अन्य
    Friday, June 21, 2024
    अन्य

      युवाओं और सेना के हित में नहीं  है ‘अग्निपथ’ योजना, जारी रहेगा विरोध : प्रियंका गांधी

      नई दिल्ली  (इंडिया न्यूज रिपोर्टर)। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रविवार को कहा कि केन्द्र सरकार की सेना में भर्ती से जुड़ी ‘अग्निपथ’ योजना युवाओं और सेना के हित में नहीं है और इस तरह की जनविरोधी सरकार को सत्ता से हटा देना चाहिए।

      कांग्रेस ने ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ युवाओं के समर्थन में रविवार को सत्याग्रह नाम से दिल्ली के जंतर-मंतर में धरना प्रदर्शन किया।

      इस दौरान कांग्रेस नेताओं ने सेना में भर्ती से जुड़ी इस नई योजना को वापस लिए जाने की मांग की। धरना-प्रदर्शन में कांग्रेस सांसदों और पार्टी कार्यसमिति के पदाधिकारियों ने शिरकत की।

      पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी भी प्रदर्शन में भाग लेने जंतर-मंतर पहुंची। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि अग्निपथ योजना देश के युवाओं को मार डालेगी। इस योजना से सेना खत्म हो जाएगी। जनता को चाहिए की लोकतांत्रिक तरीके से वर्तमान की केन्द्र सरकार को गिराए।

      प्रियंका ने कवि हरिवशं राय बच्चन की ‘अग्निपथ’ नामक कविता की कुछ पंक्तियां भी पड़ी।

      उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी देश के युवाओं का दर्द समझ रही है। पार्टी उनके साथ खड़ी है और आह्वान करती है कि लोकतांत्रिक तरीकों से सरकार का विरोध जारी रहे। उन्होंने युवाओं से हिंसा का रास्ता न अपनाने की अपील की।

      धरने के दौरान पार्टी के लोकसभा में नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि अग्निपथ योजना दिशाहीन है और युवाओं को हिंसा की जगह अहिंसा का रास्ते अपनाते हुए इसका विरोध करना चाहिए।

      उन्होंने कहा कि देश को अपनी सेना और उसके जवानों पर गर्व है। वर्तमान सरकार नौजवानों के फौजी बनने के सपने को तोड़ रही है। ऐसे में उनका साथ देना हमारा फर्ज है। ‘अग्निपथ’ योजना युवाओं के सपने को मिट्टी मिला देना वाली है।

      चौधरी ने कहा कि देश वर्तमान में दो फ्रंट पर लड़ाई लड़ रहा है और इस दौरान सरकार का सेना के साथ खिलवाड़ ठीक नहीं है।

      कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा कि सरकार युवाओं के रोजगार से खिलवाड़ कर रही है। अग्निपथ योजना को लाने से पहले सरकार ने सबके साथ विमर्श नहीं किया।

      कांग्रेस नेता दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि योजना के खिलाफ हो रही हिंसा और आगजनी के लिए केन्द्र सरकार जिम्मेदार है। योजना देश की राष्ट्रीय सुरक्षा से भी समझौता करती है।

      पार्टी नेता सचिन पायलट ने कहा कि सरकार योजना को पेंशन बिल घटाने के लिए लाई है और इससे पहले कोई विशेष चर्चा नहीं की गई।

      पार्टी नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि युवाओं को योजना के विरोध में हिंसा नहीं कर चाहिए। कांग्रेस पार्टी उनके साथ है और हम योजना को वापस लिए जाने तक संघर्ष करते रहेंगे।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!