अन्य
    Wednesday, April 17, 2024
    अन्य

      सत्यनारायण पूजा का परसाद खाने के बाद 60 बच्चों समेत 250 बीमार, दर्जनों की हालत नाजुक

      एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। बिहार के मुंगेर जिले के एक गांव में विषाक्त परसाद खाने की वजह से बच्चे-बूढ़े समेत करीब 250 लोग बीमार पड़ गए हैं। जिसमें दर्जनों की हालत गंभीर बताई जाती है। बीमारों में करीब 60 बच्चों के शामिल होने की सूचना मिल रही है।

      250 sick including 60 children after eating the Prasad of Satyanarayan Puja the condition of dozens is critical 2खबर है कि मुंगेर जिले के नक्सल प्रभावित इलाके के बंगलवा पंचायत के कोठवा गांव में गांव के ही निवासी महेश कोड़ा द्वारा दोपहर के 3 बजे उसी के घर पर सत्यनारायण पूजा का आयोजन किया गया था। जिसमें शामिल होने के लिए गांव तथा आसपास के सैकड़ों लोग आये थे।

      उस पूजा के संपन्न होने के बाद लोगों को परसाद का वितरण किया गया। सभी ने पूजा के उपरांत प्राप्त परसाद को ग्रहण कर लिया। परसाद ग्रहण करने वालों में काफी संख्या में बच्चों के आलावे बुजुर्ग भी शामिल थे।

      परसाद ग्रहण करने के पश्चात जब सभी अपने-अपने घर को लौटे तो आधी रात के बाद लोगों के पेट में दर्द होने लगा फिर उन्हें कुछ ही घंटों में दस्त शुरू हो गया।

      चुकि समय रात का था और अस्पताल गांव से कोसों दूर था, इसलिए आनन-फानन में गांव के ही डॉक्टर को बुलाया गया। बीमारों की संख्या बढ़ते-बढ़ते 250 तक चली गयी, जिसमें 60 बच्चे हैं।

      स्थिति बिगड़ता देख लोगों ने पुलिस को इस घटना की जानकारी दी। जानकारी मिलने पर पुलिस गांव में पहुंची तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से चिकित्सकों की टीम भी तीन एम्बुलेंस के साथ कोठवा गांव पहुंची। डॉक्टरों की टीम पूरी मुस्तैदी के साथ पीड़ा और दर्द से कराह रहे लोगों का इलाज कर रही है।

      हालाँकि इस भयावह घटना के मुख्य कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में ही अपना कैंप लगाकर लोगों के लिए हर जरुरी इलाज कर रही है। डॉक्टरों के टीम ने परसाद का सैंपल ले लिया है।

      स्वास्थ्य विभाग ने फिलहाल फ़ूड प्वायजनिंग की आशंका जताई है। सही कारणों का पता तो सैंपल के जांच होने के बाद ही चल पायेगा। फिलहाल इस बड़ी घटना से जिले में हड़कंप मचा हुआ है और हर तरफ इस परसाद वाले प्रकरण की चर्चा हो रही है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!