अन्य
    Monday, April 15, 2024
    अन्य

      जमशेदपुरः चर्चित रंजित सरदार हत्याकांड का पुलिस ने किया यूं खुलासा

      “विगत 3 अक्टूबर को टेल्को सबुज कल्याण संघ के बाहर जेल से छूटे अपराधी रंजित सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी…

      जमशेदपुर (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। जमशेदपुर के टेल्को थाना अंतर्गत सबुज कल्याण संघ के पास अपराधी रंजित सिंह उर्फ रंजीत सरदार की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने दो अपराधियों को गिरफ्तार किया है।

      गिरफ्तार किए गए अपराधियों में उलीडीह निवासी राहुल कुमार गुप्ता उर्फ शोले और अनिल कुमार शामिल है। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त हथियार के अलावा एक जिंदा गोली और पांच खोखा बरामद किया है।

      जानकारी देते हुए एसएसपी प्रभात कुमार ने बताया कि घटना को अंजाम देने के लिए शोले और उसके अन्य साथी मौजूद थे। शोले को उलीडीह थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है।

      वहीं गिरफ्तार अनिल कुमार घटना में मौजूद अपराधियों को संरक्षण देने का आरोपी है। हत्या करने में आदित्यपुर का राजा सिंह, छब्बो और शोले के अलावा एक अन्य शामिल है, जिसकी पहचान पुलिस कर रही है। अनिल को जेल भेजा जा रहा है, जबकि शोले का पैर टूटने के कारण उसका इलाज एमजीएम के कैदी वार्ड में चल रहा है।

      एसएसपी ने बताया कि जेल में रहने के दौरान रंजित और छब्बो के बीच अक्सर विवाद होता रहता था। इसी मामले को लेकर राहुल गुप्ता उर्फ शोले, राजा सिंह और छब्बो ने हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद छब्बो और राहुल हुरलूंग होते हुए गालूडीह की ओर भाग गए थे। जबकि राजा और उसका साथी मरीन ड्राइव होते हुए आदित्यपुर स्थित अनिल कुमार के घर गया जहां वे लोग रात भर रुके और वहां से फरार हो गए।

      उन्होंने बताया कि अनिल द्वारा अपराधियों को संरक्षण दिया गया था। इस घटना में चार से ज्यादा अपराधियों के शामिल होने की आशंका है। हालांकि, सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार राजा सिंह और मृतक रंजित की पत्नी के बीच फोन पर अक्सर बात हुआ करती थी।

      घटना के दिन भी दोनो के बीच बात हुई थी। वहीं घटना से थोड़ी देर पहले भी राजा सिंह और रंजित की बेटी तरनजीत के बीच बात हुई थी। घटना से कुछ दिनों पूर्व रंजित ने अपनी पत्नी और बेटी पर किसी बात को लेकर हाथ भी उठाया था। जिसकी जानकारी राजा सिंह को थी। संभवतः इन्ही कारणों से भी रंजित की हत्या की गई हो। हालांकि, पुलिस इस बिंदु पर भी जांच कर रही है।

      इस घटना के बाद मृतक रंजित सिंह की बेटी तरनजीत कौर के बयान पर गणेश सिंह और अन्य पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!