अन्य
    Friday, March 1, 2024
    अन्य

      पटना में डेढ़ करोड़ के लिए हुई थी नालंदा के मुखिया पति की हत्या, 4 आरोपी गिरफ्तार


      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। बिहार की राजधानी पटना में नालंदा जिले के मुखिया पति की हुई हत्या मामले में चार आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अन्य तीन अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

      पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने बताया कि भोला सिंह और मुकेश सिंह के साथ मुखिया पति धीरज सिंह की डेढ़ करोड़ रुपए मामले को लेकर कई दिनों से अदावत चल रही थी। इसी को लेकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया।

      खबरों के मुताबिक राजधानी पटना में लालजी सिंह उर्फ धीरज सिंह हत्याकांड में शामिल कुल चार अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल इस मामले में शामिल अन्य तीन अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी जारी है।

      हत्याकांड के दौरान इन अपराधियों द्वारा उपयोग किए गए हथियारों के साथ-साथ जिंदा कारतूस बरामद कर लिया गया है।

      मुखिया पति हत्याकांड में पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने अहम खुलासा करते हुए बताया कि ये मर्डर डेढ़ करोड़ रुपए के लिए की गई थी।

      पटना एसएसपी ने इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए बताया गया कि इस पूरे हत्याकांड मामले में संलिप्त अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए नगर पुलिस अधीक्षक मध्य के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया।

      तकनीकी अनुसंधान के जरिए इस टीम को यह जानकारी मिली की घटना में शामिल अपराधी बेगूसराय जिले में छिप कर रह रहे हैं। पुलिस टीम को मिली जानकारी के बाद हत्याकांड में शामिल सभी चारों अपराधियों को गिरफ्तार किया गया।

      गिरफ्तार अपराधियों की निशानदेही पर इन सभी के छिपने वाले ठिकानों से दो देसी कट्टा, एक देसी पिस्टल और 10 जिंदा कारतूस को बरामद किया गया।

      गिरफ्तार अपराधियों से गहन पूछताछ के बाद पता चला कि हत्याकांड को अंजाम देने से पहले लालजी सिंह उर्फ धीरज सिंह की गाड़ी लगाने वाली जगह के पास ही किराए का एक कमरा रेकी के लिए लिया गया था। और कई दिनों तक रेकी करने के बाद इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया।

      ‘गिरफ्तार अपराधियों ने बताया कि पंडारक के भोला सिंह और मुकेश सिंह के साथ धीरज सिंह की डेढ़ करोड़ रुपए मामले को लेकर कई दिनों से अदावत चल रही थी। इसके बाद भोला सिंह के द्वारा इस हत्याकांड को अंजाम देने के लिए रघुनाथ सिंह नाम के कुख्यात अपराधी से संपर्क किया गया।

      दरअसल, रघुनाथ सिंह आपराधिक घटना में घायल हो गया था और उसका इलाज भोला सिंह ने करवाया था। इसी एहसान का बदला चुकाने के लिए रघुनाथ सिंह ने अपने अन्य साथियों के साथ इस हत्याकांड को अंजाम दिया।

      रघुनाथ सिंह नाम के कुख्यात अपराधी पर कई हत्याकांड को अंजाम देने का कई थानों में मामले दर्ज हैं। घटना में शामिल अन्य तीन अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी जारी है।’

      गौरतलब है कि राजधानी पटना में बीते 19 सितंबर की सुबह कार सवार व्यक्ति की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। घटना को बदमाशों ने एसके पूरी थाना के महज कुछ कदम दूरी पर स्थित पानी टंकी के समीप अंजाम दिया था। मृतक की पहचान नालंदा निवासी धीरज सिंह के रूप में हुई थी। वह मुखिया का पति था।

      इसी मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया। आरोपियों के पास से 2 देसी कट्टा, 1 देसी पिस्टल, 10 जिंदा कारतूस और 4 मोबाइल मिला था। पुलिस ने चार आरोपियों को पाटलिपुत्र इलाके से गिरफ्तार किया था।

      मिली जानकारी के अनुसार, 19 सितंबर को पटना के एसकेपुरी थाना क्षेत्र में मुखिया पति धीरज सिंह की गोली मारकर हत्या हुई थी। बाइक सवार कुछ अपराधियों ने पानी टंकी के पास कार सवार धीरज सिंह पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी थी।

      घटना के बाद धीरज के वाहन चालक ने उसे गंभीर अवस्था में पटना के पारस अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। इसी मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।

      2 COMMENTS

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      - Advertisment -
      - Advertisment -
      संबंधित खबरें
      - Advertisment -
      error: Content is protected !!