अन्य
    Wednesday, April 17, 2024
    अन्य

      सीएम के नालंदा में जदयू सांसद और सिविल सर्जन के बीच बकझक का वीडियो वायरल

      नालंदा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में स्वास्थ्य व्यवस्था की हालत काफी बदतर हो चुकी है। इसी बीच सत्तारुढ़ जदयू के नालंदा सांसद कौशलेन्द्र कुमार, और सिविल सर्जन डॉ. अविनाश कुमार के बीच बकझक का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

      कहते हैं कि जदयू सांसद ने एक सड़क हादसा के बाद सिविल सर्जन को कई बार फोन लगाया, लेकिन सिविल सर्जन ने फोन नहीं उठाया। इसके बाद उन्होंने बिहारशरीफ सदर अस्पताल पहुंचकर, सिविल सर्जन पर एक सांसद का फोन न उठाने का आरोप लगाया, वहीं सिविल सर्जन उनका कोई फोन आने से इन्कार करते रहे।

      खबरों के अनुसार नूरसराय थाना क्षेत्र अंतर्गत हेगनपुरा गांव के पास एक  टैंकलोरी ने बाइक सवार को टक्कर मार दी। जिससे बाइक सवार गंभीर रुप से जख्मी हो गया। इसी बीच नूरसराय से बिहारशरीफ लौट रहे नालंदा सांसद कौशलेंद्र कुमार की नजर सड़क किनारे जख्मी हालत में पड़े युवक पर पड़ी।

      उसके बाद सासंद अपनी गाड़ी से घायल युवक को अस्पताल ले जाने के लिए उतरे ही थे कि एंबुलेंस आ गयी। जिसके बाद घायल युवक को इलाज के लिए बिहार शरीफ सदर अस्पताल ले जाया गया।

      इसके बाद उस जख्मी युवक के इलाज की समुचित व्यवस्था के लिए सांसद कौशलेंद्र कुमार ने सिविल सर्जन को फोन लगाया, लेकिन उन्होंने उनका फोन नहीं उठाया। और तो और सांसद ने नूरसराय से लेकर बिहारशरीफ पहुंचने के दौरान सिविल सर्जन कई बार मोबाइल लगाया। लेकिन उन्होंने सांसद का फोन रिसीव नहीं किया।

      फिर क्या था। नालंदा सांसद भी एम्बुलेंस के पिछे-पिछे बिहारशरीफ सदर अस्पताल पहुंच गये। तब सूचना पाकर सिविल सर्जन भी वहां पहुंचे। सिविल सर्जन को देखते ही सांसद झल्ला उठे कि आपके जैसा सिविल सर्जन रहेगा तो कोई काम नहीं होगा। कई बार फोन किया लोकिन एक बार भी नहीं उठाए। उधर सिविल सर्जन फोन आने से इंकार करते रहे। दोनों के बीच काफी देर तक बहस होती रही।

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=i4SISQsM80w[/embedyt]

      बहुमत की रात : सीएम नीतीश के लिए भारी, फ्लोर टेस्ट में तय होगा 19 साल का सफर

      गांव से चल रही हमारी सरकार, दरवाजा पर मिल रहा योजनाओं का लाभ : चम्पाई सोरेन

      JSSC CGL प्रश्न पत्र लीक मामले की जांच के लिए पुनः एसआईटी का गठन

      नालंदाः छात्रा की मौत पर बवाल, बस में लगाई आग, चालक को जमकर पीटा

      सीएम हेमंत सोरेन की शिकायत पर ईडी अफसरों पर एससी-एसटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज

      1 COMMENT

      Comments are closed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!