अन्य
    Monday, April 15, 2024
    अन्य

      द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने को लेकर गृह मंत्री अमित शाह से मिलेंगे सीएम हेमंत सोरेन

      झामुमो के कुछ नेता जनजातीय समाज की महिला और झारखंड की पूर्व राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू के नाम पर सहमत हैं तो कुछ यशवंत सिन्हा के नाम पर। मीटिंग के बाद पार्टी के नेताओं ने अलग अलग बयान दिया...

      राँची (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)।  झारखंड मुक्ति मोर्चा ने राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए के प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने  के मुद्दे पर शनिवार को बैठक की।

      बैठक के बाद विधायक नलिन सोरेन ने कहा कि पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन इस मुद्दे पर गृह मंत्री अमित शाह से मिलेंगे। पार्टी के कुछ ग्रिवांसेज हैं, इस पर वे गृह मंत्री के पास अपनी बात रखेंगे। उसके बाद ही पार्टी उन्हें समर्थन देने का फैसला लेगी। शनिवार की बैठक में पार्टी किसी नतीजे पर नहीं पहुंची।

      पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन ने राष्ट्रपति चुनाव में समर्थन देने के मुद्दे पर बैठक बुलायी थी। यह बैठक उनके आवास पर हुई। इस बैठक की अध्यक्षता भी उन्होंने ही की। इसमें मुख्यमंत्री सह पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन समेत सारे सांसद और विधायक मौजूद थे।

      बैठक के बाद मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने मीडिया से कहा कि अभी निर्णय नहीं लिया गया है। अभी एक दो बैठकें और होंगी। इसके बाद ही अंतिम फैसला होगा।

      पार्टी महासचिव और केंद्रीय प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि बैठक में सारी परिस्थितियों पर विचार किया गया। बैठक में राज्य की राजनीतिक परिस्थितियों पर भी चर्चा हुई। अभी समय है। फैसला ऐसा लिया जायेगा जो राज्यहित में भी हो और देश हित में भी हो। राष्ट्रपति चुनाव से पूर्व समय रहते पार्टी अपना फैसला ले लेगी।

      यह पूछे जाने पर कि क्या सीएम गृह मंत्री से मिलने जा रहे हैं, इस पर उन्होंने इसे खारिज करते कहा कि कोई किसी से अभी मिलने नहीं जा रहा है।

      उम्मीद की जा रही थी कि आज की बैठक में झामुमो राष्ट्रपति चुनाव के लिये प्रत्याशी के नाम पर सहमति बना लेगा। पर अंततः कोई फैसला वह नहीं ले सका।

      सूत्रों के मुताबिक कुछ नेता जनजातीय समाज की महिला और झारखंड की पूर्व राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू के नाम पर सहमत हैं तो कुछ यशवंत सिन्हा के नाम पर। मीटिंग के बाद पार्टी के नेताओं ने अलग अलग बयान दिया।

      किसी ने सीएम के दिल्ली जाकर इस मसले पर गृह मंत्री से मिलने की बात कही तो किसी ने अभी और भी बैठकें होंने की जानकारी दी।

      सूत्रों के अनुसार झामुमो की बैठक में राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू अथवा विपक्ष की ओर से खड़ा किये गये उम्मीदवार और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा के नाम पर अपना स्टैंड क्लियर किये जाने के बारे में चर्चा हुई।

      द्रौपदी मुर्मू जनजाति समाज से हैं। पहली बार देश में इस समाज से किसी महिला को इतने महत्वपूर्ण पद के लिए प्रत्याशी बनाया गया है। ऐसे में उनके लिए लगातार समर्थन बढ़ रहा है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!