अन्य
    Sunday, February 25, 2024
    अन्य

      पीएमएलए कोर्ट से 6 दिनों की ईडी रिमांड पर छवि रंजन, कल से शुरु होगी पूछताछ

      रांची (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। अरबों करोड़ रुपए के जमीन घोटाले में फंसे आईएएस छवि रंजन की परेशानी और बढ़ गई है। पीएमएलए कोर्ट ने उन्हें 6 दिनों के पुलिस रिमांड पर देने का आदेश जारी कर दिया है।

      ईडी ने कोर्ट से जमीन घोटाला मामले में पूछताछ के लिए 10 दिनों के रिमांड की मांग की थी। रिमांड की अवधि 7 मई से 12 मई तक की होगी।

      रांची के पूर्व डीसी छवि रंजन को पीएमएलए के विशेष न्यायाधीश की कोर्ट में शुक्रवार को पेश किया गया था। कोर्ट ने छवि रंजन को एक दिन के न्यायिक हिरासत में जेल भेजा था।

      कल रविवार को बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा होटवार से छवि रंजन को हिनू स्थित ईडी कार्यालय लाया जाएगा। जहां प्रवर्तन निदेशालय उनसे पूछताछ करेगी।

      इस दौरान मामले में पहले से गिरफ्तार लोगों के साथ आमने-सामने बैठाकर भी सवाल जवाब होंगे। वहीं मामले में कई लोगों के सामने आने की भी खबर है।

      गुरुवार को दूसरी बार पूछताछ के बाद ईडी ने छवि रंजन को गिरफ्तार कर लिया था। शुक्रवार को उनके मेडिकल कराया गया, जहां सारी चीजें सही पाई गईं। उसके बाद उन्हें दोपहर बाद कोर्ट में पेश किया गया। जहां से कोर्ट ने एक दिन के न्यायिक हिरासत में जेल भेजा था।

      सूत्रों के मुताबिक छवि रंजन पूछताछ में ईडी का सहयोग नहीं कर रहे हैं, खुद को निर्दोष बताते रहे, कई सबूत उनके खिलाफ थे। छवि रंजन अपने अधीनस्थ कर्मचारियों पर सारा दोष मढ़ रहे थे। ऐसे में ईडी ने कोर्ट से 10 दिनों की रिमांड की मांग की थी।

      बता दें कि 13 अप्रैल को सेना जमीन फर्जीवाड़े में ईडी ने रांची के पूर्व डीसी छवि रंजन समेत कई लोगों के ठिकानों पर 22 जगहों पर छापेमारी की थी। उसके बाद सीआई, जमीन दलाल समेत 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। जो अभी बिरसा मुंडा जेल होटवार में हैं।

      उपरोक्त सभी लोगों पर पर सेना की जमीन के मूल दस्तावेज में छेड़छाड़ करने, फर्जीवाड़ा करने और फर्जी दस्तावेज के आधार पर होल्डिंग नंबर लेने, फर्जी कब्जा दिखाकर जमीन बेचने जैसे के आरोपों की पुष्टि हो चुकी है।

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      - Advertisment -
      - Advertisment -
      संबंधित खबरें
      - Advertisment -
      error: Content is protected !!