अन्य
    Wednesday, July 24, 2024
    अन्य

      1710 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन सुल्तानगंज पुल धाराशाही को लेकर IAS अफसर के जवाब पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी हैरान

      ‘मैं यह समझ नहीं पा रहा हूं कि हवा और धुंध के कारण पुल कैसे गिर सकता है? जरूर कुछ गलती हुई होगी, जिससे यह पुल गिरा .........’ केंद्रीय सड़क-परिवहन मंत्री नितिन गडकरी

      इंडिया न्यूज रिपोर्टर डेस्क। बिहार में सुल्तानगंज से अगुआनी घाट पर बन रहे पुल के गिर जाने की चर्चा हो रही है। यह पुल को एक हजार करोड़ से भी ज्यादा लागत से तैयार किया जा रहा था, लेकिन पूरा बनने से पहले ही टूटकर गिर गया।

      Union Minister Nitin Gadkari surprised by IAS officers response to Sultanganj bridge under construction at a cost of 1710 crores1इस पर केंद्रीय सड़क-परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने पुल गिरने की वजह जाननी चाही, तो उनके सचिव (आईएएस अधिकारी) ने जो बात कही, उसे सुनकर गडकरी हैरान रह गए।

      आईएएस अधिकारी ने गडकरी को निर्माणाधीन पुल के गिरने की वजह तेज आंधी बताई। आईएएस अधिकारी बोला कि, सर सुल्तानगंज में गंगा नदी पर बन रहा ​पुल आंधी की वजह से गिरा है।

      ये सुनकर मंत्री गडकरी ने क​हा कि, ‘आप आईएएस होकर भी ऐसी बात कर रहे हैं। कोई इस तरह के स्पष्टीकरण पर विश्वास कैसे कर सकता है?

      मंत्री आगे बोले कि, पुल गिरने की वजहें कुछ गलतियां होंगी। जैसे कि उसे ठीक से न बनाया जाना।’

      मालूम हो कि सुल्तानगंज में गंगा नदी पर बन रहे विशाल पुल का एक हिस्सा पिछले महीने 29 अप्रैल को ढह गया था।

      हालांकि, उस हादसे में किसी के हताहत होने की खबर नहीं आई। इस पुल के गिरने की चर्चा चहुंओर होने लगी, क्यों​कि यह प्रोजेक्ट तकरीबन 1710 करोड़ रुपए का है।

      इसका निर्माण 2014 में शुरू हुआ था और यह 2019 में ही पूरा होना था, लेकिन अभी भी यह पूरा नहीं हो पाया है।मंत्री गडकरी इसी की बात कर रहे थे।

      गडकरी ने कहा, ‘जो पुल गिरा, उसके बारे में सेक्रेटरी ने मुझे बताया कि सर तेज हवा और धुंध के कारण ऐसा हुआ। यह बात मेरे गले नहीं उतरी।’

      गडकरी बोले कि ‘मैं यह समझ नहीं पा रहा हूं कि हवा और धुंध के कारण पुल कैसे गिर सकता है? जरूर कुछ गलती हुई होगी, जिससे यह पुल गिरा।’

      ये हैं हिंदुस्तान के टॉप-10 क्रप्ट IAS, जिनके पास निकले अकूत काली संपति

      ताजमहल के बंद 22 कमरों को खुलवाने को लेकर हाई कोर्ट में जांच याचिका दाखिल, हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियां होने का दावा

      क्या समाप्त होगा औपनिवेशिक काल में बनाया गया राजद्रोह कानून!

      2 मंजिला इमारत में आग लगने से 7 लोगों की जलकर मौत, 8 झुलसे

      अब यूं ‘हाईटेक रिस्टबैंड’ के साथ होगी चारधाम यात्रा, जानें खासियत

       

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!