अन्य
    Wednesday, July 24, 2024
    अन्य

      अमित शाह के कान में कुछ कहती पूजा सिंघल की यह फोटो पोस्ट करने पर एफआईआर

      अहमदाबाद (INR डेस्क). मनी लांड्रिंग मामले में गिरफ्तार झारखंड की निलंबित आइएएस अधिकारी पूजा सिंघल के साथ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का पांच साल पुराना फोटो इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट करने और तिरंगा के अपमान को लेकर मुंबई के अविनाश दास पर अहमदाबाद अपराध शाखा ने केस दर्ज किया है।

      FIR for posting photo of Pooja Singhal saying something in Amit Shahs ear 1अहमदाबाद अपराध शाखा के अनुसार, मुंबई के अविनाश दास ने आठ मई 2022 को अपने ट्वीटर अकाउंट पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह व झारखंड की निलंबित आइएएस अफसर पूजा सिंघल का पुराना फोटो अपलोड किया। यह फोटो करीब पांच साल पुराना बताया गया। ऐसा उनकी छवि को धूमिल करने के उद्देश्य से किया गया।

      वहीं, अविनाश ने मार्च 2022 में राष्ट्रध्वज में लिपटी एक अ‌र्द्धनग्न युवती का फोटो फेसबुक व इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया था।

      पुलिस ने इसे राष्ट्रध्वज का अपमान बताते हुए अविनाश के खिलाफ आइपीसी की धारा- 469, आइटी एक्ट की धारा- 67 और राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम 1971 के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

      बता दें कि झारखंड की खनन व उद्योग सचिव पूजा सिंघल को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पूछताछ के बाद गत दिनों गिरफ्तार किया था।

      ईडी ने यह गिरफ्तारी मनरेगा घोटाले में सिंघल की संलिप्तता और मनी लांड्रिंग के तहत की है। सात मई को गिरफ्तार किए गए पूजा सिंघल के चार्टर्ड अकाउंटेंट सुमन सिंह की गिरफ्तारी से एक दिन पहले ईडी की छापेमारी में सुमन के पास से 19.31 करोड़ रुपये नकद बरामद हुए थे, पूजा और उनके पति के ठिकानों पर छापेमारी कर ईडी ने करीब 150 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति और निवेश के कागजात जब्त किए थे।

      झारखंड में खूंटी जिले के 18.06 करोड़ रुपये के मनरेगा घोटाले में मनी लांड्रिंग के तहत जांच कर रही ईडी की टीम को पूजा सिंघल के कार्यकाल के दौरान करोड़ों की हेराफेरी के मामले की जानकारी मिली थी।

      छानबीन में इसकी भी पुष्टि हो चुकी है कि उन्होंने विभिन्न जिलों में उपायुक्त रहने के दौरान 1.43 करोड़ अवैध रुपये अपने और पति के खाते में मंगवाए थे। उन्होंने अपने निजी खाते से चार्टर्ड अकाउंटेंट सुमन सिंह के खाते में 16.57 लाख रुपये स्थानांतरित भी किए थे।

      ईडी सूत्रों के अनुसार, पूजा सिंघल ने 2005-06 व 2012-13 में 13 बीमा पालिसी खरीदी और प्रीमियम के रूप में 80.81 लाख रुपये जमा किए। बाद में बिना परिपक्व हुए ही पालिसी बंद करा 84.64 लाख रुपये निकाल लिए। ईडी को इन रुपयों का हिसाब अभी नहीं मिला है।

      उपहार सिनेमा, दाल मंडी, अब मुंडका अग्निकांड.. क्यों नहीं रुक रहे इस तरह के हादसे?

      तीन मंजिला इमारत में सीसीटीवी कैमरे के गोदाम में लगी आग, 27 की मौत, 12 गंभीर

      हाईकोर्ट ने ताजमहल मामले में याचिकाकर्ता को लगाई कड़ी फटकार, कहा- न करें PIL का दुरुपयोग

      अब देश में दर्ज नहीं होंगे राजद्रोह का केस, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

      ये हैं हिंदुस्तान के टॉप-10 क्रप्ट IAS, जिनके पास निकले अकूत काली संपति

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!