अन्य
    Wednesday, April 17, 2024
    अन्य

      पूर्व आईपीएस ने जदयू विधायक गोपाल मंडल के पुत्र की गिरफ्तारी की मांग की

      पटना (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज़)। जदयू विधायक गोपाल मंडल एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। उनके पुत्र आशीष मंडल उर्फ टिंकू पर आरोप है कि भागलपुर के बरारी में जमीन हथियाने को लेकर चार लोगों को गोली मारकर घायल कर दिया है। पूरे मामले पर गंभीर आरोप लगाते हुए पूर्व आईपीएस अधिकारी ने डीजीपी से विधायक पुत्र की गिरफ्तारी की मांग की है।

      पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ कुमार दास ने डीजीपी से मांग की है कि घटना के एक दिन बाद भी विधायक के बेटे की गिरफ्तारी से पुलिस बच रही है।

      श्री दास ने आरोप लगाया है कि विधायक गोपाल सीएम के काफी करीब है। ऐसे में उनके बेटे को राजनीतिक संरक्षण प्राप्त दिखता है।

      पूर्व आईपीएस ने कहा कि बरारी के मुशहरी टोले के पीड़ितों में दहशत व्याप्त है।जबतक आरोपी विधायक पुत्र की गिरफ्तारी नहीं हो जाती तब तक वहां के लोगों में डर बैठा रहेगा। उन्होंने डीजेपी से शीघ्र आरोपी विधायक पुत्र की गिरफ्तारी की मांग की है।

      सोमवार को भागलपुर जिले के बरारी थाना क्षेत्र में मुसहरी के समीप एक जमीन विवाद को लेकर चली गोली में 4 लोग घायल हो गए थें। मामले में जदयू विधायक गोपाल मंडल के बेटे आशीष उर्फ टिंकू पर गोली चलाने का आरोप लगा है।

      जानकारी के अनुसार` घटना में जमीन के मालिक लाल बहादुर सिंह, उनकी पत्नी माधुरी, उनका बेटा वीर बहादुर और बेटे का दोस्त शरद उर्फ रवि जख्मी हैं। सभी को इलाज के लिए मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शरद उर्फ रवि को मुंह में गोली मारी गई है जिससे वह गंभीर रुप से घायल है। रवि को बेहतर इलाज के लिए सिलीगुड़ी रेफर कर दिया गया है।

      लाल बहादुर सिंह ने घटना को लेकर जदयू के गोपालपुर विधायक गोपाल मंडल के बेटे आशीष उर्फ टिंकू के अलावा दिलीप मंडल, धनंजय यादव व अन्य 20- 25 लोगों पर आरोप लगाया है।

      जख्मी का कहना है कि गोपाल मंडल के एक अन्य बेटे तरुण ने उनके बेटे वीर बहादुर को कॉल कर जमीन से हटने के लिए कहा था। जमीन से नहीं हटने पर मारपीट की बात कही गयी थी।कॉल आने के कुछ ही देर बाद 20-25 लोग उनके प्लॉट पर पहुंचे, फायरिंग की और लाठी डंडे से मारपीट शुरू कर दी।

      जख्मी का आरोप है कि मारपीट करने वालों में विधायक का बेटा आशीष उर्फ टिंकू भी शामिल था।उनका यह भी आरोप है कि विधायक गोपाल मंडल ने खुद और दूसरे के मोबाइल से उनको कॉल कर धमकी भी दी थी कि उस जमीन से हट जाएं।

      उधर जदयू विधायक गोपाल मंडल और उनके पुत्र ने सफाई देते हुए कहा है कि उनका इस मामले में कोई हाथ नहीं है और उन्हें राजनीतिक षड्यंत्र के तहत फंसाया जा रहा है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!