अन्य
    Wednesday, July 24, 2024
    अन्य

      इमरान खान पर हमले के बाद पूरे पाकिस्तान में प्रदर्शन और आगजनी

      “इमरान ने हमले के लिए तीन लोगों को ज़िम्मेदार ठहराया है। इनमें पहला नाम पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री शहबाज़ शरीफ का है, दूसरा नाम पाकिस्तान के गृह मंत्री राना सनाउल्ला का है जबकि तीसरा नाम आर्मी के बड़े अफ़सर मेजर जनरल फैसल का है…

      इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के विरोध मार्च के दौरान गुरुवार को पंजाब प्रांत में उनके कंटेनर-ट्रक पर हमला किया गया। इस घटना में एक शख्स की मौत हो गई, और इमरान के भी पैर में गोली लगी, लेकिन वह खतरे से बाहर हैं।

      इमरान पर हुए इस हमले के बाद पूरे पाकिस्तान में जबरदस्त विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं, नारेबाजी हो रही है। देश के कई शहरों से तोड़फोड़ और आगजनी की भी खबरें सामने आई हैं।Demonstrations and arson across Pakistan after attack on Imran Khan 1

      इमरान पर हमले के बाद पाकिस्तान के शहरों में जमकर नारेबाजी होती रही। प्रदर्शनकारी ‘अल्लाह का कानून है, खून का बदला खून है’, ‘लाठी गोली की सरकार, नहीं चलेगी-नहीं चलेगी’, ‘इमरान तेरे जां निसार, बेशुमार-बेशुमार’ जैसे नारे लगा रहे थे।

      कई इलाकों में इमरान समर्थकों का गुस्सा सब्र का बांध तोड़ चुका है। इस बीच एक जगह तो इमरान समर्थकों ने पाकिस्तानी आर्मी के टैंक पर कब्ज़ा करके उसे तोड़ना शुरू कर दिया। इमरान समर्थकों का गुस्सा देखकर लग रहा है कि अगर उन्हें कुछ हो जाता तो पाकिस्तान में गृह युद्ध भी भड़क सकता था।

      लंदन में भी इमरान समर्थकों ने किया प्रदर्शनः इमरान पर हुए खतरनाक हमले के विरोध में सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं, बल्कि सात समंदर पार ब्रिटेन में भी प्रदर्शन हो रहे हैं। PTI चीफ के समर्थक लंदन में भी अपने नेता के ऊपर हुए हमले के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं।

      पार्टी के कई कार्यकर्ताओं ने लंदन में उस घर के बाहर भी प्रदर्शन किया जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ रहते हैं। इमरान समर्थकों ने नवाज के घर को घेरकर जमकर नारेबाजी की। ऐसे में माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में पाकिस्तान की सियासत में और उबाल आ सकता है।

      पाकिस्तान में बन रहे हैं गृह युद्ध के आसारः अपने ऊपर हुए हमले के बाद इमरान खान के तेवर और सख्त हो गए हैं।

      इमरान ने हमले के लिए तीन लोगों को ज़िम्मेदार ठहराया है। इनमें पहला नाम पाकिस्तान के मौजूदा प्रधानमंत्री शहबाज़ शरीफ का है, दूसरा नाम पाकिस्तान के गृह मंत्री राना सनाउल्ला का है जबकि तीसरा नाम आर्मी के बड़े अफ़सर मेजर जनरल फैसल का है।

      इमरान खान की मांग है कि इन्हें हटाया जाए वर्ना पूरे देश में प्रदर्शन होगा। जाहिर सी बात है कि यदि दोनों पक्ष अपनी-अपनी बात पर अड़ गए तो देश में गृह युद्ध तक की नौबत आ सकती है।

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!