अन्य
    Friday, June 21, 2024
    अन्य

      हरणी झील में बड़ा हादसा, बच्चों से भरी नाव पलटी, अब तक 14 की मौत, रेस्क्यू जारी

      इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क। गुजरात के वडोदरा जिले में बड़ा नाव हादसा सामने आया है। नाव में बैठकर झील में सैर करने गए बच्चों के वजन की वजह से अचानक नाव पलट गई, जिसके चलते कई बच्चे पानी में डूब गए।

      खबरों के अनुसार फिलहाल 14 बच्चों के मरने की पुष्टि हो चुकी है। घटना के वक्त नाव में 23 बच्चे और टीचर सवार थे। एनडीआरएफ समेत पुलिस- प्रशासन मिलकर झील में डूबे बच्चों और टीचर्स को निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहा है।

      एडवेंचर टूर पर पहुंचे थे हरणी झीलः जानकारी के मुताबिक वडोदरा के न्यू सनराइज स्कूल के बच्चे बुधवार को एडवेंचर टूर पर हरणी झील पर पहुंचे थे। ग्रुप में कुल 27 लोग थे, जिनमें 23 स्टूडेंट्स और 4 टीचर्स थे। वहां पर बच्चे झील की सैर करने के लिए नाव पर सवार हुए।

      आरोप है कि झील में नौका संचालन का ठेका लेने वाले ठेकेदार ने नाव की क्षमता से कहीं ज्यादा 27 बच्चे उसमें बिठा दिए। यही नहीं, भारी लापरवाही करते हुए किसी भी बच्चे को लाइफ जैकेट नहीं पहनाया गया।

      बीच में जाकर डूब गई झीलः इसके बाद नाव जैसे ही झील में पहुंची तो ज्यादा वजन की वजह से डगमगाने लगी। इससे बच्चे घबरा गए और शोर मचाने लगे। इस अफरा-तफरी की वजह से नाव का बैलेंस पूरी तरह बिगड़ गया और वह पलट गई।

      लाइफ जैकेट न होने की वजह से बच्चे और टीचर्स एक-एक करके उसमें डूबने लगे। 7 बच्चों और 3 टीचर्स को बचा लिया गया है। जबकि 10 बच्चे और 1 टीचर अभी भी लापता है। इससे घटना में मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

      पीएम मोदी ने घटना पर जताया दुखः वडोदरा की हरणी झील में हुए इस हादसे पर पीएम मोदी ने गहरा दुख जताया है। पीएम मोदी ने पोस्ट लिखकर कहा, इस दुखदपूर्ण घटना के बारे में जानकर बेहद व्यथित हूं। इस दुख की घड़ी में मेरी सांत्वनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं। मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की उम्मीद करता हूं। स्थानीय प्रशासन सभी जरूरी मदद पहुंचा रहा है। मृतकों के परिजनों को पीएम राष्ट्रीय आपदा राहत कोष से 2 लाख और घायलों के परिजनों को 50 हजार रुपये मुआवजा दिया जा रहा है।

      सीएम भूपेंद्र पटेल ने जताया गहरा दुखः हरणी झील में हुए हादसे पर सीएम भूपेंद्र पटेल ने गहरा दुख जताया है। उन्होंने कहा कि यह घटना अत्यंत हृदय विदारक है। उन्होंने मृत बच्चों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है। साथ ही भगवान से पीड़ित परिवारों को दुख सहने की शक्ति देने की प्रार्थना की है। घटना के बाद से ठेकेदार मौके से लापता बताया जा रहा है। पुलिस टीम बच्चों को निकालने के साथ ही मामले की जांच में भी जुटी है।

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=KahXEq1mf-0[/embedyt]

      जानें पाकिस्तान पर ईरान की एयर स्ट्राइक की पूरी कहानी, कितना बढ़ेगा तनाव?

      राजस्थानः न बालक न वसुन्धरा, जानें कौन हैं नए सीएम भजनलाल

      कोहली, शर्मा और यादव से जुड़े अजब खेल का गजब संयोग

      चार धाम सड़क परियोजना हादसाः अंदर फंसे 36 मजदूरों की लाइफ लाइन बनी पानी आपूर्ति पाइपलाइन

      महाराष्ट्र : क्रेन गिरने से 16 मजदूरों की मौत, 3 जख्मी

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!