अन्य
    Sunday, July 21, 2024
    अन्य

      जानें इस बार सरकारी स्कूलों में क्यों नहीं मिलेगी गर्मी की छुट्टी

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। बिहार राज्य के सभी सरकारी प्राइमरी मिडिल स्कूलों में गर्मी की छुट्टी में भी प्रतिदिन दो घंटे उन बच्चों की पढ़ाई होगी, जो वार्षिक परीक्षा में फेल होंगे। सरकारी स्कूलों में गर्मी की छुट्टी 15 अप्रैल से 115 मई तक है। हालांकि वार्षिक परीक्षा में फेल करने वाले बच्चों के लिए नियमित कक्षाओं के बाद विशेष कक्षाएं एक अप्रैल से ही लगनी शुरू हो जायेंगी। इसे विशेष दक्ष कक्षा का नाम दिया गया है।

      इससे संबंधित निर्देश प्राथमिक शिक्षा निदेशक मिथिलेश मिश्र द्वारा राज्य के सभी जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारियों को दिये गये हैं। जिसके मुताबिक एक दिसंबर, 2023 से कमजोर छात्रों के लिए ‘मिशन दक्ष’ प्रारंभ किया गया है। इसके तहत 3री कक्षा से 8वीं कक्षा तक के वैसे छात्र जो हिंदी, अंग्रेजी एवं गणित के बुनियादी कौशल में बहुत कमजोर हैं, को चिन्हित कर विद्यालय के ही शिक्षकों द्वारा प्रत्येक कार्यदिवस को विद्यालय में नियमित कक्षा संचालन के उपरांत छोटे-छोटे समूह में अलग से पढ़ाया जा रहा है।

      ‘मिशन दक्ष’ की मार्गदर्शिका के अनुसार अध्ययनरत छात्रों के लिए परीक्षा का आयोजन किये जाने का भी प्रावधान है। इसके अनुसार दक्ष कक्षाओं के लिए चयनित बच्चे, विद्यालय में आयोजित अपनी कक्षा के लिए निर्धारित वार्षिक परीक्षा में शामिल होंगे । वार्षिक परीक्षा में उत्तीर्ण छात्र अगली कक्षा में नामांकित होंगे। उनके लिए एक अप्रैल से 14 मई तक विशेष दक्ष कक्षा संचालित की जायेगी एवं 15 मई को इन बच्चों के लिए विशेष दक्ष परीक्षा होगी।

      ‘मिशन दक्ष’ के तहत अध्ययनरत नामांकित छात्रों की नियमित दक्ष कक्षाओं का संचालन 18 मार्च तक किया गया। 28 मार्च तक विभिन्न कक्षाओं के लिए वार्षिक परीक्षाएं ली गयीं। नियमित वार्षिक परीक्षा मिशन दक्ष के वार्षिक परीक्षा के परिणामों में दक्ष कक्षाओं के लिए चयनित बच्चों के प्रदर्शन की विशेष समीक्षा की जाएगी।

      जिला शिक्षा पदाधिकारियों को दिये गये निर्देश के मुताबिक मिशन दक्ष के लिए चयनित बच्चे, जो वार्षिक मूल्यांकन में अनुत्तीर्ण होंगे एवं जिनके अधिगम प्रतिफल में अपेक्षित सुधार परिलक्षित नहीं होगा, उनके लिए एक अप्रैल से 15 अप्रैल तक नियमित कक्षाओं के बाद विशेष दक्ष कक्षाएं पूर्ववत संचालित की जायेंगी।

      वैसे छात्र, जो शिक्षा का अधिकार (संशोधन) अधिनियम 2019 और इससे संबंधित बिहार सरकार की अधिसूचना संख्या 287 (28 फरवरी, 2019) की परिधि में आते हैं, उनकी भी विशेष कक्षाएं चलेंगी। इनके लिए विशेष परीक्षा का प्रावधान भी शिक्षा का अधिकार अधिनियम की धारा 16 (2) में है।

      इसके मद्देनजर यह तय हुआ है कि ग्रीष्मावकाश (15 अप्रैल से 15 मई) में भी ऐसे बच्चे, जो वार्षिक परीक्षा में अनुत्तीर्ण हुए हैं एवं जिनके अधिगम प्रतिफल में अपेक्षाकृत प्रगति नहीं देखी गयी है, उनके लिए विद्यालय परिसर में दो घंटे के लिए विशेष दक्ष कक्षाएं पूर्वाह्न 10 बजे से अपराह्न 12 बजे तक संचालित की जायेंगी। विशेष कक्षाओं का संचालन संबंधित दक्ष कक्षाओं के लिए टैग शिक्षकों द्वारा ही किया जायेगा।

      इन कक्षाओं का संचालन 5वीं एवं 8वीं कक्षा की वार्षिक परीक्षा के अनुत्तीर्ण छात्र-छात्राओं के लिए आयोजित विशेष शिक्षण के साथ ही किया जायेगा। 15 मई को मिशन दक्ष अंतर्गत संचालित विशेष कक्षाओं में सम्मिलित बच्चों के लिए विशेष परीक्षा आयोजित की जायेगी। उत्तरपुस्तिकाओं की जांच के बाद बच्चों की प्रगति की जानकारी उनके अभिभावकों को दी जायेगी। मिशन दक्ष के नये सत्र की शुरुआत 16 मई से होगी।

      जानें क्यों लगी पीएम मोदी की तस्वीर लगी उर्वरक बैग पर रोक

      पत्रकार दीपक विश्वकर्मा को पत्नी ने ही मरवाई थी गोली, प्रेमी समेत 4 गिरफ्तार

      सम्राट चौधरी का अबतक का सबसे गंदा बयान, जानें क्या कह डाला?

      ईडी ने कोर्ट में अरविंद केजरीवाल को बताया दिल्ली शराब घोटाला का किंगपिन !

      8 अगस्त, 2021 तक डीएलएड कोर्स नहीं करने वाले नियोजित शिक्षकों को हटाने का आदेश

      1 COMMENT

      Comments are closed.

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!