अन्य
    Saturday, May 25, 2024
    अन्य

      डीएसपी द्वारा यौन शोषण का मामला पहुंचा सीएम जनता दरबार, पीड़िता ने डीजीपी पर लगाए गंभीर आरोप

      एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार की राजधानी पटना एसटीएफ के डीएसपी अमन कुमार के ऊपर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली युवती आज सीएम नीतीश कुमार के जनता दरबार कार्यक्रम में पहुंच और आपबीती सुनाते हुए कहा कि वह 5 महीनों से इंसाफ के लिए दर-दर भटक रही है, आरोपी डीएसपी के ऊपर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

      युवती ने सीएम से कहा कि वह बीते शुक्रवार को बिहार के डीजीपी एसके सिंघल के सामने भी अपनी फरियाद लेकर पहुंची थी। लेकिन डीजीपी ने तो हद ही कर डाला।

      डीजीपी ने यहाँ तक कह दिया कि लड़कियां पहले अपनी अदाओं से लड़कों को फंसाती हैं और फिर बाद में उनके ऊपर आरोप लगाती हैं। पीड़िता की शिकायत सुनते ही सीएम ने उसे पुलिस महानिदेशक के पास भेज दिया।

      हैरानी की बात है कि जिस डीजीपी की शिकायत लेकर पीड़िता सीएम के पास पहुंची। सीएम ने उस पीड़िता को उसी डीजीपी के पास भेज दिया, जिसके ऊपर उसने अभद्र बातें और लड़कियों को लेकर गलत टिप्पणी करने को लेकर आरोप लगाया।

      पीड़िता लॉ की छात्रा है। उसका आरोप है कि उसकी शादी एक युवक से तय हुई थी, पर उसने शादी से इनकार कर दिया था। उस युवक पर रेप का केस दर्ज कराया, पर पुलिस ने कुछ नहीं किया। इसी सिलसिले में न्याय के लिए पुलिस मुख्यालय आती-जाती थी।

      इसी दौरान डीएसपी से उसकी मुलाकात हुई। डीएसपी ने उस केस में मदद करने और एक अफसर से भेंट कराने का भरोसा देकर मोबाइल नंबर ले लिया और फिर बातचीत होने लगी। वे वाट्सएप पर अश्लील मैसेज भेजने लगे।

      इधर डीएसपी की पत्नी का कहना है कि छात्रा उसके पति को प्रताड़ित और ब्लैकमेल कर रही है। उस पर कोर्ट में पहले से ही मुकदमा दर्ज कराया गया है।

      पत्नी का दावा है कि वह पति का मोबाइल लेकर उस पर मैसेज कर देती थी। महिला हेल्पलाइन में भी शिकायत की गई थी। पति को ब्लैकमेल कर रकम मांगती है। रकम देने से जब उसके पति ने इनकार किया तो वह रेप का आरोप लगाने लगी।

       

      1 COMMENT

      Comments are closed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!