराब उपलब्ध करवाता था। पुलिस ने राकेश के माध्यम से उसे मखनियां कुआं बुलवाया।

      पीरबहोर थानेदार शबीह उल हक के मुताबिक जैसे ही सप्लायर शुभम कुमार (मछुआटोली) पहुंचा उसे गिरफ्तार कर लिया गया। शुभम की तलाशी पर शराब की एक बोतल, मोबाइल और 71 सौ रुपये मिले।

      पुलिस शुभम से पूछताछ कर ही रही थी कि उसके मोबाइल पर एक ही नंबर से बार-बार कॉल आने लगे। पुलिस ने उसे भी स्पीकर पर बात करने को कहा। बातचीत में कॉल करने वाले ने उससे शराब की डिमांड की।

      पुलिस ने उसे शुभम के जरिये बुलवाया। जैसे ही शराब खरीदने दो लोग बाइक से पहुंचे, सादे लिबास में खड़ी पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। जिसकी पहचान गोपाल जी (लंगरटोली गली) और नंदन कुमार (बैरिया, गोपालपुर) के रूप में हुई। नंदन शराब के नशे पुलिस को मिला।

      फिलहाल, पुलिस ने शराब बेचने वालों के मोबाइल में सेव सभी मोबाइल नंबरों की तफ्तीश शुरू कर दी है। जिन लोगों के नंबर मोबाइल में सेव हैं, उनका सत्यापन किया जा रहा है। पुलिस शराब विक्रेता के मोबाइल पर आये ग्राहकों के कॉल को बड़ा सबूत मान रही है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!