अन्य
    Monday, July 22, 2024
    अन्य

      विश्व कीर्तिमान बना रहे बिहार के चोरः अब सुरंग बना रेल इंजन चुराया, बरौनी से मुजफ्फरपुर ले जाकर बेच दिया

      एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क डेस्क।  बिहार में आपने पुल, रेल इंजन चोरी होने की वारदातों के बारे में पहले भी पढ़ा होगा लेकिन ये वारदात उन सबसे काफी अलग और दुस्साहसिक है। इस बार चोरों ने चोरी के लिए बरौनी से मुजफ्फरपुर तक सुरंग ही खोद डाली। इस कांड के बारे में जानकर एक बारगी पुलिस भी हिल गई।

      इसी कड़ी में पुलिस ने कहा कि लुटेरों के गिरोह बिहार में डीजल और पुराने ट्रेन के इंजनों को उड़ाने और स्टील के पुलों को चुरा रहे हैं। इस वजह से पुलिस की रातों की नींद हो गई है। पिछले हफ्ते तो बरौनी के गरहारा यार्ड में मरम्मत के लिए लाए गए ट्रेन के पूरे डीजल इंजन को एक गिरोह ने चुरा लिया।

      स्टेशन तक सुरंगा बना रेल इंजन ले उड़े चोरः इसके बारे में पहली जानकारी तब मिली जब पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया। इनसे पूछताछ में मिली जानकारी के बाद पुलिस ने मुजफ्फरपुर की प्रभात कॉलोनी स्थित एक कबाड़ के गोदाम से इंजन के पुर्जों की 13 बोरियां बरामद कीं।

      एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा ‘अधिक हैरान करने वाली बात यह थी कि हमने यार्ड के पास एक सुरंग का पता लगाया, जिसके माध्यम से चोर आते थे और इंजन के पुर्जों को चुरा लेते थे और उन्हें बोरियों में भरकर ले जाते थे, रेलवे अधिकारी इसके बारे में जानते भी नहीं थे।’

      इससे पहले पूर्णिया में हुई थी रेल इंजन की चोरीः इसे पहले पूर्णिया में तो ठगों ने भाप वाले एक पूरे विंटेज इंजन को बेच दिया था। हद देखिए कि वो इंजन सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए स्थानीय रेलवे स्टेशन पर रखा गया था।

      जांच के दौरान, पुलिस ने पाया कि इसमें रेलवे के एक इंजीनियर की भी मिली भगत थी। ऐसा ही एक और मामला हाल में सामने आया था जब एक दूसरे गिरोह ने बिहार के अररिया जिले में सीताधार नदी पर एक लोहे के पुल का ताला खोल दिया। इसके बाद तो पुलिस को प्राथमिकी दर्ज करने और उसकी सुरक्षा के लिए एक कांस्टेबल तैनात करने के लिए मजबूर होना पड़ा।

      अररिया में भी पुल के पुर्जे गायबः इस दौरान फॉरबिसगंज को रानीगंज से जोड़ने वाले पलटनिया पुल से लोहे के कुछ एंगल और पुल के अन्य महत्वपूर्ण हिस्सों की चोरी का भी पता चला।

      फॉरबिसगंज थाना प्रभारी निर्मल कुमार यादवेंदु ने बताया कि ‘हमने पुल की सुरक्षा के लिए एक कांस्टेबल तैनात किया है, ताकि यह सुरक्षित रहे। हमने लोहे के पुल के कुछ हिस्सों को चुराने के लिए अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है और जांच जारी है।’  (इनपुटः नभाटा)

       

      3 COMMENTS

      Comments are closed.

      संबंधित खबर
      error: Content is protected !!